बिहार : कुढ़नी के पूर्व राजद विधायक ने नीतीश का इस्तीफा मांगा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 9 दिसंबर 2022

बिहार : कुढ़नी के पूर्व राजद विधायक ने नीतीश का इस्तीफा मांगा

anil-sahni-dimand-nitish-resignation
पटना : कुढ़नी उपचुनाव में जदयू कैंडिडेट की पराजय के लिए राजद के पूर्व एमएलए ने नीतीश कुमार को जिम्मेदार ठहराते हुए इस्तीफा मांगा है। कुढ़नी से विधायक रह चुके राजद नेता अनिल सहनी ने वहां मिली शिकस्त को नीतीश कुमार की हार बताया है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार मुख्यमंत्री का पद छोड़ें और महागठबंधन को मजबूत करने के लिए तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाएं। ये वही अनिल सहनी हैं जो कुढ़नी उपचुनाव के लिए जब महागठबंधन की ओर से जदयू के मनोज कुशवाहा के नाम की घोषणा हुई थी तब उन्होंने इसका तीव्र विरोध किया और कहा कि वे वहां कभी जीत नहीं पायेंगे। अनिल सहनी आरजेडी के विधायक और राज्यसभा सदस्य भी रह चुके हैं। एलटीसी घोटाले में सीबीआई की विशेष कोर्ट से सजा सजा मिलने के बाद इनकी विधायकी चली गई थी। कुढ़नी में भाजपा के केदार गुप्ता ने जेडीयू के मनोज कुशवाहा को शिकस्त दी है। केदार गुप्ता अतिपिछड़ा वर्ग से आते हैं और इसी बात पर अनिल सहनी ने नीतीश कुमार के कैंडिडेट चयन पर सवाल उठाया था। अनिल सहनी ने स्पष्ट किया कि कुढ़नी में महागठबंधन नहीं हारा है, बल्कि यह नीतीश कुमार के शासन और उनकी अदूदर्शिता की हार है। पिछड़ा समाज का 35 फीसदी वोट बैंक है जो नीतीश कुमार से अलग हो गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: