बिहार : विधायक से लेकर मुखिया तक कर रहे 40 रुपए प्रति क्विंटल का भ्रष्टाचार : प्रशांत किशोर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 25 दिसंबर 2022

बिहार : विधायक से लेकर मुखिया तक कर रहे 40 रुपए प्रति क्विंटल का भ्रष्टाचार : प्रशांत किशोर

prashant-kishore-madhuban
मधुबन, पूर्वी चंपारण, जन सुराज पदयात्रा के 85वें दिन पूर्वी चंपारण के मीडिया से बातचीत के दौरान प्रशांत किशोर ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत ज्यादातर लोगों को पांच किलो अनाज नहीं मिलता है, उन्हें चार या साढ़े चार किलो ही अनाज मिलता है। यह ऐसा इसलिए होता है क्योंकी हर प्रखंड में जितना अनाज आता है, इस पर व्यवस्थित तरीके से 40 रुपया प्रति क्विंटल के हिसाब से विधायक से ले कर अफसर और जनप्रतिनिधि तक व्यवस्थित तरीके से गरीब जनता को काट रहे हैं। मौजूदा समय में सरकार की दो योजनाएं चल रही। एक प्रधानमंत्री आवास योजना जिसमे 25 से 40 हजार रुपया घुस की राशि ली जाती है, और दूसरी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना जिसमे विधायक समेत जनप्रतिनिधि और अफसर मिलकर 40 रुपया प्रति क्विंटल ले रहे है जिसकी वजह से लाभार्थियों को पांच के बजाए 4 या 4.5 किलो ही अनाज मिल रहा है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ उनके ही पार्टी के ज्यादातर विधायक नेता उठा रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: