मधुबनी : भाकपा माले के राष्ट्रीय महाधिवेशन की तैयारी को लेकर जिला कमिटी की बैठक - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 7 दिसंबर 2022

मधुबनी : भाकपा माले के राष्ट्रीय महाधिवेशन की तैयारी को लेकर जिला कमिटी की बैठक

  • मिथिलांचल में भाजपा को जमीनी स्तर पर शिकस्त देने की मुहिम भाकपा माले तेज़ करेगी : धीरेन्द्र
  • 15 फरबरी के लोकतंत्र बचाओ-देश बचाओ रैली में मधुबनी ज़िला से 4 हज़ार जनता भाग लेगी : ध्रुव नारायण कर्ण

Cpi-ml-meeting-madhubani
मधुबनी, 7 दिसंबर,  भाकपा माले ज़िला कमिटी की बैठक माले नगर लहेरियागंज में देर रात सम्पन्न हुई।बैठक को सम्बोधित करते हुए पार्टी पोलित ब्यूरो के सदस्य सह मिथिलांचल प्रभारी धीरेन्द्र झा ने कहा कि मोदी सरकार देश की जनता पर बोझ बन गयी है।अम्बानी-अडाणी सरीखे पूंजीपतियों के सेवा में लगी यह सरकार जनता के ऊपर मंहगाई-बेकारी का बोझ लाद दी है।मिथिलांचल के भीतर इनके सांसद-विधायकों का जनसरोकार से कोई मतलब नही है।हिन्दू-मुस्लिम कार्ड के सहारे वे चुनावी वैतरणी पार करने में लगे हैं जबकि यहां की चीनी,सुता और जुट मिल बन्द पड़े हैं।दलित-गरीबों की गोलबंदी के जरिये भाजपा को जमीनी स्तर पर शिकस्त देने की मुहिम को माले तेज़ करेगी।उन्होंने कहा कि नवगठित महागठबंधन सरकार के ऊपर भी पार्टी भूमिहीनों को जमीन देने-जो जहां बसे हैं,उन्हें बासगीत पर्चा देने एवं उजाड़ने से पहले बसाने का दबाव बना रही है। माले सदन से लेकर सड़कों तक गरीब बसाओ मुहिम को आगे बढ़ाएगी। पार्टी ज़िला सचिव ध्रुव नारायण कर्ण ने कहा कि 15-20 फरबरी को पटना में आयोजित भाकपा माले के 11वें राष्ट्रीय महाधिवेशन की तैयारी शुरू हो गयी है।15 फरबरी के गांधी मैदान में आयोजित "लोकतंत्र बचाओ- देश बचाओ" रैली में मधुबनी ज़िला से 4हज़ार लोग भाग लेंगे। बैठक को अन्य लोगों के अलावे लक्ष्मण राय,उत्तीम पासवान, श्याम पंडित,मदन चंद्र झा,योगनाथ मंडल,विजय दास, ,विश्वम्भर कामत,कामेश्वर राम, योगेन्द्र यादव,शांति सहनी आदि ने सम्बोधित किये।

कोई टिप्पणी नहीं: