बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के नए अध्यक्ष बनाए - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 6 दिसंबर 2022

बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के नए अध्यक्ष बनाए

akhilesh-prasad-singh-bihar-congress
पटना. अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी ने भारतीय राजनेता अखिलेश प्रसाद सिंह को बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के नए अध्यक्ष बनाए हैं.इस तरह कांग्रेस आलाकमान ने श्री सिंह को अध्यक्ष बनाकर अग्रिम बर्थ डे गिफ्ट दिया है.उनका 05 जनवरी को बर्थडे है.उनका जन्म 5 जनवरी 1962 (आयु 60) को जहानाबाद, बिहार में हुआ है. अखिलेश प्रसाद सिंह बिहार विधान सभा के पूर्व सदस्य एवं बिहार राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री है. श्री सिंह 2004 में भारत के चौदहवीं लोकसभा के सदस्य थे एवं भारत के कृषि, उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण के मंत्री भी थे.अखिलेश प्रसाद सिंह एक भारतीय राजनेता हैं जो भारतीय संसद में राज्यसभा के सदस्य हैं और अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य भी हैं. 15 मार्च 2018 को, वह बिहार राज्य से राज्य सभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए थे.जीवन संगी वीना सिंह है.दोनों के बच्चे 1 पुत्र और 1 पुत्री हैं. निवास स्थान अरवल, बिहार है.   कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य   डा.अखिलेश प्रसाद सिंह बिहार कांग्रेस के नए अध्यक्ष बनाए गए हैं.कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं.डा. मदन मोहन झा के स्थान पर डा. अखिलेश को यह जिम्मा दिया गया है.  डा. मदन मोहन झा को तकरीबन चार वर्ष पहले 18 सितंबर 2018 को बिहार कांग्रेस की कमान सौंपी गई थी. डा. झा को उस समय अध्यक्ष बनाया गया जब बिहार कांग्रेस की कमान कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में कौकब कादरी के पास थी. डा. झा के कार्यकाल में 2019 का लोकसभा चुनाव, 2020 का विधानसभा चुनाव और आधा दर्जन से अधिक उप चुनाव हुए, लेकिन कांग्रेस बिहार में कोई खास प्रभाव नहीं छोड़ सकी. 2020 के चुनाव में 70 सीटों पर चुनाव लड़कर कांग्रेस महज 19 सीटों पर ही विजय प्राप्त कर सकी थी. इसके बाद डा. झा ने पार्टी आलाकमान को अपना इस्तीफा सौंप दिया था.पार्टी ने उनका इस्तीफा लेकर उन्हें पद पर रहने का निर्देश दिया था. अब उन्हें कार्य मुक्त करते हुए पार्टी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सदस्य डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह को बिहार कांग्रेस अध्यक्ष पद की कमान सौंपी है.

कोई टिप्पणी नहीं: