मधुबनी : 10 सूत्री मांगों को लेकर भाकपा-माले व खेग्रामस का प्रदर्शन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 30 दिसंबर 2022

मधुबनी : 10 सूत्री मांगों को लेकर भाकपा-माले व खेग्रामस का प्रदर्शन

Cpi-ml-protest-madhubani
कलुआही/मधुबनी, 30 दिसंबर, कलुआही प्रखंड अंचल कार्यालय के समक्ष सैकड़ों भाकपा-माले व खेग्रामस कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन के माध्यम से 10 सूत्री मांगों का ज्ञापन सौंपा। कलुआही प्रखंड माले संयोजक शांति सहनी के नेतृत्व में आयोजित धरना प्रदर्शन के माध्यम से सभी गरीबों का बिजली बिल माफ करने व 200 यूनिट बिजली फ्री देने, गांव गांव में भूमिहिनों का सर्वे कर सभी भूमिहीन परिवारों को 5 डिसमिल बासभूमि देने, सभी गरीबों को आवास योजना का लाभ देने, मनरेगा योजना के तहत सभी मजदूरों को बर्ष में 200 दिन रोजगार एवं 600/- रूपए दैनिक मजदूरी देने, पर्चा धारियों के पर्चा बाली जमीन पर दखल कब्जा दिलाने,बेलाही मुख्य सड़क निर्माण में हो रहे बाधा को दूर करने, सभी सरकारी बिद्धालयों में बेहतर शिक्षा की गारंटी करने, सभी बंद पड़े स्वास्थ्य केंद्रों को नियमित चालू करने, प्रखंड व अंचल कार्यालय में ब्याप्त भ्रष्टाचार, पश्चिम कोशी नहर में मुरेठ के पास अबरूद्धता दूर करने सहित 9 सूत्री मांगों को लेकर आक्रोश पूर्ण प्रदर्शन किया गया।  प्रदर्शन स्थल पर ही माले नेता शांति सहनी की अध्यक्षता में एवं सुनील झा के संचालन जारी सभा को संबोधित करते हुए भाकपा-माले के जिला सचिव ध्रुब नारायण कर्ण ने कहा कि महागठबंधन सरकार बनने के बाद भी शासन प्रशासन भाजपाई शैली में काम कर रही है। गरीबों के समस्याओं को समाधान करने में रुचि नहीं ले रही है। भाकपा( माले ) जहां एक ओर भाजपा के फासीवादी हुकूमत को उखाड़ फेंकने की लड़ाई लड़ रही है। इसके लिए 15-20 फरवरी को पटना में पार्टी का 11 वां महाधिवेशन होगा। वहीं 15 फरवरी को पटना के गांधी मैदान में लोकतंत्र बचाओ -देश बचाओ रैली किया जायेगा। दूसरी तरफ महागठबंधन सरकार को भी अपना चाल डाल और अधिक लोकतांत्रिक बनाने एवं जनता से किए गए वायदे पूरे करने के लिए दबाव बनाया जायेगा। सभा को खेग्रामस के जिला अध्यक्ष उत्तीम पासवान,खेग्रामस के राष्ट्रीय परिषद सदस्य श्याम पंडित, माले नेता बिशंम्भर कामत, उपेंद्र यादव, संजीव भंडारी,जय मोहन झा,ऊत्तीम महतो, जीवन झा, नूरजहां खातून,राम अशीष पासवान,जय रानी देवी,कमला देवी,जय माला देवी,अनिता देवी  वगैरह ने संबोधित किया जबकि सैकड़ों कार्यकर्ताओं व जनता ने ने आक्रोशपूर्ण भाग लिया।

कोई टिप्पणी नहीं: