प्रतापगढ़ : जिला चिकित्सालय आकस्मिक निरीक्षण - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 7 सितंबर 2022

प्रतापगढ़ : जिला चिकित्सालय आकस्मिक निरीक्षण

  • साफ-सफाई और व्यवस्थाओं में सुधार के दिये निर्देश

Inspection-Hospital
प्रतापगढ़/07 सितम्बर,  राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला चिकित्सालय प्रतापगढ़ के लेबर रूम तथा वार्ड का निरीक्षण जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव महोदय (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) शिवप्रसाद तम्बोली द्वारा किया गया।  सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, प्रतापगढ़ के निरीक्षण के दौरान लेबर रूम के बाहर कोई सुरक्षा गार्ड/चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी लेबर रूम के द्वारा पर नहीं पाया गया जिसके संबंध में उपस्थित मेडिकल स्टॉफ को यह निर्देश प्रदान किये गए कि लेबर रूम में पुरूषों की उपस्थित वर्जित ऐसी स्थिति में अनावश्यक प्रवेश को रोकने के लिए लेबर रूम के बाहर ही गार्ड अथवा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को गेट पर बैठने हेतु पाबंद किया जाए।  बी.पी.एल. कार्ड धारक प्रसुताओं की प्रथम डिलीवरी पर 05 लीटर घी दिये जाने के प्रावधान की जानकारी दिये जाने के संबंध में कोई होर्डिंग या बैनर निरीक्षण के दौरान चिकित्सालय में लगा हुआ नहीं पाया गया जिसे तुरंत लगाए जाने के निर्देश प्रदान किये गए। उपस्थित स्टॉफ द्वारा यह जानकारी दी गई कि प्रसुताओं को दिये जाने वाले घी के लिए स्टॉल जिला चिकित्सालय से कुछ दूरी पर लगाई गई है जिसे जिला चिकित्सालय में ही लगाए जाने के निर्देश प्रदान किये गए। निरीक्षण के दौरान यह भी निर्देश किये गए कि डिलीवरी के समय लेबर रूम में दाई या आशा सहयोगिनियों को भी प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाए और डिलीवरी को समस्त कार्य नर्सिंग स्टॉफ द्वारा ही करवाया जाए। निरीक्षण के दौरान वार्ड के अन्दर स्थित टॉयलेट में व वार्ड के बाहर काफी मात्रा में गंदगी पाई गई जिसे तुरंत साफ करवाए जाने के निर्देश प्रदान किये गए। 

कोई टिप्पणी नहीं: