सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 25 अप्रैल 2018

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अप्रैल

आंगनवाडी केन्द्रों के संचालन में समय परिवर्तन 

वर्तमान में प्रदेश में भीषण गर्मी को देखते हुए जिले के समस्त आंगनवाडी केन्द्रों में आने वाले बच्चों के स्वास्थ्य एवं उनकी सुविधा को देखते हुए आंगनवाडी केन्द्रों का संचालन का समय प्रात: 8 से दोपहर 12 बजे तक कर दिया गया है। कलेक्टर श्री तरूण कुमार पिथोडे के निर्देशानुसार आंगनवाडी केन्द्रों पर अब बच्चे प्रात: 8 से 12 बजे तक एवं दोपहर 12 बजे से दोपहर 2 बजे तक आंगनवाडी कार्यकर्ताओं व्दारा गृहभेंट / अभिलेखों का संधारण किया जाएगा। उक्त समय परिवर्तन 24 अप्रैल,2018 से तत्काल प्रभावशील होगा। इस सिलसिले में जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास सीहोर व्दारा जिले के समस्त परियोजना अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा सीहोर को निर्देशित कर दिया गया हैं। 

मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना प्रारंभ

कलेक्टर श्री तरूण कुमार पिथोडे ने बताया कि मुख्यमंत्री  श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के साथ मुख्यमंत्री विधवा योजना प्रारंभ की घोषणा के फलस्वरूप प्रदेश की विधवाओं के लिए सम्मान प्रदर्शित तथा शासन की योजना का लाभ आदेश जारी होने के दिनांक से विधवा की जगह कल्याणी कहा जाकर योजना का क्रियान्वयन मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना के नाम से आरंभ करने की स्वीकृति प्रदान की गई है। इस सिलसिले में कलेक्टर श्री तरूण कुमार पिथोडे व्दारा जिले के समस्त जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं समस्त नगरपालिका / नगर परिषद के मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे राज्य शासन व्दारा जारी दिशा निर्देशानुसार मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना के तहत योजनांतर्गत प्राप्त आवेदनों में उल्लेखानुसार मापदण्डों के आधार पर परीक्षण कर पात्रता हेतु योग्य आवेदन दस्तावेज सहित स्वीकृति हेतु उप संचालक सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण सीहोर को भेजना सुनिश्चित करें।  

मदरसों का नवीनीकरण हेतु तिथियां निर्धारित

जिला शिक्षा अधिकारी सीहोर ने बताया कि म.प्र. मदरसा बोर्ड भोपाल व्दारा शिक्षा सत्र 2018-19 में मदरसा नवीनीकरण के ऑन लाईन आवेदन करने की सुविधा एम.पी. ऑनलाइन के पोर्टल के सेवा केन्द्र पर 19 मई,2018 तक उपलब्ध करायी जा रही है। कई वर्षो से नवीनीकरण नहीं कराने वाले मदरसों को भी बोर्ड व्दारा एक मौका दिया गया है। मदरसा संचालक इस समयावधि में निकटतम एम.पी. ऑन लाइन लिमिटेड के पोर्टल के सेवा केन्द्र कियोस्क पर नवीनीकरण हेतु आवेदन कर सकते हैं।

विश्व मलेरिया दिवस पर निकली जनजागरूकता रैली
  • सीएमएचओ ने किया हरी झंडी दिखाकर रवाना

आज विश्व मलेरिया दिवस पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.डी.आर.अहिरवार ने मलेरिया जनजागरूकता रैली को ट्रामा सेंटर से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर पर सिविल सर्जन सह मुुख्य अस्पताल अधीक्षक डाॅ.ए.ए.कुरैशी,जिला मलेरिया अधिकारी श्रीमती क्षमा बर्वे,सहायक मलेरिया अधिकारी श्रीमती जिला मीडिया सलाहकार श्री शैलेश कुमार,अस्पताल प्रबंधक श्रीमती संजुलता भार्गव सहित मलेरिया विभाग के सुपरवाईजर्स,प्रशिक्षु एएनएम,आशा कार्यकर्ता,आशा सहयोगिनी एवं अन्य विभागीय  कर्मचारी उपस्थित थे। रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के पूर्व हितग्राहियों को संबोधित करते हुए डा.अहिरवार ने कहा आज विश्व मलेरिया दिवस पर विशेष स्लाईड कैम्प का आयोजन किया गया है। डाॅ.अहिरवार ने कहा मलेरिया से बचने के लिए पर्याप्त सावधानी बरतना जरूरी है। घर के आसपास पानी जमा न होने दें। पानी से भरे गड्डों को मिट्टी भर दें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य  अधिकारी डाॅ.डी.आर.अहिरवार ने बताया आज विश्व मलेरिया दिवस पर जिला मलेरिया अधिकारी के दिशा निर्देशन में जनजागरूता रैली रवाना की गई जो विभिन्न मार्गों,मुख्य मार्गोें, का भ्रमण करते जिला मलेरिया कार्यालय पहुंची जहां रैली का समापन किया गया। बाजार चैक चैराहा पर मलेरिया जनजागरूकता से संबंधित नुक्कड़ नाटक का प्रस्तुतीकरण मलेरिया विभाग के कर्मचारियों द्वारा प्रस्तुत किया  गया। रैली को संबोधित करते हुए सीएमएचओ ने कहा मलेरिया से बचने के लिए मच्छदानी या मच्छरनाशक के इस्तेमाल के बिना घर के बाहर न सोएं। घर के दरवाजों और खिड़कियों पर उपयुक्त जाली का इस्तेमाल करें। डीएमओ श्रीमती क्षमा बर्वे ने कहा घर में रखी पानी जैसे कुओं,तालाब व अन्य जलाशयों में गम्बुसिया मछली डाले यह मछली मलेरिया फैलाने वाले मच्छरों के लार्वा खा जाती है। उन्हांेंने कहा मलेरिया नियंत्रण समाज की सामुहिक जिम्मेदारी है इस पर नियंत्रण केवल सरकारी प्रयास से संभव नहीं है। उन्होंने कर्मचारियों और आशा व एएनएम कार्यकर्ताओं से कहा कि मलेरिया नियत्रण के लिए समाज को भी जागरूक किया जाना जरूरी है। 

सर्वांगीण विकास सभी की सामूहिक जवाबदारी- मुख्यमंत्री श्री चौहान
  • मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा सीहोर जिले के ग्राम चकल्दी में तेन्दूपत्ता संग्राहकों को 2 करोड़ 72 लाख रूपये का बोनस वितरित

sehore news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सीहोर जिले के ग्राम चकल्दी में लघु वनोपज संघ द्वारा आयोजित समारोह में दो करोड़ 72 लाख रूपये की राशि तेन्दूपत्ता संग्राहकों के खातों में ई-ट्रांसफर माध्यम से वितरित की । इस अवसर पर ग्राम खजूरी निवासी श्रीमती रामीबाई तथा बनियागांव निवासी श्रीमती केवलीबाई को चप्पल पहनाकर और साड़ी वितरित कर पूरे जिले के तेंदूपत्ता संग्राहकों को जूता-चप्पल वितरण की शुरूआत की । सीहोर जिले में पन्द्रह तेन्दूपत्ता संग्रहण समितियां हैं । तेन्दूपत्ता संग्राहकों की कुल संख्या अड़तालीस हजार से अधिक है । इस अवसर पर आयोजित तेन्दूपत्ता संग्राहकों तथा असंगठित श्रमिकों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सर्वांगीण विकास तभी संभव है जब सभी सामूहिक जिम्मेदारी की भावना से अपने दायित्वों का निर्वहन करें । प्रकृति प्रदत्त संसाधनों पर सभी का अधिकार है । जो लोग इसका लाभ लेने से वंचित रहे हैं, ऐसे सभी वर्ग के लोगों को आगे आने में सरकार मदद कर रही है । श्री चौहान ने कहा कि सरकार ने असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों के पंजीयन का कार्य अभियान स्तर पर कराया है । ढाई एकड़ तक की जोत वाले किसानों को भी असंगठित श्रमिक माना गया है । पंजीयन का काम पूरा होने पर पात्र श्रमिकों को सभी योजनाओं का लाभ मिलेगा । मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अब श्रमिक परिवार की महिला को गर्भधारण करने के 6  माह से 9 माह के बीच चार हजार रूपये की राशि उसके बैंक खाते में डाली जायेगी । प्रसव के पश्चात बारह हजार रूपये की राशि और डाली जायेगी, ताकि जच्चा बच्चा स्वस्थ रहे । मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि इस योजना पर लगभग 16 सौ करोड़ रूपये सालाना खर्च होने का अनुमान है । श्री चौहान ने इस अवसर पर अपील की कि प्रसव सरकारी अस्पताल में करायें तथा जच्चा बच्चा का संपूर्ण टीकाकरण भी आवश्यक रूप से कराया जाये । मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्व-सहायता समूहों को सुदृढ़ बनाने की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि स्व-सहायता समूह की सदस्य महिलाएं अपने परिवार की आय बढ़ाने में उल्लेखनीय योगदान दे सकती हैं । शासन की ओर से स्व-सहायता समूहों को सुदृढ़ बनाने के लिये यथासंभव सभी प्रयास किये जा रहे हैं । मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगामी चार वर्षों में प्रदेश में सभी पात्र आवासहीनों को पक्के घर उपलब्ध कराये जायेंगे । राज्य सरकार गरीबों को मकान के लिये जमीन और पानी, बिजली जैसी मूलभूत जरूरतों को पूरा करने पर विशेष ध्यान दे रही है । उन्होंने कहा कि श्रमिकों को फ्लेट रेट पर बिजली देने का काम एक अप्रैल से आरंभ कर दिया गया है । इसके पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चार करोड़ रूपये लागत से बने आई.टी.आई. भवनख्‍ 95 लाख रूपये की लागत से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा 80 लाख रूपये की लागत के ग्रामीण खेल मैदान का लोकार्पण किया । इस अवसर पर सिलाई कला मंडल के अध्यक्ष श्री सुनील माहेश्वरी, अपेक्स बैंक के प्रशासक श्री रमाकांत भार्गव, वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरू प्रसाद शर्मा, वेयर हाउसिंग कारपोरेशन के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, लघु वनोपज संघ के अध्यक्ष श्री महेश कोरी, उपाध्यक्ष श्री रामनारायण साहू, सी.सी.एफ. श्री बी.के.नीमा तथा वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे । 
एक टिप्पणी भेजें