रैली में 17 वक्ताओं ने किया मोदी सरकार पर प्रहार - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 4 सितंबर 2022

रैली में 17 वक्ताओं ने किया मोदी सरकार पर प्रहार

नयी दिल्ली, 04 सितंबर, कांग्रेस की भ्रष्टाचार और महंगाई के खिलाफ ‘हल्ला बोल रैली’ में पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सहित 17 नेताओं ने सभा को संबोधित किया और सभी ने श्री गांधी के नेतृत्व की तरीफ करते हुए मोदी सरकार पर तीखे प्रहार किये। कांग्रेस की रविवार को यहां रामलीला मैदान में आयोजित ‘हल्ला बोल रैली’ में देश के विभिन्न हिस्सों से बड़ी संख्या में शामिल हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं को श्री गांधी साहित 17 वक्ताओं ने संबोधित किया। रैली स्थल पर लोग दस बजे से पहले पहुंच गये थे जबकि श्री गाधी एक बजे के करीब रैली स्थल पर पहुंचे। रैली को सबसे पहले असम से युवा सांसद गौरव गोगोई ने संबोधित किया और कहा कि सिर्फ एक नेता यानी श्री राहुल गांधी ही देश के लिए लड़ रहा है। रैली में आये लोगों की भीड़ साबित करती है कि सरकार के खिलाफ कांग्रेस का यह आंदोलन अब रुकने वाला नहीं है। कांग्रेस महासचिव तारिक अनवर ने कहा कि मोदी सरकार समाज को बांटने का काम कर रही है और इस रैली के माध्यम से सरकार को कड़ा संदेश जाएगा। अशोक चह्वाण ने कहा कि सरकार गरीबों को महंगाई से मार रही है और देश के गरीब की आवाज केंद्र सरकार तक पहुंचाने के लिए यह रैली आयोजित की गई है। राजस्थान से कांग्रेस के युवा नेता सचिन पायलट ने कहा कि इस सरकार ने महंगाई जबरदस्त बढाकर जनता पर जो प्रहार किया है उसको लेकर सरकार को अब जगा कर ही रहेंगे। मुकुल वासनिक ने कहा कि मोदी सरकार ने देश की जनता के साथ जो खिलवाल किया है उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस रैली के माध्यम से सरकार के खिलाफ जंग की शुरुआत हो गई है। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद का नाम लिये बिना पार्टी से उनके इस्तीफे पर कहा कि कांग्रेस एक दरिया है और इसमें लोग आते जाते रहते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता जनता से जुडे हैँ और यही वजह है कि श्री गांधी ने देश की जनता से जुड़ने और भारत को जोड़ने के लिए भारत जोड़ो रैली का आयोजन किया है।

कोई टिप्पणी नहीं: