बिहार : 15 फरवरी की रैली का देषव्यापी महत्व, 2024 में भाजपा की विदाई तय: स्वदेष भट्टाचार्य - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 15 जनवरी 2023

बिहार : 15 फरवरी की रैली का देषव्यापी महत्व, 2024 में भाजपा की विदाई तय: स्वदेष भट्टाचार्य

  • रैली तैयारी को लेकर हुई समीक्षा बैठक, अगले एक महीने का बना प्लान.

Cpi-ml-rally-on-15-fabruary
पटना 15 जनवरी, 15 फरवरी को पटना के गांधी मैदान में भाकपा-माले की लोकतंत्र बचाओ-देष बचाओ रैली की तैयारी को लेकर आज राज्य कार्यालय, पटना में जिलों के प्रभारियों, सचिवों व संयोजकों की बैठक हुई. बैठक में अब तक हुई तैयारी की समीक्षा की गई और अगले एक महीने का विस्तृत प्लान बनाया गया. बैठक को संबोधित करते हुए माले के वरिष्ठ नेता व पोलित ब्यूरो के सदस्य काॅ. स्वदेश भट्टाचार्य ने कहा कि 15 फरवरी की रैली का देशव्यापी महत्व है. केंद्र की सत्ता से फासीवादी भाजपा की विदाई तय करने की दिशा में यह रैली एक महत्वपूर्ण पड़ाव साबित होगी. केंद्र की सत्ता में भाजपा जब से आई है, लोकतंत्र व जनअधिकारों पर लगातार हमले हो रहे हैं. नफरत व विभाजन की राजनीति चरम पर है. काॅरपोरेट घरानों की चांदी है तो दूसरी ओर बेरोजगारों की फौज दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. किसानों के बीच हाहाकार है. मजदूर वर्ग पर हमले हो रहे हैं. इसलिए आज देश की तमाम लोकतंत्र व न्याय पसंद ताकतों के लिए भाजपा रूपी विपदा से मुक्ति का सवाल सबसे अहम व प्राथमिक सवाल बन गया हैै. इसी राजनीतिक दिशा में रैली की तैयारी की जानी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि हम भाजपा के खिलाफ सभी विपक्षी दलों व विभिन्न जनांदोलनों की व्यापक एकता चाहते हैं. रैली व महाधिवेशन में यह केंद्रीय पहलू मजबूती से अभिव्यक्त होगा. बिहार सरकार को जनता की आवाज सुननी चाहिए. इस सरकार का समर्थन करते हुए भी हम दलितों-गरीबों की व्यापक पैमाने पर बेदखली, शिक्षक बहाली, रोजगार आदि सवालों को रैली के मुद्दों में शामिल करेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि आज से अगले एक महीने तक पूरी पार्टी रैली व पार्टी महाधिवेशन के लिए समर्पित है. पार्टी से जुड़े सभी जनसंगठन और विधायक रैली की तैयारी में मजबूती से उतरें ताकि हम पुराने सारे रिकाॅर्ड तोड़ दंे. इसके पूर्व सभी जिला सचिवों ने अब तक अपने जिलों में रैली तैयारी की रिपोर्ट रखी. गांव-गांव बैठकंे शुरू हो गई हैं. व्यापक पैमाने पर दीवाल लेखन व फैस्टून टांगने का काम किया जा रहा है. पार्टी के कार्यकर्ता कड़ाके की ठंड के बावजूद बैठकें आयोजित कर रैली के राजनीतिक संदेश को गांव-मुहल्लों में ले जा रहे हैं. बैठक में माले राज्य सचिव कुणाल, अमर, धीरेन्द्र झा, मीना तिवारी, केडी यादव, आरएन ठाकुर, शशि यादव सहित सभी जिलों के सचिव व संयोजक उपस्थित थे.

कोई टिप्पणी नहीं: