झारखंड :हेमंत का ED को चैलेंज, दोषी हूं तो आओ और गिरफ्तार करो… - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 3 नवंबर 2022

झारखंड :हेमंत का ED को चैलेंज, दोषी हूं तो आओ और गिरफ्तार करो…

hemant-soren-challenge-ed
रांची : खनन घोटाले में फंसे झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज गुरुवार को ईडी के समन पर पूछताछ के लिए उसके दफ्तर नहीं आये। इसके उलट उन्होंने रांची के मोरहाबादी मैदान और फिर वहां से मुख्यमंत्री आवास पहुंचे झामुमो कार्यकर्ताओं के समक्ष केंद्र और ईडी को चैलेंज करते हुए कहा कि दम है तो आओ और मुझे गिरफ्तार करो। इसके साथ ही उन्होंने भाजपा पर बरसते हुए कहा कि राज्य की शांति और सरकार को अस्थिर करने के लिए जांच एजेंसियों को एक टूल की तरह उपयोग करने से सत्ता में वापसी नहीं होगी। झारखंड में आदिवासी ही शासन करेंगे। ईडी द्वारा मनी लाउंड्रिंग और अवैध खनन केस में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को नोटिस जारी किए जाने के विरोध में झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता-कार्यकर्ता मोरहाबादी मैदान में जुटे। सैकड़ों की संख्या में जुटे कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय एजेंसी, बीजेपी और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मोरहाबादी से कार्यकर्ताओं का हुजूम मुख्यमंत्री आवास पहुंचा जहां हेमंत सोरेन ने उन्हें संबोधित किया। इस दौरान राज्यसभा सांसद महुआ माजी, वरिष्ठ नेता विनोद पांडेय और पूर्व शिक्षा मंत्री वैद्यनाथ राम जैसे नेताओं ने भी कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। पार्टी के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य भी इस दौरान मौजूद रहे। इससे पहले बुधवार को सत्तापक्ष के विधायकों की मुख्यमंत्री आवास में बैठक में ईडी के समन को भाजपा की साजिश करार देते हुए निर्णय लिया गया था कि इस साजिश के कारण जो परिस्थितियां बनी हैं, उसका सत्ताधारी गठबंधन डटकर मुकाबला करेगा। हेमंत सोरेन ने राज्य सरकार को अस्थिर करने में जुटे राज्यपाल और केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग के खिलाफ चरणबद्ध आंदोलन का भी ऐलान किया।

कोई टिप्पणी नहीं: