मोदियाबिंद से बिहार के युवाओं को बचने की जरूरत है : प्रशांत किशोर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 8 दिसंबर 2022

मोदियाबिंद से बिहार के युवाओं को बचने की जरूरत है : प्रशांत किशोर

Save-bihar-to-modi-pk
चिरैया, पूर्वी चंपारण। जन सुराज पदयात्रा के 68वें दिन आज चिरैया प्रखंड के बड़ा जयराम गांव स्थित पदयात्रा शिविर में दिन की शुरुआत सर्व धर्म प्रार्थना से हुई। इसके बाद प्रशांत किशोर ने पदयात्रा शिविर में स्थानीय लोगों के साथ संवाद किया। उन्होंने बताया की बिहार के युवाओं को पाकिस्तान, चाइना से आगे निकल कर खुद के राज्यों की बेहतरी के बारे में सोचने की जरूरत है। मोदी के 56 इंच के सीना को देखने से पहले खुद के भाई - बाप के उस सीना को देखना चाहिए जो सिकुड़ गए हैं। यहां बेहतर स्कूल, कॉलेज, अस्पताल नहीं है जो सबकी पहली जरूरत है, मोदी जी को मालूम है कि जब तक मोदियाबिन्द से बिहार के युवा उलझे रहेंगे तब तक फैक्ट्री ना भी लगाई जाए तो कोई दिक्कत की बात नहीं है। आज प्रशांत किशोर की पदयात्रा गहई से होते हुए दक्षिणी टोला गुरमिया, बगही भेलवा, कदमवा, पुरनहिया, दिन के अंत में कदमवा के जे. एल. एन. एम कॉलेज, में रात्रि विश्राम के लिए पहुंचेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: