बिहार : जमुई जिले में 'वार्तालाप' कार्यशाला का किया गया आयोजन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 6 दिसंबर 2022

बिहार : जमुई जिले में 'वार्तालाप' कार्यशाला का किया गया आयोजन

  • सरकार द्वारा किए जाने वाले विकास कार्यों को जन-जन तक पहुंचाने में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण - एस के मालवीय 

Media-work-shop-jamui
जमुई, 6 दिसंबर, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार के पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी), पटना द्वारा आज 6 दिसंबर को जमुई समाहरणालय के सभागार कक्ष में स्थानीय मीडियाकर्मियों के बीच वार्तालाप-क्षेत्रीय मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का उद्घाटन पीआईबी, पटना के अपर महानिदेशक एसके मालवीय, निदेशक आशीष लकरा, सहायक निदेशक संजय कुमार, जमुई जिले के वरिष्ठ पत्रकार विनय कुमार एवं देवेंद्र सिंह तथा जमुई के उप विकास आयुक्त एवं डीपीआरओ ने सम्मिलित रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। मीडियाकर्मियों के साथ बेहतर समन्वय स्थापित करने एवं केंद्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के सकारात्मक एवं विकासात्मक रिपोर्टिंग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आयोजित वार्तालाप में जमुई एवं आसपास के प्रखंडों के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक एवं ऑनलाइन मीडिया के पत्रकार शामिल हुए। वार्तालाप कार्यशाला को संबोधित करते हुए प्रेस इनफॉर्मेशन ब्यूरो, पटना के अपर महानिदेशक एसके मालवीय ने कहा कि जिला के मीडियाकर्मियों तक पहुंच बनाने के उद्देश्य से इस वार्तालाप कार्यशाला का आयोजन किया गया है। इस वार्तालाप का उद्देश्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के बेहतर कवरेज और लोगों तक उसकी पहुंच बनाने में मीडिया की भूमिका पर चर्चा करना है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के कार्य से देश के विकास पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है तथा सरकार द्वारा किए जाने वाले विकास कार्यों को जन-जन तक पहुंचाने में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका है। मीडिया का कार्य सरकार के सकारात्मक कार्यों की रिपोर्टिंग करते हुए फीडबैक देना भी है ताकि सरकार को वस्तुस्थिति का पता चल सके। इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए जमुई के वरिष्ठ पत्रकार विनय कुमार ने कहा कि भारत सरकार की योजनाओं को आमजनों तक पहुंचाने में मीडिया अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहा है तथा तमाम लाभार्थियों से संपर्क कर उनसे फीडबैक लेना मीडिया का कार्य है, जिससे कि आम जनता को योजनाओं के साथ-साथ प्रक्रियाओं की भी जानकारी हो सके। उन्होंने कहा कि सरकारी योजनाओं और क्रियाकलापों की सकारात्मक रिपोर्टिंग भी जरूरी है ताकि मीडिया सरकार और आम जनता के बीच एक संपर्क सेतु का कार्य कर सकें।

 

कार्यशाला को संबोधित करते हुए वरिष्ठ पत्रकार देवेंद्र सिंह ने कहा कि भारत सरकार द्वारा जिला स्तर पर पत्रकारों के साथ वार्तालाप का यह कार्यक्रम सराहनीय है। इससे स्थानीय पत्रकारों को सरकारी क्रियाकलापों के साथ-साथ भारत सरकार द्वारा उनके कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों की भी जानकारी मिलेगी। साथ ही उन्होंने भारत सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी भी उपस्थित पत्रकारों को दी। पत्रकारिता में अपने लंबे अनुभव की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि मीडिया का रोल दिनों-दिन बढ़ता जा रहा है क्योंकि समाचार देने के साधन दिनों-दिन विस्तृत होते जा रहे हैं। इस अवसर पर भारत सरकार द्वारा पत्रकारों के कल्याण के लिए चलाई जा रही पत्रकार कल्याण योजना के बारे में जानकारी देते हुए पत्र सूचना कार्यालय के सहायक निदेशक संजय कुमार ने कहा कि इस योजना के माध्यम से पत्रकारों को कार्य करते समय होने वाली दुर्घटना या स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के उपचार के लिए आर्थिक सहायता दी जाती है। कोरोना काल में बिहार में अनेक पत्रकारों को इस प्रकार की सहायता राशि भारत सरकार द्वारा दी गई है। कोई भी पत्रकार सूचना और प्रसारण मंत्रालय की वेबसाइट पर जाकर अपना विवरण भरकर इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है तथा इस योजना के बारे में समुचित जानकारी मंत्रालय की वेबसाइट पर उपलब्ध है। पीआईबी के सूचना अधिकारी इफ्तेखार आलम ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय एवं इसके अंतर्गत आने वाले तमाम मीडिया इकाइयों के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा की। समाहरणालय परिसर में केंद्रीय संचार ब्यूरो, पटना केंद्र सरकार की सेवा सुशासन एवं गरीब कल्याण के 8 साल विषय पर फोटो  प्रदर्शनी भी लगाई गई थी। कार्यक्रम का संचालन पीआईबी के सहायक निदेशक संजय कुमार ने किया। धन्यवाद ज्ञापन पीआईबी पटना के निदेशक आशीष लकरा ने किया। मौके पर केंद्रीय संचार ब्यूरो, पटना के कार्यालय प्रमुख मनीष कुमार, कार्यक्रम प्रमुख सह क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी पवन कुमार सिन्हा, क्षेत्रीय प्रचार सहायक नवल किशोर झा अमरेंद्र मोहन, सीबीसी भागलपुर के क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी अभिषेक कुमार, क्षेत्रीय प्रचार सहायक राजा आलम, सीबीसी मुंगेर के क्षेत्रीय प्रचार सहायक सुदर्शन झा मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं: