बिहार : व्यवस्थाओं ने बिहारियों को मजदूर बनाया है: प्रशांत किशोर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 2 जनवरी 2023

बिहार : व्यवस्थाओं ने बिहारियों को मजदूर बनाया है: प्रशांत किशोर

System-makes-bihar-people-labour
केसरिया, पूर्वी चंपारण, जन सुराज पदयात्रा के दौरान केसरिया में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि बिहार के जमीन में कोई कमी नहीं है, यहां के जमीन को नेताओं और व्यवस्थाओं ने बर्बाद करके रख दिया है। आज हमें दूसरे राज्यों के लोग बेवक़ूफ़ समझते हैं। हम बेवक़ूफ़ नहीं है, यहां की व्यवस्थाओं ने हमे बेवक़ूफ़ बना दिया है। जिस दिन बिहार की जनता जाग जाएगी और अपने परिवार के लिए सही सरकार चुन कर लाएगी, उस दिन उनके लिए विकास की धारा खुद बहने लगेगी। आज हमारे नौजवान भाई 10-15 हजार की नौकरी पाने के लिए दूसरे राज्यों में भटकते हैं। क्या अगर व्यवस्थाओं को सुधारा गया तो यही लोग बिहार में रोजगार पैदा नहीं कर सकते? बिल्कुल कर सकते हैं! हम बिहारियों में ताकत की कोई कमी नहीं है, न ही बिहारी मजदूर बनने के लिए पैदा हुआ है, व्यवस्थाओं ने बिहारियों को मजबूर किया है। जिसे हम बिहारियों को एक साथ सुधारना होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: