दुमका : नाबालिग छात्रा के साथ दुष्कर्म, अचेतावस्था में पड़ी मिली छात्रा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 24 अप्रैल 2018

दुमका : नाबालिग छात्रा के साथ दुष्कर्म, अचेतावस्था में पड़ी मिली छात्रा

minor-raape-dumka
दुमका (अमरेन्द्र सुमन) 12 साल की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म का एक मामला सामने आया है। पाकुड़ के अमड़ापाड़ा की मूल निवासी छात्रा झारखंड की उप राजधानी दुमका के कडलबील स्थित  चाची के साथ  रह रही थी। वह सरकारी स्कूल में कक्षा 6 में पढ़ती है। प्राप्त समाचार के अनुसार दिन रविवार की रात 9 बजे बच्ची अपने  घर का दरवाजा बंद करने निकली थी। इसी बीच घात लगाए  तीन लड़के उसे उठाकर ले गए।  मुंह में बालू भरकर व रस्सी से हाथों को  बांधकर बारी-बारी से उसके साथ अपना मुँह काला किया, परिणामस्वरूप   बच्ची बेहोश हो गई। दिन  सोमवार की सुबह 6 बजे स्थानीय लोगों की नजर बच्ची पर पड़ी। उसे गंभीर हालत में दुमका सदर अस्पताल के आईसीयू में भर्ती करवाया गया है। बच्ची को होश आ चुका है।  सामूहिक बलात्कार की इस घटना के मद्देनजर एसपी दुमका  किशोर कौशल, डीएसपी अशोक कुमार सिंह व  नगर थानेदार देवव्रत पोद्दार सदर अस्पताल पहुंचे।  वह नवनिर्वाचित नगर पालिका अध्यक्ष श्वेता झा  ने  अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकारी प्राप्त की है  बाल कल्याण समिति बेंच ऑफ मजिस्ट्रेट के अध्यक्ष, सदस्य व शकुंतला दुबे ने सदर अस्पताल में पीड़िता से मुलाकात कर घटना की जानकारी व व्यवस्था का जायजा लिया।  सिविल सर्जन को मेडिकल बोर्ड गठित कर जाँच कराने का निदेश दिया गया। पीड़िता की स्थिति में सुधार के बाद सीडब्लूसी द्वारा  बयान दर्ज कर  आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।  समुचित देखभाल और संरक्षण के बिंदु पर निर्देश जारी किया जाएगा। ऐसे घृणित कार्य के आरोपियों के खिलाफ  जिला प्रशासन अविलम्ब कड़ी सजा का प्रयास करे  समाज में जनजागृति फैला कर एवं गली मुहल्लों के असामाजिक तत्वों की जानकारी पुलिस को देकर ऐसे लोगों पर कार्रवाई कराने में मदद करनी चाहिए।
एक टिप्पणी भेजें