दुमका : प्लास्टिक प्रदुषण वर्तमान समय की सबसे चुनौती : कुलपति प्रो मनोरंजन प्रसाद सिन्हा - Live Aaryaavart

Breaking

मंगलवार, 5 जून 2018

दुमका : प्लास्टिक प्रदुषण वर्तमान समय की सबसे चुनौती : कुलपति प्रो मनोरंजन प्रसाद सिन्हा

  • एसकेएमयू दुमका में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर सेमिनार

seminar-on-plastic-polution-dumka
दुमका (अमरेन्द्र सुमन) विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर  सिदो कान्हू मुर्मू विवि के कॉन्फ्रेंस हॉल में  ‘’से नो टू पोलीथीन एंड सेव एनवायरनमेंट ‘’ विषय पर 5 जून 2018 को एक सेमिनार का आयोजन किया गया। विवि के  कुलपति प्रो मनोरंजन प्रसाद सिन्हा की अध्यक्षता में  आयोजित इस सेमिनार में डी सी दुमका मुकेश कुमार मुख्य अतिथि थे। छात्राओं के  कुलगीत व स्वागत गान से कार्यक्रम की शुरुआत हुई।  सेमिनार का उद्घाटन मुख्य अथिति मुकेश कुमार ने दीप प्रज्वलित कर किया। अथितियों का स्वागत अधिष्ठाता छात्र कल्याण डॉ गौरव गांगुली ने किया। विषय प्रवेश डॉ संजय सिन्हा ने किया।  श्री सिन्हा ने कहा कि चार पी - ‘पोवर्टी, पॉपुलेशन, पोलुशन व  प्लास्टिक’ विश्व के लिए आज की  सबसे महत्वपूर्ण चुनौती है। मुख्य अतिथि मुकेश कुमार ने छात्रों से पर्यावरण संरक्षण का संकल्प लेने को कहा।  इसे अपने जीवन का हिस्सा बनाने को कहा। उन्होंने कहा की जल का एक - एक बूंद  महत्वपूर्ण है। उन्होंने घटते जलस्तर और विलुप्त होते पेड़-पौधों व जीव-जंतुओं पर भी चिन्ता जताई। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि विवि का ईको टास्क फोर्स इस दिशा मे कार्य करेगा। अपने अध्यक्षीय संबोधन मे कुलपति प्रो सिन्हा ने कहा कि   प्रदुषण खास कर प्लास्टिक प्रदुषण पर वर्तमान समय की सबसे पेचिदगी वाली चुनौती है। उन्होंने कहा कि  प्लास्टिक  प्रदूषण  जीव-जंतुओं के लिए तो हानिकारक है ही मानव समुदाय के लिए भी विनाश का एक बड़ा कारण है।  पूरे विश्व के लिए यह खतरनाक है। लोगों को  जागरूक कर इसमें कमी लायी जा सकती है।  उन्होंने कहा कि विवि का ईको टास्क फोर्स इस दिशा मे काम करेगा। प्रति कुलपति प्रो हनुमान प्रसाद शर्मा ने कहा कि 1972 से   पर्यावरण बचाने का कार्य तेजी से चल रहा है।  हर साल एक नए विषय पर लोगों  को जागरूक बनाया जा रहा है। उन्होंने पेड़-पौधों के महत्व पर भी प्रकाश डाला।  इस मौके पर डॉ गगन ठाकुर, डॉ बी के ठाकुर, डॉ पी के वर्मा, डॉ निलेश कुमार, डॉ टी पी सिंह ने भी अपने-अपने  विचार रखे। उपरोक्त के अलावा बाबर, स्मृति, वर्षा, नेहा, अमित, परवेज, सोलोमन, राजेश, आदि ने भी अपने - अपने  विचार रखे। कार्यक्रम के अंत मे कुलपति प्रो मनोरंजन प्रसाद सिन्हा ने मुख्य अथिति मुकेश कुमार को अंग वस्त्र, स्मृति  चिन्ह एवं एक पौधा भेंट  कर सम्मानित किया।  धन्यवाद ज्ञापन कुलसचिव डी एन सिंह ने किया।  प्रो अंजुला मुर्मू ने मंच संचालित किया। 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...