बिहार : ऐपवा का प्रतिवाद मार्च - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 18 दिसंबर 2022

बिहार : ऐपवा का प्रतिवाद मार्च

Aipwa-protest-march
मसौढ़ी. अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन, ऐपवा की राज्य सचिव शशि यादव , शनिचरी जी, उमा यादव के नेतृत्व में मसौढी के गांधी मैदान से तारेगना स्टेशन तक प्रतिवाद मार्च निकाल कर स्टेशन पर  सभा की गई. सभा को सम्बोधित करते शशि यादव ने कहा कि मसौढ़ी थाना एवं आबकारी थाना ने मिलकर 9 दिसंबर को 7.30 बजे शाम में अचानक हांसाडीह गांव पर धावा बोल दिया और जवाहर चौधरी का मार कर माथा फोड़ दिया एवं उनकी पत्नी सोनवा देवी की पुलिस पिटाई से मौत हो गई. इसके अलावा दर्जनों महिला- पुरूष  की बर्बर पिटाई की गई.आज भी उनके उनके पूरे बदन पर घाव  व काले दाग देखें जा सकते हैं.हद तो तब हो गई ,जब बिना महिला पुलिस के महिलाओं की पिटाई की गई यहां तक कि महिलाओं की साड़ी खुल गई. ध्रुव पासवान व राजनारायण को जेल भेज दिया गया.शराब बंदी के नाम पर  लाखोंकी संख्या गरीबों को जेल में बंद किया जा रहा हैं.छपरा में जहरीली शराब से सैकड़ों लोग मर गए कई लोगों की रोशनी चली गई. बड़े शराब माफिया को गिफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दिया जाय.  सभा को भाकपा माले नेता नागेश्वर पासवान व विनेश चौधरी ने भी संबोधित किया व संचालन उमा यादव ने किया.प्रतिवाद मार्च के माध्यम से मांग की गई कि

 1. बर्बर पुलिस लाठी चार्ज व हत्या के जिम्मेदार मसौढ़ी थाना प्रभारी व आबकारी थाना प्रभारी को अविलंब बर्खास्त कर 302 का मुकदमा दर्ज किया जाए.

2. मृतक परिवार को 10 लाख मुआवजा व सरकारी नौकरी दिया जाए.

3. मुकेश कुमार की दुकान के नुकसान की छतिपूर्ति की जाए.

 यदि मांगें नहीं मानी गई तो ऐपवा पटना सहित राज्य स्तर पर प्रतिवाद आयोजित किया जाएगा.

कोई टिप्पणी नहीं: