मधुबनी : राष्ट्र निर्माण के साथ-साथ सामाजिक कुरीतियों को मिटाने में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण : डीएम - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 16 नवंबर 2022

मधुबनी : राष्ट्र निर्माण के साथ-साथ सामाजिक कुरीतियों को मिटाने में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण : डीएम

  • राष्ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर सूचना एवम जनसंपर्क विभाग के तत्वाधान में प्रेस क्लब मधुबनी के संवाद कक्ष में परिचर्चा का हुआ आयोजन
  • डीएम अरविन्द कुमार वर्मा,डीडीसी विशाल राज सहित सभी मीडिया प्रतिनिधयों ने लिया भाग।
  • प्रेस एवम प्रशासन मिलकर नशा पर करेगा संयुक्त  प्रहार, डीएम के नेतृत्व में सभी ने नशा के नाश के लिए लिया गया शपथ।
  • इस अवसर पर केक काटकर सभी ने उत्सव के वातावरण में मनाई प्रेस दिवस। वरिष्ठ पत्रकार चंद्रशेखर झा आजाद को डीएम ने किया सम्मानित।

Press-day-celebration-madhubani
मधुबनी, सूचना एवम जनसम्पर्क विभाग ,मधुबनी  के तत्वाधान में प्रेस क्लब  मधुबनी के संवाद कक्ष  में प्रेस दिवस पर परिचर्चा का आयोजन किया गया,जिसका उद्घाटन डीएम अरविन्द कुमार वर्मा,डीडीसी विशाल राज , डीपीआरओ परिमल कुमार एवम वरीय प्रेस  प्रतिनिधियों ने संयुक्त रूप दीप प्रज्वलित करके  किया।  इसके पूर्व डीएम-एसपी सहित सभी अतिथियों का स्वागत उन्हें गुलाब का फूल एवम उनके मष्तक पर तिलक लगाकर किया गया। डीपीआरओ परिमल कुमार ने आगत अतिथियों का स्वागत करते हुए परिचर्चा के विषय एवम प्रेस दिवस को लेकर संक्षिप्त जानकारी दिया। जिलाधिकारी ने अपने संबोधन में कहा कि मीडिया लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के रूप में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर रहा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय प्रेस दिवस प्रेस की स्वतंत्रता के साथ-साथ प्रेस की जिम्मेदारियों की ओर भी हमारा ध्यान आकृष्ट करता है। उन्होंने कहा कि किसी भी अभियान को जन आंदोलन का रूप देने में मीडिया की काफी महत्वपूर्ण भूमिका है आज निष्पक्षता की जवाबदेही मीडिया के समक्ष सबसे बड़ी जवाबदेही है। सोशल मीडिया के कारण आज अनेक प्रकार की चुनौतियां भी है फिर भी लोगों का विश्वास आज भी मीडिया के प्रति बहुत ही ज्यादा है । उन्होंने कहा कि राष्ट्र निर्माण के साथ साथ सामाजिक कुरीतियों एवम बुराइयों को मिटाने में भी मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि भारत  के राष्ट्रीय चरित्र को गढ़ने में मीडिया ने अमूल्य योगदान दिया है। आजादी से पूर्व यह पत्रकारिता ही थी, जिसने भारत के जन मानस को अपने अधिकारों के लिए उद्वेलित किया और एक सूत्र में पिरोया। इसका प्रतिफल यह हुआ कि बड़े जनमानस ने स्वतंत्रता आंदोलन में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। आजादी के बाद एक लोकतांत्रिक राष्ट्र के रूप में हमारी अस्मिता को प्रखर स्वरूप प्रदान करने का काम भी पत्रकार बधुओं ने अनवरत जारी रखा। उन्होंने मीडिया को कार्यपालिका, विधायिका और न्यायपालिका के बाद लोकतंत्र के चतुर्थ स्तंभ के रूप में चिन्हित किए जाने के कार्य को सही ठहराया। 


Press-day-celebration-madhubani
उन्होंने कहा कि आज सभी राष्ट्रीय ज्वलंत मुद्दों को जन जन तक पंहुचाने और जनमानस की राय कायम करने में मीडिया की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने ओपिनियन फॉर्मेशन में मीडिया की भूमिका को रेखांकित किया और मीडिया की ताकत को सराहा।जिलाधिकारी ने अपने संबोधन में मीडिया कर्मियों से निष्पक्ष और सटीक पत्रकारिता की अपील भी की। उन्होंने कहा कि सूचना विस्फोट के इस दौड़ में प्रायः मीडिया हाउस में खबर को पहले पहल सामने लाने की चुनौती होती है। इस प्रतियोगी माहौल में कई बार तथ्यात्मक भूल की आशंका बनी रहती है। उन्होंने इसके लिए स्व मूल्यांकन या सेल्फ रेगुलेशन को सबसे कारगर उपाय बताया। उन्होंने कहा कि सतर्कता जरूरी है ताकि, आधारहीन खबरों से बचा जा सके। खबरों की विश्वसनीयता अत्यंत आवश्यक है। जल्दबाजी में तथ्यात्मक भूल आधारित पत्रकारिता से त्वरित लोकप्रियता तो हासिल की जा सकती है, परंतु जो गंभीर और सजग पत्रकारिता करते हैं, उन्हें सदा के लिए याद रखा जाता है।  उन्होंने उपस्थित सभी मीडिया प्रतिनिधियों एवम अधिकारियों  को शराब न पीने एवम दुसरो को भी शराब नही पीने के लिए प्रेरित करने की शपथ भी दिलाई। उन्होंने कहा कि नशा के नाश को लेकर प्रेस एवम प्रशासन  मिलकर संयुक्त रूप से नशा पर  प्रहार करेगा। इसके पूर्व  सभी ने मिलकर केक काटकर एकदूसरे को प्रेस दिवस की बधाई भी दिया। डीडीसी विशाल राज ने मीडिया की भूमिककी सराहना करते हुए कहा   मीडिया अपनी  जबाबदेही को बखूबी निर्वहन कर रहा है।जिलाधिकारी ने टाइम्स ऑफ इंडिया के वरिष्ठ पत्रकार चंद्रशेखर झा आजाद जी को अंगवस्त्र एवं पाग पहनाकर उनको सम्मानित भी किया। कई वरिष्ठ मीडिया प्रतिनिधियों ने परिचर्चा में अपनी बातें रखी।

कोई टिप्पणी नहीं: