झारखंड : महामना मालवीय मिशन ने मदन मोहन मालवीय को याद किया - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 25 दिसंबर 2022

झारखंड : महामना मालवीय मिशन ने मदन मोहन मालवीय को याद किया

Majamana-mission-remember-madan-mohan-malviy
रांची, आज महामना भारत रत्न मदन मोहन मालवीय जी के 161मी जयंती पर  महामना मालवीय मिशन,रांची शाखा ने उनको विनम्र ढंग से याद किया ।साथ में भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेई को भी याद किया,नमन किया। झारखंड मैथिली मंच के  विद्यापति दलान हरमू में यह कार्यक्रम हुआ।इसमें बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के पूर्ववर्ती छात्रों ने उत्साह से भाग लिया और महामना के विचारों को, उनके कृतियों को याद किया ।श्री नरसिंह नारायण पांडे,पूर्व भारतीय प्रशासनिक अधिकारी,श्री गोपाल सिंह, पूर्व सीएमडी सेंट्रल कोलफील्ड लिमिटेड, श्री गुरु चरण दास,ट्रस्टी ,सेवा भारती ने अपने विचार रखें। पांडे जी ने समाज से यह कहा कि हम सभी को महामना के मिशन पर अग्रसर होना चाहिए और पूरे समाज को शिक्षित बनाने की ओर अपना भरपूर योगदान देना चाहिए ।श्री गोपाल सिंह जी ने अलग-अलग तरीकों से अपने किए हुए कार्यों को याद किया और समाज को प्रेरणा दी कि कैसे एक गरीब व्यक्ति बनारस हिंदू विश्वविद्यालय को खड़ा कर सकता है,चला सकता है।इससे प्रेरित होकर हम बाकी लोग भी इस कार्य में अपना योगदान दें और जिन से जो बन पड़े उतने बच्चों को शिक्षित करने में मदद करें और समाज में योगदान दें। श्री गुरु शरण जी ने अपने विचार महामना मालवीय के बारे में रखें और कहा पिछली सदी  के शुरुआत में अंग्रेजों के शासन काल में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय जैसा विराट सोच वाला विश्वविद्यालय बनाने वाले को नमन करें और  उनको नमन करना तभी सार्थक है जब हम भी अपना भरपूर योगदान समाज को शिक्षित बनाने में लगाएं सेवा भारती के माध्यम से किए जाने वाले कार्य को उन्होंने रेखांकित किया ।श्री अरुण कुमार झा,पार्षद वार्ड 26 और श्री अर्जुन राम पार्षद वार्ड संख्या 25 ने अपने विचार रखे। समाज को शिक्षित करने की अपनी कोशिशों के बारे में बताया और आगे भी करते रहने की इच्छा बताई। श्री वीरेंद्र सिंह जी, जो इस मिशन के रांची के संयोजक हैं ने इस कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना भरपूर योगदान दिया। जयंत कुमार झा,हरमू ने इस कार्यक्रम का कुशल संचालन किया।  रांची के बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के पूर्व विद्यार्थियों ने भरपूर मन से इस कार्यक्रम में योगदान भी दिया और आनंद भी लिया।

कोई टिप्पणी नहीं: