भारत को दुनिया का नंबर-1 देश बनाएंगे : केजरीवाल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 6 सितंबर 2022

भारत को दुनिया का नंबर-1 देश बनाएंगे : केजरीवाल

will-make-india-number-1-country-in-the-world-kejriwal
नयी दिल्ली, 06 सितंबर, आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि देश के 130 करोड़ लोगों को साथ लेकर भारत को दुनिया का नंबर-1 देश बनाएंगे और वह इसके लिए वह बुधवार को हरियाणा के हिसार से मेक इंडिया नंबर-1 कैंपेन की शुरूआत करेंगे। श्री केजरीवाल ने आज संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अभी कुछ दिन पहले हमने एक कैंपेन मेक इंडिया नंबर-1 शुरू किया था। देश के 130 करोड़ लोगों का सपना है कि भारत दुनिया का नंबर वन देश बने। लोगों का प्रश्न है कि हमें आजाद हुए 75 साल हो गए, फिर भी भारत पिछड़ा क्यों रह गया? इस दौरान कितने देश हमसे आगे निकल गए। आज जब दुनिया में कहा जाता है कि भारत एक गरीब और पिछड़ा देश है, तो बहुत तकलीफ होती है। देश के 130 करोड़ लोगों का सपना है कि भारत दुनिया का नंबर वन, विकसित, अमीर, सर्वश्रेष्ठऔर शक्तिशाली देश बने। पिछले 75 साल में इन्हीं नेताओं और इन्हीं पार्टियों की वजह से भारत पिछड़ा रह गया। देश के 130 करोड़ लोगों को एक टीम और एक परिवार की तरह मिलकर मेहनत करनी पड़ेगी। अगर देश के 130 करोड़ लोग मिल जाएं, तो भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाने से कोई नहीं रोक सकता है। उन्होंने कहा “ सबसे पहले मैं इस अभियान की शुरूआत अपने जन्म स्थान हरियाणा से करने जा रहा हूं। मैं हरियाणा में स्थित हिसार के शिवानी में पैदा हुआ था। वहां से एक-एक करके सभी राज्यों में जाउंगा और लोगों को जोड़ेंगे। मेक इंडिया नंबर-1 कैंपेन से जो भी लोग जुड़ना चाहते हैं, वे इस नंबर 9510001000 पर मिस्ड कॉल करके हमारे साथ जुड़ सकते हैं।” ‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा कि भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाने के लिए आवश्यक शर्त यह है कि हमारे देश के हर बच्चे को अच्छी से अच्छी, शानदार और फर्स्ट क्लास की शिक्षा मिलनी चाहिए। जैसे ही देश आजाद हुआ था, हमें सबसे पहला काम गांव-गांव के अंदर शानदार सरकारी स्कूल बनाने चाहिए थे। अगर उस समय यह काम कर जाते, तो आज भारत के लोग शिक्षित होते। उन्होंने कहा कि कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एलान किया कि देश भर में 14500 सरकारी स्कूलों को अच्छा व मॉडर्न बनाया जाएगा। यह बहुत अच्छी बात है। लेकिन महज 14500 स्कूलों को अच्छा करने से क्या होगा? देश भर में 10.50 लाख सरकारी स्कूल हैं। अगर 14500 स्कूलों को एक साल में अच्छा करेंगे, तो 10.50 लाख सरकारी स्कूलों को अच्छा करने में 70-80 साल लग जाएंगे। इतना समय तो नहीं है। वैसे ही हमारे 75 साल खराब हो गए हैं। उन्होंने कहा “ मेरी प्रधानमंत्री जी और केंद्र सरकार से अपील है कि सभी राज्य सरकारों के साथ मिलकर प्लान बनाया जाए और देश भर में स्थित 10.50 लाख सरकारी स्कूलों को एक साथ मॉडर्न और अच्छी गुणवत्ता का बनाया जाए।”

कोई टिप्पणी नहीं: