झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 02 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

सोमवार, 2 जुलाई 2018

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 02 जुलाई

कांग्रेस पार्टी 135 वर्षो से राष्ट्र की अस्मिता एवं इसके विकास के लिये प्रतिबद्ध-दीपक बाबरिया

jhabua news
झाबुआ । आजादी के दौरान यहां का आदिवासी देशी की आजादी में भागीदार बना राष्ट्रीय ध्वज के तले सामाजिक समभावना का परिचय देकर कांग्रेस 135 वर्षो से राष्ट्र की अस्मिता एवं इसके विकास के लिये प्रतिबद्ध रहीं है और लोकतंत्र को एक तिरंगे के नीचे रखा । पार्टी हमें न केवल पहचान देती हैं, वरन हमारा सम्मान बडाने के साथ जननी के रूप में विकासमार्ग प्रसस्त करती हैं, इसलिये कांग्रेस पार्टी में रहकर अपने निहीत स्वार्थो के कारण पार्टी के साथ गुस्ताकी व गद्दारी नहीं करें ।  वर्ष  2018 के विधानसभा चुनावों में प्रत्याक्षी की प्रत्याक्षा को त्याग कर पार्टी के लिये निष्ठा के साथ काम करें तो भविष्य में पार्टी के साथ पार्टी को सम्मान देने वाले का भी सम्मान बडेगा । आज जिस रूप में मुझे आप लोगों ने सम्मान दिया हैं, वह मेरी पार्टी के प्रति निष्ठा व सर्मपण का ही प्रतिक हैं । उक्त आश्य के सारगर्भीत उदगार राष्ट्रीय कांग्रेस के महासचिव व प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी दीपक बाबरिया ने आज झाबुआ में आयोजित जिला कांग्रेस के महासम्मेलन में बडी संख्या में उपस्थित पार्टी के कार्यकर्ताओ के मध्यम में व्यक्त किये हैं । अपने कहां कि प्रत्याक्षी के चयन में पार्टी हाईकमान द्वारा जो नीति निर्देश तैय किये हैं । उसी के अनुरूप प्रत्याक्षीयों का चयन किया जाना हैं, जिसकी समीक्षात्मक खोज राष्ट्रीय अध्यक्ष राहूल गांधी द्वारा विभिन्न पहलूओं के माध्यम से की जा रहीें हैं । पार्टी में न तो उद्योगपति और न ही समप्रभुत्व राजनीति को तौला जा रहा हैं । स्वंय राहूल गांधी द्वारा नरेन्द्र मोदी, आर.एस.एस. तथा अडानी व अम्बानी को चुनौती देते हुए गरीबों ,किसानों,बेरोजगारों, तथा सर्वहारावर्ग के विकास हेतु प्रतिबद्ध हैं ।  यही कारण हैं, कि गुजरात में एवं अन्य राज्यों में कांग्रेस का जनाधार बडा हैं और भाजपा, हिन्दु, मुसलमान की विभाजन रेखा खिंचकर सत्ता में बनी हुई हैं । जबकि पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी एवं राजीव गांधी ने गरीबी हटाओं का नारा देकर सर्वहारावर्ग के विकास की दिशा में काम किया हैं । शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के चलते आज आदिवासी डाॅक्टर, इंजिनीयर, न्यायधीश जैस महत्वपूर्ण पदों पर पदासीन हैं, जबकि भाजपा के केन्द्रीय एवं प्रदेश सरकार द्वारा युवकों के रोजगार एवं उनके सम्मान की दिशा में कोई पहल नहीं कर रहीं   हैं । आप ने पार्टी कार्यकताओं एवं पदाधिकारियो को सम्बोधित करते हुए कहां कि पद की महत्वकांक्षा को त्याग कर संगठन में समर्पित भाव से कार्य करें कांग्रेस का जो भी प्रत्याक्षी हो उसे जीतानें का संकल्प लें । फर्जी मतदान एवं बुथों पर कडी निगरानी रखने की अब आवश्यकता हैं । आर.एस.एस. व प्रशासन के लोगों की घुसपेटी कराकर भाजपा कांग्रेस बहुल्य क्षेत्र को प्रभावित करने में पिछे नहीं रहेगी । इसलिये कांग्रेसजन गांवों में मिटींग कर मतदाताओं के सम्पर्क में बने रहें, तथा खिलाफत की राजनीति से सामधान रहें । आप की सरकार  यदि प्रदेश में नहीं बनी तो आप का कोई सम्मान नहीं होगा । आप ने सचेत करते हुए कहां कि कुलाहडी का हत्था बनकर पार्टी में अपनी पहचान मत बनाना  । प्रदेश की भाजपा को आडे हाथ लेते हुए आपने कहां कि प्रदेश में भ्रष्टाचार, चरम सीमा पर बड गया     हैं तथा प्रशासन के कार्य से आम लोगों का जनजीवन दुखःमय हो गया हैं ऐसे में मतदाता कांग्रेस पार्टी से भरोसा एवं आस लगाकर बैठे हुए हैं, इस बार जनता ने कांग्रेस के हाथों में सत्ता सौपने का पक्का मन बना लिया हैं, इसलिये पार्टी का कोई भी कार्यकर्ता भाजपा के भ्रम व भुलावें की राजनीति में नहीं आवें । इसके पूर्व जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता ने जिले की तीनों विधानसभाक्षेत्र थान्दला, पेटलावद ,व झाबुआ के राजनैतिक तथा संगठनात्मक जानकारी देते हुए बताया कि जिले के ब्लाॅक, मण्डलम, सेक्टर व बुथ की व्यवस्था बना ली गई हैं और आला कामान को भी इसकी सुचना दे दी गई हैं । जिले के कांग्रेस कार्यकर्ता आने उत्तरदायित्वों का भली भाति से निर्वहन कर रहें, हैं । यही कारण हैं, कि पिछले तीन वर्षो में कांग्रेस पार्टी ने त्रि-स्तरीय पंचायतों चुनावों तथा नगर पालिका व परिषदों में भी अपनी पहचान बनाई हैं तो दुसरी ओर लोकसभा उपचुनावों में भी अपनी एकता का परिचय दिया हैं । सुर्दुर ग्रामीण अंचलों में कांग्रेस की गहरी पेढ बनती हा रही हैं, तथा आदिवासीयों का रूझान कांग्रेस की ओर आक्रषित हो रहा हैं । सांसद कांतिलाल भूरिया सभी वर्ग धर्म के लोगों को तथा आम लोगों से समस्याओं के निदान में तत्पर रहकर संगठन को मजबुती प्रदान कर रहें हैं । क्षेत्रिय सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया ने अपने उद्बोधन में कहां कि भाजपा ने विकास के नाम पर मात्र छलावा किया हैं । मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान ने करोडों की योजनाओं का शिलान्यास किया तो दुसरी ओर घोषणा वीर बनकर जिले के लोगों के साथ छलावा किया हैं, आदिवासी आज भी रोजगार के लिये भटक रहें हैं । भ्रष्ठाचार, बलात्कार, बेरोगारी, महंगारी, भुखमरी से लोगो त्रस्त हैं वहीं असुरक्षा से महिलाओं में भय का वातावरण निर्मित हो गया हैं, वहीं भाजपा सरकार को उखाड फैकने का समय आ गया हैं, यदि अब भी मतदाता सावधान नहीं रहे हैं, तो अच्छे, सुरक्षित व सम्मानजनक दिन कभी नहीं आयेगें ।  कार्यक्रम में संगठन समन्वयक मथुरादास जोशी, भी उपस्थित थें साथ ही जिला पंचायत अध्यक्ष कलावति भूरिया, पूर्व विधायक, वीरसिंह भूरिया, जेवियर मेडा, वालसिंह मेडा, तथा जिला कांग्रेस के सर्वश्री प्रकाश रांका, ठाकुर हनुमंतसिंह डाबी, ठाकुर जोरावरसिंह, हेमचंद डामोर, गेन्दाल डामोर, निकालचंद पडियार, कमरू अजनार, सुरेश मुथा, फतेसिंह भाबर, नरेन्द्र वसुनिया, आचार्य नामदेव, साबिर फिटवेल, हर्ष भट्ट, रूपसिंह डामोर, कैलाश डामोर, आशिष भूरिया, मन्नालाल हामड, नगर पालिका अध्यक्ष मनुबेन डोडियार, नगर पालिका उपाध्यक रोशनी डोडियार, कलावति गेहलोत, मालू डोडियार, उषा येवले, सायरा बानों, गौरव सक्सेना, वसीम सयैद, पाससिंह डिंडोर, नवलसिंह नायक, नाथुभाई ठेकेदार,जशवंतसिंह भाभोर, कमलेश पटेल, कालूसिंह नलवाया, काफी संख्या में कांग्रेस पदाधिकारी उपस्थित थें ।

कांग्रेस कार्यकर्ताओ से क्षेत्रवार मुलाकात की

झाबुआ । दीपक बाबरिया ने आज झाबुआ, थान्दला, एवं पेटलावद विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसजनों से बंद कमरे में अलग अलग गु्रपों से चर्चा की इस चर्चा में बाबरिया ने आगामी विधानसभा चुनाव 2018 प्रत्याक्षीयों के चयन एवं ब्लाॅक स्तर पर संगठन की स्थिति सेक्टर एवं बुथवार चर्चा कर जानकारी प्राप्त की, जिसमें ग्रामीण क्षेंत्र से आये ग्रामीणजनों, सरपंचों व विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने उत्साह पूर्वक भाग लेकर अपनी अपनी क्षेत्र की समस्याओं तथा प्रत्याक्षीयों के पक्ष में दावें प्रस्तुत किये । लगभग तीन धण्टें तक चली इस मुलाकात में जिले की वस्तु स्थिति प्रदेष प्रभारी के सामने स्पष्ट हो गई । इससे कांग्रेसजनों में उत्साह एवं खुषीयों का संचार हुआ वहीं बाबरिया ने अनेक मुद्दों पर चर्चा करते हुए महत्वपूर्ण जानकरी प्राप्त की । इस दौरान पूर्व विधायकों तथा सांसद कांतिलाल भूरिया को भी चर्चाओं से दुर रखा गया।  

कराते चेम्पियनों ने झाबुआ की पहचान पूरे देष मंे बनाई -ः यषवंत भंडारी
  • अगस्त माह में राज्य स्तरीय कराते टूर्नामेंट का किया जाएगा आयोजन -ः उमंग सक्सेना
  • देष में नाम रोषन करने वाले कराते खिलाड़ियों को प्रदान किए गए प्रमाण-पत्र एवं डेªसेस

jhabua news
झाबुआ। जिला कराते एसोसिएषन झाबुआ द्वारा स्थानीय रोटरी सदन के हाॅल में सोमवार शाम 4 बजे शहर के कराते चेंम्पियनों का स्वागत समारोह रखा गया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पीजी काॅलेज झाबुआ के जनभागीदारी समिति अध्यक्ष यषवंत भंडारी थे। अध्यक्षता जिला कराते एसोसिएषन के जिलाध्यक्ष उमंग सक्सेना ने की। विषेष अतिथि के रूप में रोटरी के सहायक मंडलाध्यक्ष अजय रामावत, मप्र उपभोक्ता हितेषी मंच के जिलाध्यक्ष एवं वरिष्ठ रोटेरियन जयेन्द्र बैरागी, के साथ रोटरी क्लब के नवीन सत्र के अध्यक्ष अमितसिंह जादौन (यादव) तथा सचिव हिमांषु त्रिवेदी मौजूद थे। कार्यक्रम का शुभारंभ कराते के मंत्र के साथ हुआ। अतिथियों का स्वागत जिला कराते एसोसिएषन की ओर से उपाध्यक्ष कमल सोलंकी, सह-सचिव बादल पांडे, कोषाध्यक्ष विषाल त्रिवेदी, सदस्य सुनील सिकरवार, कोच राजा अरोड़ा के साथ रोटरेक्ट क्लब से उपाध्यक्ष दौलत गोलानी, सचिव राकेष पोतदार, युवा रोटेरियन अर्पित संघवी, कार्तिक नीमा एवं यसिल शाह ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि पीजी काॅलेज के जनभागीदारी अध्यक्ष श्री भंडारी ने बताया कि झाबुआ के कराते चेम्पियनों ने पिछले दिनों सोलन (हिमांचल प्रदेष) में जाकर यहां राष्ट्रीय स्तर पर कराते चेम्पियन शीप में हिस्सा लेकर कराते में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्षन कर गोल्ड, रजत एवं ब्रांज मेडल प्राप्त किए, जिससे इन खिलाड़ियों पर हमें नाज है। इन खिलाड़ियों ने झाबुआ की पहचान पूरे देष में बनाई है, चूंकि राष्ट्रीय स्तर पर चेम्पियन प्रतियोगिता होने से पूरे देष के खिलाड़ियों ने इसमें सहभागिता की थी।

हुनर की नहीं है कमी
इस अवसर पर अध्यक्षता कर रहे जिला कराते एसोसिएषन अध्यक्ष श्री सक्सेना ने कहा कि झाबुआ शहर के कराते के बच्चों में हुनर की कोई कमी नहीं है एवं उनका बड़े मंचों पर वे खुलकर प्रदर्षन भी करते है। इसी का परिणाम है कि सोनल में आयोजित चेंपियन शीप में झाबुआ से गए सभी बच्चों ने सफलता हासिल की। साथ ही बताया कि संभवतः अगस्त माह में झाबुआ कराते एसोसिएषन द्वारा राज्य स्तरीय कराते टूर्नामंेट का आयोजन किया जाएगा, इसकी रूपरेखा तैयार की जाएगी। विषेष अतिथि वरिष्ठ रोटेरियन श्री बैरागी ने अपनी कविता के माध्यम से खिलाड़ियों का उत्सावर्धन किया। रोटरी के सहायक मंडलाध्यक्ष श्री रामावत ने जिला कराते एसोसिएषन को अपनी ओर से हर संभव मद्द करने की बात कहीं। कर्यक्रम को रोटरी क्लब अध्यक्ष श्री जादौन एवं सचिव श्री त्रिवेदी ने भी संबोधित करते हुए सभी कराते चेम्पियनों को शुभकामनाएं प्रेषित की।

प्रमाण-पत्र एवं डेªसेस प्रदान की
कार्यक्रम के समापन पर सभी खिलाड़ियों का अतिथियों द्वारा पुष्पमाला पहनाकर एवं प्रमाण-पत्र देकर सम्मान किया गया। इसके साथ ही कोच बादल पांडे एवं आयुष चैहान को सम्मानित करते हुए उन्हें एसोसिएषन की डेªसेस प्रदान की गई। इस अवसर पर विषेष रूप से वरिष्ठ पत्रकार एनयूके पिल्लई के साथ खिलाड़ियों के अभिभावकगण उपस्थित थे। अंत में आभार कराते एसोसिएषन के सचिव सूर्यप्रताप सिंह ने माना।

विधानसभा आम चुनाव-2018 के चुनाव कार्य को संपादित करवाने हेतु बैठक सम्पन्न
       
jhabua news
झाबुआ । आगामी विधानसभा आम चुनाव-2018 को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराये जाने एवं भारत निर्वाचन आयोग के मापदण्ड अनुसार बिजली, पानी, कनेक्टिीविटी, रुट चार्ट इत्यादि अन्य प्रकार की मूलभूत सुविधाओ के पर्यवेक्षण कार्य, क्रिटिकल एवं वल्नरवल मतदान केन्द्रो का चिन्हंाकन एवं अन्य आवष्यक तैयारियों के सम्बन्ध मे आज 02 जुलाई 2018 को कलेक्टोरेट सभा कक्ष मे बैठक का आयोजन किया गया। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना, ने की। बैठक मे पुलिस अधीक्षक श्री महेषचंद्र जैन, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे सहित नोडल अधिकारी एवं निर्वाचन कार्य से जुडे षासकीय सेवक उपस्थित थे। बैठक मे बी.एल.ओ. एवं सुपरवाईजर को निर्देष दिये गये कि मतदाता सूची से अनुपस्थित, मृत, दोहरी अन्यत्र स्थानांतरित मतदाताओ के संबंध मे, सही एंट्री करे। डीएसई के संबंध मे, मतदान केंद्रो पर मतदाताओ एवं मतदान अधिकारी के लिये मूलभूत सुविधाओ के संबंध मे समीक्षा की गईं। मतदान केंद्रो मे बिजली, पानी, षौचालय एवं अन्य सुविधाएं सुनिष्चित करने के लिये सेक्टर अधिकारियो को निर्देष दिये गये। दिव्यांगजनो के मतदान के संबंध मे चर्चा की गई। ईव्हीएम मषीन एवं व्हीव्हीपेड के अंतर्गत ईव्हीएम मषीन एवं व्हीव्हीपेड का प्रदर्षन करना, स्वीप प्लान तैयार करना, माॅडल कोड एंड कंडक्ट के संबंध मे, कम्यूनिकेषन प्लान के संबंध मे, मतदान की नवीन प्रक्रिया के संबंध मे तथा विभिन्न मतदान केंद्रो के संबंध मे चर्चा की गई एवं आवष्यक निर्देष दिये गये। कानून व्यवस्था के अंतर्गत कानून व्यवस्था तथा संपत्ति विरुपण अधिनियम, कोलाहल अधिनियम के संबंध मे, राजस्व एवं पुलिस अधिकारियो को आवष्यक निर्देष दिये गये। रुटचार्ट एवं प्रचार प्रसार भ्रमण के संबंध मे चर्चा की गई।

अब जनजातीय कार्य विभाग करवाएगा आधार एनरॉलमेंट

झाबुआ । प्रदेश के लगभग 2 करोड आदिवासी एवं अनुसूचित जाति वर्ग के व्यक्तियों का आधार एनरॉलमेंट कार्य तथा आधार में उनकी जानकारी को अद्यतन रखने के लिए जनजातीय कार्य विभाग द्वारा पहल कर विभाग की विभिन्न संस्थाओं तथा कार्यालयों में आधार एनरॉलमेंट केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं। भारत शासन एवं राज्य शासन की विभिन्न योजनाओं में डीबीटी को अनिवार्य करने के चलते यह आवश्यक हो गया है कि सभी हितग्राहियों के पास आधार नंबर हों तथा उनके बैंक अकाउंट आधार से लिंक हों। यूआईडीएआई द्वारा निजी संस्थाओं एवं कीऑस्क के माध्यम से आधार एनरॉलमेंट एवं आधार में जानकारी अद्यतन रखने का काम बंद करने से प्रदेश में आधार केंद्रों की संख्या घट गई थी। इसके चलते व्यक्तियों को आधार संबंधी कार्य करने में परेशानी हो रही थी। विभाग द्वारा अपने अधीनस्थ कार्यालयों तथा संस्थाओं में 1010 आधार एनरॉलमेंट एवं अपडेशन केन्द्र स्थापित करने के लिए भारत शासन के जनजातीय कार्य मंत्रालय को 10 करोड़ का प्रोजेक्ट भेजा गया था जो भारत शासन के द्वारा संविधान की धारा 275(1) के अंतर्गत स्वीकृत कर दिया गया है। प्रदेश के 20 जनजातीय जिलों में विभाग की सभी संकुल शालाओं, विकासखंड कार्यालयों तथा जिला कार्यालयों में यह केन्द्र शीघ्र ही स्थापित किये जा रहे हैं। अन्य जिलों में जनजातीय, अनुसूचित जाति विभाग के जिलाधिकारी के कार्यालय में तथा संभागीय कार्यालय में आधार एनरॉलमेंट केन्द्र स्थापित किए जाएँगे। मध्यप्रदेश स्टेट इलेक्ट्रॉनिक डॅवलपमेंट कॉरपोरेशन के माध्यम से आधार किट क्रय करने की कार्रवाई शुरू की गई है। विभाग द्वारा 1010 कर्मियों का चिन्हांकन भी कर लिया गया है, जिन्हें जिले के त्ब्ठब् केन्द्रों के माध्यम से आधार किट के संचालन का प्रशिक्षण दिया जाएगा। विभाग में आधार एनरॉलमेंट केन्द्र स्थापित करने से प्रदेश के जनजाति एवं अनुसूचित जाति वर्ग को डीबीटी के माध्यम से विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं की राशि सरलता से प्राप्त हो जाएगी।

प्रदेश की एक लाख 11 हजार शालाओं में हुआ मूलभूत दक्षताओं का आकलन
  • बेसलाइन टेस्ट में शेष रहे बच्चों की दक्षता का आकलन 10 जुलाई तक जारी होगा

झाबुआ । स्कूल शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिये 25 जून से बेसलाइन टेस्ट शुरू किया, जो 30 जून तक चला। बेसलाइन टेस्ट के माध्यम से प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं में विद्यार्थियों में दक्षता का आकलन किया गया। प्रदेश की लगभग एक लाख 11 हजार प्राथमिक और माध्यमिक सरकारी शालाओं में पढ़ने वाले 54 लाख बच्चों के बीच बेसलाइन टेस्ट किया गया। बेसलाइन टेस्ट के जरिये विद्यालयों में विद्यार्थियों के सीखने के स्तर के आधार पर उनका समूह में वर्गीकरण किया गया। दूसरे चरण में बेसलाइन टेस्ट की डाटा एन्ट्री की जायेगी, जिससे जिला एवं राज्य-स्तर पर मूलभूत दक्षताओं की स्थिति का अवलोकन किया जायेगा। बेसलाइन टेस्ट की पारदर्शिता और विश्वसनीयता बनाये रखने के लिये विभागीय स्तर पर शाला मित्र, प्रधानाध्यापक और थर्ड पार्टी मॉनीटरिंग के रूप में प्रदेश के केन्द्रीय विद्यालय के स्टॉफ का भी सहयोग लिया गया। जिन बच्चों का बेसलाइन टेस्ट नहीं हो सका है, उनके लिये 10 जुलाई तक यह कार्य किया जायेगा। बेसलाइन टेस्ट के विश्लेषण के बाद बच्चों की दक्षता बढ़ाने के लिये शैक्षणिक स्तर पर प्रयास किये जायेंगे। इस प्रक्रिया में हिन्दी भाषा और गणित की विशेष कक्षाएँ लगाई जायेंगी। प्रदेश में इस वर्ष बेसलाइन टेस्ट प्रक्रिया में वीडियो का भी उपयोग किया गया है। इसकी सूचना लिंक शिक्षकों को उनके मोबाइल पर दी गई। बेसलाइन टेस्ट में यू-ट्यूब का भी उपयोग किया गया। राज्य शिक्षा केन्द्र ने बेसलाइन टेस्ट के आकलन और उसके विश्लेषण के लिये जिला शिक्षाधिकारियों और जिला समन्वयकों को निर्देश जारी किये हैं।

प्रदेश में मानसून की दस्तक के साथ ही सतर्क हुआ स्वास्थ्य विभाग
  • मौसमी बीमारियों से निपटने के लिये सभी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित, नियमित होगी समीक्षा, नियंत्रण-कक्ष स्थापित

झाबुआ । प्रदेश में बारिश की शुरूआत होने के साथ ही मौसमी बीमारियों जैसे दस्त-उल्टी, स्वाइन फ्लू एवं वाहक जनित रोगों (मलेरिया, डेंगू, चिकुनगुनिया) के खतरों की संभावनाओं की ध्यान में रखकर इनकी जाँच एवं उपचार के लिये स्वास्थ्य विभाग ने सभी आवश्यक तैयारियाँ सुनिश्चित की हैं। प्रमुख सचिव, स्वास्थ्य द्वारा गत दिवस भोपाल में मौसमी बीमारियों से निपटने के लिये तैयारियों की समीक्षा की गई। इन बीमारियों की समुचित रोकथाम एवं उपचार प्रबंधन के संबंध में दिशा-निर्देश भी जारी किये गये। प्रदेश के मैदानी स्वास्थ्य अमले को निरंतर सतर्क रहने के लिये भी कहा गया है। राज्य-स्तर पर मौसमी बीमारियों की प्रति दिन मॉनीटरिंग के लिये राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यालय में कंट्रोल-रूम स्थापित किया गया है। कंट्रोल-रूम से प्रति दिन दो बार प्रातरू 11-12 बजे एवं शाम की 6 बजे रिपोर्ट जारी की जायेगी, जिसके आधार पर प्रभावित जिलों के लिये आवश्यक निर्देश जारी करते हुए स्थिति को नियंत्रण में रखा जा सकेगा। प्रदेश में जिला स्तर पर भी मौसमी बीमारियों के नियंत्रण के लिये कंट्रोल-रूम संचालित होंगे। जिला कंट्रोल-रूम से प्रतिदिन सुबह 10.30 से 11.30 बजे एवं शाम को 4-5 बजे के बीच में निर्धारित प्रारूप में जानकारी राज्य-स्तर पर भेजने के निर्देश दिये गये हैं। जिला ऐपिडेमियोलॉजिस्ट, जिला मलेरिया अधिकारी एवं वरिष्ठ जिला स्वास्थ्य अधिकारी जिला-स्तर पर कंट्रोल-रूम के प्रभारी होंगे। इसके अतिरिक्त कंट्रोल-रूम से जानकारी प्रेषित करने का दायित्व संबंधित जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी का होगा। राज्य एवं जिला-स्तर के कंट्रोल-रूम प्रातः 10.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक क्रियाशील रहेंगे। कंट्रोल-रूम स्थापना की जानकारी उनके दूरभाष नम्बर के साथ सभी क्षेत्रीय अधिकारी, स्वास्थ्य कर्मचारी एवं आशा कार्यकर्ताओं को दी जा रही है। इससे वे आवश्यकतानुसार मौसमी बीमारियों तथा अन्य स्वास्थ्य संबंधी घटनाओं की जानकारी कंट्रोल-रूम पर सीधे भेज सकेंगे। प्रदेश में 43 सेन्टीनल साइट के माध्यम से डेंगू, चिकुनगुनिया की जाँच की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। इसके अतिरिक्त सभी जिलों में ग्राम-स्तर तक रैपिड डायग्नोस्टिक किट द्वारा मलेरिया जाँच की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिये मैदानी अमले को आरडी किट एवं मलेरिया पाये जाने पर पूर्ण मौलिक उपचार देने के लिये पर्याप्त मात्रा में एन्टीमलेरियल औषधियाँ उपलब्ध करवाई गई हैं। सभी जिला चिकित्सालयों में गंभीर मलेरिया रोगियों की भर्ती एवं उपचार की व्यवस्था की गई है। प्रदेश में एनआईआरटीएच जबलपुर, डीआरडीओ ग्वालियर एवं एम्स भोपाल में सिजनल इन्फ्लूऐंजा (एच-1 एन-1) की जाँच की सुविधा उपलब्ध है। पॉजिटिव पाये गये रोगियों के उपचार के लिये सभी जिलों में पर्याप्त मात्रा में टेमीफ्लू औषधि उपलब्ध करवाई गई है। वर्षा ऋतु में उल्टी-दस्त के बढने की संभावना रहती है, जिसके उपचार के लिये सभी दवाएँ प्रदेश की सभी स्तर की स्वास्थ्य संस्थाओं को उपलब्ध करवा दी गई है। प्रदेश में सभी जन-समुदाय से अपील की गई है कि मौसमी बीमारियों से बचाव एवं रोकथाम के संबंध में जागरूक रहें एवं बीमारी के नियंत्रण में सहयोग प्रदान करें।

आशा कार्यकताओं के लिए फोन-इन कार्यक्रम का प्रसारण 3 जुलाई को

झाबुआ । ‘‘परिवार कल्याण विश्व जनसंख्या दिवस’’ के संबंध में आशा कार्यकर्ताओं के लिए फोन-इन कार्यक्रम आगामी 3 जुलाई प्रथम मंगलवार को दोपहर 1.15 से 2.15 तक आकाशवाणी भोपाल से प्रसारित किया जायेगा। इस दौरान फोन नं. 0755-2660902, 2660903 पर आशा कार्यकर्ता सवाल पूछ सकती है।

डेंगु एवं चिकुनगुनि‍या रोग से बचाव हेतु सावधानियां जरूरी
       
झाबुआ । डेंगु एवं चिकुनगुनिया का वाहक मच्‍छर रुके हुए साफ पानी में पैदा होता है और दिन के समय काटता है। नागरीकगण वर्षा के पानी को जमा न होने दें। आस-पास सफाई रखें और डेंगू एवं ‍चिकुनगुन्‍या से बचें। डेंगू के लक्षण में तेज बुखार, ऑंखों, मांसपेशियों और सिर में तेज दर्द, मसूड़ों व नाक से खून बहना, शरीर पर लाल चकत्‍ते होना डेंगू हो सकता है। चिकुलगुन्‍या के लक्षण में तेज बुखार, सिर दर्द, जोड़ों में दर्द शरीर पर लाल चकत्‍ते आना आदि हैं। लक्षण पाये जाने पर खून की जांच कराएं, जांच में डेंगू या चिकुनगुन्‍या पाए जाने पर डॉक्‍टर की सलाह अनुसार पूरा उपचार लें। बचाव के लिए पानी के बर्तन ढंक कर रखें। अनुपयोगी साम‍ग्रियों जैसे कूलर, ड्रम, टंकी, बाल्‍टी आदि में पानी जमा न होने दें। दोबारा उपयोग से पूर्व उन्‍हें अच्‍छी तरह सुखाएं। हैण्‍डपंप के आस-पास भी पानी इकट्ठा न होने दें। जमे पानी पर मिट्टी का तेल या जला हुआ इंजन का तेल डालें। आस-पास सफाई रखें। सोते समय मच्‍छरदानी का उपयोग करें। पूरी अस्‍तीन के कपड़े पहने और डेंगू एवं चिकुनगुन्‍या से बचें। डेगू एवं चिकुनगुन्‍या की जॉंच व उपचार की सु‍विधा सभी सरकारी अस्‍पतालों में निशुल्‍क उपलब्‍ध है।

बीज ग्राम कार्यक्रम के संबंध में निर्देश जारी
       
झाबुआ । प्रदेश में केन्द्र सरकार के बीज ग्राम क¨ लागू करने के लिये किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने जिल¨ं में पदस्थ उप संचालक¨ं क¨ दिशा-निर्देश जारी किये हैं। प्रदेश में 5,500 बीज ग्राम कार्यक्रम खरीफ-2018 सीजन के द©रान आय¨जित किये जाने हैं। इसके लिये वित्तीय आवंटन भी जारी कर दिया गया है। कृषि विभाग के उप संचालक¨ं से कहा गया है कि प्रति बीज ग्राम कम से कम 50 हितग्राहिय¨ं के कार्यक्रम आय¨जित किये जायें। बीज ग्राम में हितग्राहिय¨ं क¨ दी जाने वाली अनुदान वस्तु डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर इन काइंड (डीबीटी) के माध्यम से दी जाये।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का क्रियान्वयन महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किया जायेगा

झाबुआ । प्रधानमंत्री मातृ वंदना अंतर्गत गर्भवती व धात्री माताओं को महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा वर्ष 2017 से लाभांवित किया जा रहा हैं। शासन द्वारा किये गये निर्देश अनुसार वर्ष 01 जनवरी 2017 से संचालित प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का संचालन अब महिला एवं बाल विकास द्वारा ही किया जायेगा, न कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा योजना गर्भवती महिलाओं व शिशुओं के बेहतर स्वास्थ्य के लिए लागू की गई हैं। योजना का लाभ लेने के लिए हितग्राहियों को अपने पास की आगंनबाड़ी केन्द्र में गर्भावस्था का शीघ्र पंजीयन करवाना होता है। पंजीयन के पश्चात निर्धारित फार्म में जानकारी, हितग्राही को स्वयं अपना व पति का आधार नंबर, बैंक खाता, मातृ एवं बाल सुरक्षा कार्ड आदि आंगनबाड़ी केन्द्र में दर्ज करवाना होता हैं। योजना अंतर्गत केवल पहले बच्चे की माताओं को ही 5 हजार रूपये की राशि का लाभ प्राप्त होता हैं। योजना के तहत 5 हजार रूपये की राशि तीन किश्तों में दी जाती हैं। प्रथम किश्त एक हजार रूपये गर्भावस्था का पंजीयन किये जाने पर, द्वितीय किश्त 2 हजार रूपये गर्भावस्था के 06 बाद कम से कम एक प्रसव पूर्व जांच किये जाने के पश्चात व तृतीय किश्त 2 हजार रूपये बच्चे के प्रथम चक्र का टीकाकरण पूर्ण होने पर निर्धारित शर्तें पूर्ण होने पर दी जा रही हैं। राशि प्राप्त करने के लिए पात्र गर्भवती महिलाओं को उनके बैंक या पोस्ट ऑफिस के खाते को आधार से लिंक करवाना आवश्यक है। योजनांतर्गत स्वीकृतकर्ता अधिकारी परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास है।

वरिष्ठजन की समस्याओं के निराकरण के लिये हेल्प लाइन का शुभारंभ

झाबुआ । वरिष्ठजनों की विभिन्न समस्याओं का निराकरण एक टेलीफोन कॉल से हो सकेगा। इसके लिये सामाजिक न्याय एवं निरूशक्तजन कल्याण विभाग ने हेल्पेज इंडिया के सहयोग से वृद्धजन एकीकृत कार्यक्रम के तहत टोल फ्री हेल्पलाइन 18002331253 शुरू की है। हेल्पलाइन का शुभारंभ प्रमुख सचिव सामाजिक न्याय श्री अशोक शाह ने किया। प्रमुख सचिव श्री शाह ने कहा कि सामाजिक न्याय विभाग द्वारा वरिष्ठजनों के लिये शुरू की गई हेल्पलाइन से वरिष्ठ नागरिकों के प्रति संवेदनशीता बढ़ेगी। साथ ही एक कॉल से वरिष्ठजनों को सभी प्रकार की समस्याओं से निजात मिलेगा। युवाओं में जागरूकता लाने के उद्देश्य से स्कूल एवं कॉलेजों में विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन भी विभाग द्वारा करवाया जाएगा। संचालक, सामाजिक न्याय एवं निरूशक्तजन श्री कृष्ण गोपाल तिवारी ने कहा कि हेल्पलाइन के माध्यम से वरिष्ठजनों को शारीरिक प्रताडना, वृद्ध आश्रम की जरूरत उनको मिलने वाली कानूनी सलाह, काउंसलिंग, परिवार परामर्श एवं अन्य सुविधाओं का लाभ मिलेगा। हेल्पेज इंडिया मध्यप्रदेश की संचालक श्रीमती संस्कृति खरे ने पॉवर पाईंट के माध्यम से मध्यप्रदेश शासन की वरिष्ठजनों के लिए संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी और कहा कि वृद्धजनों पर हो रही हिंसा और अत्याचारों से एक फोन पर तत्काल रोका जा सकेगा।

प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रशिक्षण हेतु 15 जुलाई तक आवेदन आमंत्रित

झाबुआ । मध्यप्रदेश राज्य लोक सेवा आयोग रेलवे बीमा, बैंकिंग और व्यापम की परीक्षाओं के प्रशिक्षण हेतु अनुसूचित जाति एवं जनजाति के ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने स्नातक परीक्षा न्यूनतम 55 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण की हो शासकीय परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण केन्द्र (शासकीय ज्ञानोदय विद्यालय कैम्पस) में उपस्थित होकर 15 जुलाई तक आवेदन कर सकते हैं। परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण केन्द्र के प्राचार्य ने बताया कि मध्यप्रदेश राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा का प्रशिक्षण प्रारंभ कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि पूर्व प्रशिक्षण में इस केन्द्र से तीन पटवारी एवं एक छात्र लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक परीक्षा में चयनित हो चुके हैं।

समग्र आईडी में संशोधन के लिए करें ऑनलाइन आवेदन

झाबुआ । राज्य शासन की विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों और स्कूलों में एडमिशन के लिए जरूरी समग्र आईडी में गलत जानकारी फीड होने पर संशोधन के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है। किसी भी आईडी में दो से अधिक बार संशोधन नहीं कराया जा सकेगा। संशोधन के लिए प्रामाणिक दस्तावेज होना जरूरी है।

3 जुलाई को होगी हायर सेकंडरी की सप्लीमेंट्री परीक्षा
      
झाबुआ । मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल (मप्र माशिमं) की हायर सेकंडरी की सप्लीमेंट्री परीक्षा तीन जुलाई को होगी। जबकि हाईस्कूल की सप्लीमेंट्री परीक्षाएं चार से 12 जुलाई तक आयोजित की जाएंगी। यह परीक्षाएं निर्धारित केंद्रों पर सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक होंगी। माशिमं के प्रवक्ता एसके चैरसिया के मुताबिक कुल 749 केंद्र इन परीक्षाओं के लिए बनाए गए हैं। इन पर हायर सेकंडरी के 1 लाख 10 हजार और हाईस्कूल के 1 लाख 28 हजार विद्यार्थी शामिल होंगे।

षासकीय स्कूल, छात्रावास, आश्रमो, षिक्षण संस्थाओ के लिये कलेक्टर ने गठित किये निगरानी दल मूलभूत सुविधा एवं सुरक्षा व्यवस्था की करेंगे निगरानी
       
झाबुआ । कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने स्कूलो एवं षैक्षणिक संस्थाओ मे मूलभूत सुविधाएं एवं सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी हेतु निगरानी दल गठित करने का आदेष जारी किया है। जारी आदेषानुसार जिला मुख्यालय एवं अनुभाग स्तरीय निगरानी दल नियमित रुप से जांच करेंगे तथा व्याप्त मूलभूत समस्याओ एवं सुरक्षा व्यवस्थाओ की कमियो को दूर करने हेतु षासन के निर्देषो के षासन के निर्देषो के अनुसार व्यवस्थाएं सुनिष्चित करने के लिये जानकारी प्राप्त कर संबंधित स्कूल प्रबंधन को लिखित मे समय सीमा मे बताते हुए सुनिष्चित करेंगे तत्पष्चात नियमित समीक्षा कर समस्त बिदुंओ पर पालन करवाना सुनिष्चित करेंगे। यदि कोई स्कूल प्रबंधन निर्देषो का पालन नही करता है तो कार्यवाही हेतु कलेक्टर को जानकारी उपलब्ध करवायेंगे। दल प्रभारी प्रति सप्ताह/प्रतिमाह प्रतिवेदन देंगे। विभागीय अधिकारी अपने कर्तव्य एवं अधिकारो का उपयोग करने हेतु स्वतंत्र रहेंगे।

यह रहेंगे निगरानी दल मे
झाबुआ मुख्यालय की षासकीय स्कूल, छात्रावास, आश्रमो, षिक्षण संस्थाओ के निरीक्षण करने के लिये दल मे -
सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग झाबुआ (दल प्रभारी)
तहसीलदार झाबुआ
जिला महिला सषक्तिकरण अधिकारी झाबुआ
जिला परियोजना समन्वयक सर्व षिक्षा अभियान झाबुआ
थाना प्रभारी झाबुआ षामिल रहेंगे।
झाबुआ मुख्यालय की निजी स्कुलो, आश्रम, छात्रावासो, षिक्षण संस्थाओ के लिये गठित दल मे -
अनुविभागीय दंडाधिकारी झाबुआ (दल प्रभारी)
जिला परिवहन अधिकारी झाबुआ
अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) झाबुआ
जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास विभाग झाबुआ
जिला षिक्षा अधिकारी षामिल रहेेगे।
अनुभाग विकास खंड स्तर की षासकीय एवं निजी स्कूलो, आश्रम, छात्रावासो षिक्षण संस्थाओ के निरीक्षण के लिये दल मे -
अनुविभागीय दंडाधिकारी (दल प्रभारी)
अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस)
परियोजना अधिकारी आईसीडीएस
विकास खंड षिक्षा अधिकारी
विकास ख्ंाड स्त्रोत समन्वयक षामिल रहेंगे।
कार्यवाही करने हेतु कलेक्टर के उपलब्ध अधिकारो का उपयोग करने के लिये दल प्रभारी अधिकृत रहेंगे।

संबल योजना मे सभी पात्र मजदूरो के बिल माफी की जानकारी अपडेट करे, समयावधि पत्रो की समीक्षा बैठक संपन्न

jhabua news
झाबुआ । आज कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में समयावधि पत्रो की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने की। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में विभागवार समयावधि पत्रो जनसुनवाई, लोकसेवा गारंटी, सी.एम.हेल्पलाइन इत्यादि की समीक्षा की गई एवं आवश्यक निर्देश दिये गये। षासन की संबल योजना मे पंजीकृत मजदूरो के बिल माफी की जानकारी पोर्टल पर अपडेट करवाने के निर्देष अधीक्षण यंत्री एमपीईबी को, प्रसूति सहायता की इन्ट्री पोर्टल पर अपडेट करने के लिये सीएमएचओ को एवं अंत्येष्टि सहायता एवं अनुग्रह राषि की इन्ट्री पोर्टल पर अपडेट करवाने के लिये संबंधित अधिकारियो को कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने समयावधि पत्रो की समीक्षा बैठक मे निर्देष्ति किया।

11 जुलाई को वनाधिकार की बैठक करे
वनाधिकार अधिनियम के तहत प्राप्त आवेदनो के प्रकरण का निराकरण करने के लिये ग्रामीण स्तर से प्राप्त दावो का निराकरण करने के लिये खण्ड स्तरीय समिति की बैठक का आयोजन सभी विकासखंडो मे एसडीएम की अध्यक्षता मे 11 जुलाई को करने के निर्देष कलेक्टर ने दिये। बैठक मे ग्रामीण क्षेत्र से प्राप्त दावो का निराकरण करने के निर्देष संबंधित अधिकारियो को दिये। 4 अगस्त को होने वाले हितग्राही सम्मेलन की तैयारी कर हितग्राहियांे को लाने के लिये उद्योग अधिकारी, आईटीआई, कृषि विभाग एवं उद्यानिकी विभाग के संबंधित अधिकारियो को आवष्यक निर्देष दिये। जिन ग्राम पंचायतो मे बैंक करस्पोन्डेन्ट नही है, उन पंचायतो मे बी. सी. की नियुक्ति कर बैंकिग सेवाओ का विस्तार ग्राम स्तर तक करने के लिये एलडीएम को बैठक मे निर्देष दिये गये।

स्कूल, आंगनवाडी, स्वास्थ्य केंद्र का होगा आकस्मिक निरीक्षण
       
झाबुआ । अब जिले मे स्कूल, आंगनवाडी एवं स्वास्थ्य केंद्र की व्यवस्थाएं चुस्त दुरुस्त करने के लिये कलेक्टर एवं सीईओ जिला पंचायत आकस्मिक भ्रमण कर व्यवस्थाओ का जायजा लेंगे। स्कूल आंगनवाडी एवं स्वास्थ्य कंद्र पर अनियमितता पाये जाने पर अनुषासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।

ग्राम रजला मे हितग्राहियो को गैस कनेक्षन किये वितरित
       
jhabua news
झाबुआ । ग्राम पंचायत रजला, छापरी, गुलाबपुरा, वगलावत भूरिया के हितग्राहियों को ग्राम पंचायत रजला में 300 परिवारो को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के गैस कनेक्शन वितरण किये गये। इस अवसर पर मुख्य अतिथि पेटलावद विधायक सुश्री निर्मला भूरिया, अध्य्ाक्षता सरपंच ग्राम पंचायत रजला श्रीमती कमला सोम सिंह सोलंकी, ने की। मुख्य अतिथि विधायक सुश्री निर्मला भूरिया ने कहा कि आपके जीवन मे आज से महत्वपूर्ण परिवर्तन आया है। शासन की इस योजना से आज लाभान्वित होने जा रही हैं। अब आपको बरसात में लकडी व कंडे नही जलाने पड़ेंगे। आप आज से सशक्त व मजबूत होंगी। योजना का लाभ रिश्तेदारों व सगे संबंधी को भी बताऐ। आप स्वस्थ रहेंगी तो परिवार भी मजबूत रहेगा। आपकी इसी तरह सेवा करती रहूँगी। आपका बहुत बहुत धन्यवाद। इस अवसर पर हितग्राहियो को संबोधित करते हुए जनप्रतिनिधियो ने कहा कि आप सभी के जीवन मे आज से कभी भी आंसू नही आवेंगे। माता बहनो को उज्ज्वला का लाभ मिला। यह बहुत ही गर्व का क्षण है। आप के बीच आकर हमे बहुत अच्छा लगा।

बडौदा स्वरोजगार विकास संस्थान के आगामी प्रषिक्षण कार्यक्रम
       
झाबुआ । बडौदा स्वरोजगार विकास संस्थान (बडौदा आर सेट्टी), झाबुआ के निदेषक श्री अजय कुमार अवस्थी द्वारा सुचित किया गया है कि आगामी त्रैमास मे संस्थान द्वारा फास्ट फूड निर्माण, महिला सिलाई, कम्प्यूटर, एकाउंटिंग, एल.एम.वी. ड्राइविंग, डेरी व बर्मी कम्पोस्ट, मुर्गी पालन, मोटर रीबाइंडिंग आदि का स्वतः रोजगार प्रषिक्षण आरंभ होना है। इच्छुक युवा/युवतियां जिनकी आयु 18 से 45 वर्ष और ग्रामीण रहवासी हो, संस्थान कार्यालय (डी.आर.पी. लाइन के पीछे, माधोपुरा, झाबुआ ) पर संपर्क कर सकते है। संस्थान द्वारा प्रषिक्षण दिवस मे भोजन आदि निःषुल्क उपलब्ध है और प्रषिक्षण उपरान्त बैंको से ऋण प्राप्ति मे भी सहायता की जाती है।

समाधान आॅनलाईन वीडियो कांफ्रेंस 03 जुलाई को
       
झाबुआ । मुख्यमंत्री मध्यप्रदेष षासन की अध्यक्षता मे 03 जुलाई को सायं 4 बजे से समाधान आॅनलाईन वीडियो कान्फ्रेंस का आयोजन किया जाएगा। कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने संबंधित अधिकारियो को आवष्यक जानकारी के साथ एनआईसी कक्ष मे नियत समय पर उपस्थित रहने हेतु निर्देषित किया है।

वंदेमातरम का हुआ गायन
     
झाबुआ । माह के पहले कार्यदिवस पर आज कलेक्ट्रेट कार्यालय में राष्ट्रीय गीत वंदेमातरम एवं मध्यप्रदेष गान का गायन किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना , एडीएम श्री एसपीएस चैहान सहित कलेक्टर कार्यालय परिसर के विभागों के अधिकारी एवं षासकीय सेवक उपस्थित थेे।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...