वीरता पुरस्कार विजेताओं को योगी ने किया सम्मानित - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शनिवार, 13 अगस्त 2022

वीरता पुरस्कार विजेताओं को योगी ने किया सम्मानित

yogi-honored-gallantry-award-winners
लखनऊ, 13 अगस्त, आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आयोजित स्वतंत्रता दिवस सप्ताह के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सेना की सूर्य कमान के युद्ध स्मारक स्मृतिका पर शनिवार को पुष्पांजलि अर्पित कर वीर सैनिकों के अदम्य साहस और सर्वोच्च बलिदान को श्रद्धांजलि अर्पित की। सेना की ओर से जारी बयान के अनुसार याेगी ने इस अवसर पर आयोजित भव्य सम्मान समारोह में वीरता पुरस्कार के लिये चुने गये 16 शूरवीरों काे सम्मानित किया। उन्होंने स्मृतिका की पवित्र दीवार पर भी पुष्पांजलि अर्पित की, जिस पर राष्ट्र के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले शहीदों के नाम अंकित हैं। योगी ने लखनऊ छावनी स्थित सूर्या प्रेक्षागृह में अायोजित सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि देश की आजादी के 75 साल पूरे होने पर हर नागरिक देशभक्ति के जोश और राष्ट्रवाद की भावना से ओतप्रोत है। उन्होंने कहा कि राष्ट्र के प्रति सैनिकों की प्रतिबद्धता, उन स्वतंत्रता सेनानियों की भावनाओं के समान है जिन्होंने भारत की आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी। उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव से जुड़कर हर भारतीय गौरवांवित महसूस कर रहा है। मुख्यमंत्री ने एक नए भारत के उदय की सराहना की, जो अब दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है और विश्व मंच पर अपना स्थान बना चुका है। उन्होंने कहा कि रक्षा के क्षेत्र में भारत, आत्मानिर्भरता के लक्ष्य की ओर अग्रसर है। योगी ने प्राकृतिक आपदाओं के दौरान सशस्त्र बलों के राहत कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि इस भूमिका ने सशस्त्र बलों के प्रति आम नागरिक के मन में सम्मान पैदा हुआ है। इस दौरान योगी ने उन सभी 16 पुरुष एवं महिला सैनिकों से भी मुलाकात की जिन्हें वीरता पुरस्कार से नवाजा गया। उन्होंने इन सैनिकों के त्याग और राष्ट्र की सेवा के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर सूर्य कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ लेफ्टिनेंट जनरल योगेंद्र डिमरी, उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, सशस्त्र बलों और नागरिक प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी एवं सशस्त्र बलों के अधिकारियों, जवानों और पूर्व सैनिकों के परिवार भी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं: