झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 13 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

शुक्रवार, 13 जुलाई 2018

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 13 जुलाई

समन्‍वय और एकता के मार्ग से सत्‍ता में काबिज होगी कांग्रेस: दिग्‍विजय सिंह

jhabua news
झाबुआ । झाबुआ जिले के तीनों विधानसभाओं के कांग्रेसजनों में समन्‍वय स्‍थापित करने हेतु अपने एकदिवसीय प्रवास पर 13 जुलाई को प्रवास पर आए पूर्व मुख्‍यमंत्री एवं राज्‍यसभा सदस्‍य दिग्विजय सिंह ने स्‍थानीय एक निजी गार्डन में कांग्रेसजनों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा कांग्रेस के बिखराव तथा वैचारिक मतभेद के रहते सत्‍ता में प्रदेश में 15 वर्षों से काबिज है। जातिगत एवं भ्रमभुलावे की राज‍नीति कर प्रदेश की भाजपा सरकार भ्रष्‍टाचार के आकंठ में डुबी हुई है। महंगाई, भ्रष्‍टाचार, किसानों, व्‍यापारियों, बैरोजगार युवकों तथा महिला असुरक्षा जैसी स्थिति प्रदेश में गंभीर रूप से बनी हुई है किंतु प्रदेश के मुख्‍यमंत्री और उसका मं‍त्रीमण्‍डल नितनए प्रयोग कर प्रदेश की जनता के साथ राजनीतिक क्षल कर सत्‍ता में बने हुए है। कांग्रेस एकजुट होकर भाजपा के कुशासन को उखाड़ फेंकने के लिए संकल्‍प शक्ति के साथ मैदान में आई है और इसी परिपेक्ष में मेने प्रदेश में समन्‍वय यात्रा कर लोगों को जोड़ने का काम किया है और इसके परिणाम भी अच्‍छे मिल रहे हैं। आने वाले दिनों में जनता ने कांग्रेस को सत्‍ता की बागडोर शोंपने का अपना मन बना लिया है और मेरी इस यात्रा से भी लोगों में बड़ा उत्‍साह देखा जा रहा है। समन्‍वय और एकता के मार्ग से ही प्रदेश की सत्‍ता में कांग्रेस काबिज होगी। आपने आगे कहा कि बिजली के बिल माफ करना, किसानों को उनकी फसल का उचित लाभ दिलाना तथा पीडित किसानों को आर्थिक मदद करने के साथ व्‍यापारियों को जीएसटी तथा अन्‍य करों से राहत देने, बैरोजगारों को रोजगार मुहैया कराने हेतु जो आडंबर एवं थोथे निराधार  आश्‍वासन देश की भाजपा सरकार द्वारा दिए जा रहे हैं वो मात्र राजनीतिक शब्‍दबाज है। मेरे मुख्‍यमंत्री के कार्यकाल में किसानों, गरीबों, आदिवासी एवं दलित वर्ग के साथ सर्वहारा वर्ग के विकास में अनेक योजनाएं श्रीमती स्‍व. इंदिरा गांधी, राजीव गांधी के निर्देश एवं मार्गदर्शन में क्रियान्वित की गई। जिससे किसानों के साथ हर वर्ग, धर्म के आमजन लाभांवित हुए। सिंचाई, कृषि, लघु उद्दोग, हथकरघा, बिजली जैसी समस्‍याओं के निदान के साथ वनभूमि के पट्टे आवासहीनों को आवास देने तथा बैरोजगारी को दूर करने में कामयाब रहा। सड़कों, जलाशयों, सार्वजनिक वितरण प्रणाली जैसे मुद्दों का भी समाधान किया गया किंतु भाजपा ने जातिवाद, दलगत नीति तथा राम जन्‍म भूमि जैसे मुद्दे प्रदेश में खड़े करके मतदाताओं को क्षला है, और इसी क्षदमवेश में आज भी प्रदेश के मतदाताओं को भ्रम व भुलावे की राजनीति में डाल कर 2018 के चुनाव जितने का राग अलाप रही है। आपने कहा कि आदिवासियो ने श्रम, सच्‍चाई व कर्मनिष्‍ठा को अपना धर्म मानकर कांग्रेस का साथ दिया है और इसी के चलते कांग्रेस ने भी उनके विकास में अनेक योजनाएं क्रियान्वित की है। जिससे उनका आर्थिक पिछड़ापन दूर हो किंतु भाजपा ने आदिवासी जिलों में क्षलकपट कर न केवल अपनी साम्राज्‍यवादी नीति का विस्‍तार किया है वरन आदिवासयिों को राजनीति में कोई तवज्‍जो नहीं दी है। जबकि कांग्रेस ने आदिवासियों का मान-सम्‍मान बड़ाने के लिए प्रदेश एवं केन्‍द्र के मंत्रिमंडल में जगह देकर आदिवासियों का मान बड़ाया है और उनकी समस्‍याओं को कांग्रेस ने बहुत करीब से जाना-परखा है। मध्‍यप्रदेश में काबिज होगी तो विधानपरिषद का गठन किया जाएगा और इसके गठन के साथ कांग्रेस के समर्पित नेताओं एवं कार्यकर्ताओं का सम्‍मान देने की दिशा में प्रयास किये जाएंगे। अंत में आपने 2018 के चुनाव में कांग्रेस प्रत्‍याशियों के जीत का संकल्‍प भी दिलवाया और सहभोज भी समन्‍वय समिति की ओर से आयोजित कर जिला कांग्रेस का सम्‍मान बड़ाया। श्री दिग्विजय सिंह ने कोई कोर कसर नहीं रखी। पूर्व केन्‍द्रीय मंत्री एवं क्षेत्रीय सांसद कांतिलाल भूरिया ने भी अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश में परिवर्तन की लहर प्रारंभ हो गई है। भाजपा के कथनी और करनी को आमलोग जान गए हैं और प्रदेश में बदलाव लाने के लिए लोगों ने मन बना लिया है ऐसे में कांग्रेसजन आपसी मतभेद एवं अंतःकलह की राजनीति को छज्ञेड़कर कांग्रेस को तीनों विधानसभा क्षेत्र में विजयश्री दिलाने की दिशा में सक्रिय रूप से काम करे तो उनका भी संगठन में सम्‍मान बना रहेगा। आपने कहा कि आदिवासियों को सर्वसुविधाओं दे तथा आरक्षण से दुर करने की दिशा में भाजपा अपना राजनैतिक षडयंत्र रच रही है। इसलिए कांग्रेस एकजुटता से कार्य कर अपना लक्ष्‍य हासिल करे। इसके पूर्व जिला कांग्रेस अध्‍यक्ष निर्मल मेहता ने कार्यक्रम का संचालन करने के साथ जिले की संगठनात्‍मक स्थिति से अवगत कराया तथा श्री मेहता ने अपने उद्बोधन में कहा कि जिले में कांग्रेसजन एक जुट हैं और इसी के चलते लोकसभा का उपचुनाव के साथ जिले की पंचायतों, नगर पालिका एवं विभिन्‍न सहकारी समितियों में भी अपना परचम लहराया है। कांग्रेस विहिन जिले में पुनः कांग्रेस का साम्राज्‍य शने-शने स्‍थापित किया और वर्ष 2018 के चुनाव में भी कांग्रेस जिले की तीनों विधानसभा सीटों पर अपनी जीत, दर्ज कराने में संकल्‍पबद्ध है। और सांसद कांतिलाल भूरिया के साथ पूर्व विधायकों कांग्रेंस पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं, पंच-सरपंच, और विभिन्‍न संस्‍थाओं का के पदाधिकारियों का सामांजस्‍य में सहयोग संगठन को प्राप्‍त हो रहा है और यही हमारी ऊर्जा का प्रेरणा स्‍त्रोत है।

नंदी के रूप में समस्‍याओं का श्रवण किया गया
पूर्व मुख्‍यमंत्री श्री दिग्‍विजय सिंह ने यह स्‍पष्‍ट रूप से सभा में कांग्रेसजनों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं किसी प्रत्‍याशी के चयन हेतु नहीं आया हूँ वरन कांग्रेस में समन्‍वय स्‍थापित करना मेरा मूल लक्ष्‍य है। बावजूद इसके यदि किसी को अपनी समस्‍या या प्रत्‍याशी के लिए मन की बात करना हो तो मंच पर कतारबद्ध होकर मेरे कानों में अपने मन की बात कह जावे। सभा के तत्‍काल बाद दिग्विजय सिंह ने खड़े होकर कांग्रेसजनों से कहा कि मन की बात सूनने के लिए मैं खड़ा हूँ अब थांदला, पेटलावद तथा झाबुआ विधानसभा क्षेत्र के शहर एवं ग्रामीण स्‍तर के लोगों के साथ कांग्रेस के प्रत्‍येक सक्रिय कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी अपनी मन की बात का श्रवण मेरे कानों में करावे। तो सभा स्‍थल पर सभी कांग्रेसजनों ने हर्षद ध्‍‍वनि कर कतारबद्ध हो दिग्विजय सिंह को अपने मन की बात कानों में श्रवण कराई तो ऐसा लग रहा था जैसे किसी शिवालय में दर्शनार्थी शिव के दर्शनोंपरांत नंदी के कानों में अपने मन की कोई बात कह जाता है। यह क्रम लगभग डेढ घण्‍टे तक चलता रहा और बड़े विनम्रता के साथ दिग्‍विजय सिंह ने अपने कानों में कांग्रेसजनों के मन की बात को सुना परन्‍तु चिंतन-मंथन क्‍या होगा यह तो भविष्‍य के गर्भ में ही छुपा है। इस दौरान कांतिलाल भूरिया, पूर्व सांसद रामेश्‍वर निखरा, पूर्व विधायक विनय दुबे, हरगोविंद जोहरी, हरिसिंह नरवारिया पूर्व विधायक भिण्‍ड, मुजीब कुरैशी, मधुमोहन हिरोड़कर, जिला पंचायत उपाध्‍यक्ष कलावती भूरिया, जिला कांग्रेस उपाध्‍यक्ष डॉ.विक्रांत भूरिया, पूर्व विधायक वीरसिंह भूरिया, वालसिंह मेडा, जेवियर मेडा सहित बड़ी संख्‍या में कांग्रेस पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता के साथ महिला कांग्रेस कार्यकर्ता भी उपस्थित थे।

झाबुआ ऐसा शहर है, जहां एक आवाज पर सभी सामाजिक संगठन इकट्ठे हो जाते है -ः डाॅ. केके त्रिवेदी
  • सामाजिक संगठनों में प्रतिस्पर्धा की बजाय आपसी समन्वय की भावना होना चाहिए -ः यषवंत भंडारी
  • शहर के सभी सामाजिक संगठनों की एक संयुक्त डायरेक्टरी तैयार की जाएगी -ः नीरजसिंह राठौर
  • शहर के समस्त सामाजिक, धार्मिक संगठनों का संयुक्त महासम्मेलन का हुआ आयोजन
  • उमंग सक्सेना का नागरिक अभिनंदन के साथ शहर की 15 विभूतियों का किया गया विषेष सम्मान

jhabua news
झाबुआ। झाबुआ के लिए यह पहला अवसर था, जब पैलेस गार्डन में शहर की समस्त सामाजिक, धार्मिक संस्थाओं के पदाधिकारियों एवं सदस्यों का एक संयुक्त महासम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें करीब 45 संस्थाओं के 300 से अधिक पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने शामिल होकर पूरे शहर में संगठनों की एकता और आपसी समन्वय का संदेष दिया। इस महासम्मेलन की खासियत यह थी कि इसमें पूरे महासम्मेलन के सूत्रधार एवं रोटरी क्लब के पूर्व अध्यक्ष तथा युवा अभिभाषक उमंग सक्सेना का पूरे नगर की ओर से नागरिक अभिनंदन किया गया तो वहीं इस अवसर पर शहर की 15 विभूतियां भी विषेष रूप से सम्मानित हुई, जिन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय एवं सराहनीय कार्य किए है। महासम्मेलन में अतिथि भी यहीं विभूतियां बनी। साथ ही वक्ताओं में भी सामाजिक संगठनों के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने ही अपना उद्बोधन देकर सभी संस्थाओं से एकजुट होकर तथा समन्वय स्थापित कर कार्य करने की बात कहीं। इस महासम्मेलन का आयोजन 12 जुलाई की रात्रि 8.30 बजे से पैलेस गार्डन पर हुआ। सर्वप्रथम मंच से सम्मेलन में षिरकत करने वाली समस्त संस्थाओं एवं उनके पदाधिकारी-सदस्यों का परिचय वरिष्ठ रोटेरियन तथा ंयुवा अभिभाषक उमंग सक्सेना ने दिया। बाद श्री जगन्नाथ रथ यात्रा समिति की ओर से अष्विन शर्मा ने मंच पर उपस्थित होकर 23 जुलाई को समिति द्वारा झाबुआ में निकाले वाली विषाल जगन्नाथ रथ यात्रा एवं काॅलेज मार्ग स्थित प्राचीन श्री जगदीष मंदिर में महाआरती तथा महाप्रसादी में सभी सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं से सहभागिता कर धर्म लाभ लेने का आव्हान किया गया। आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के सेवा प्रकल्प अध्यक्ष रविराजसिंह राठौर ने आगामी दिनों में हाथीपावा पर पर्यावरण को सहजने की दृष्टि से निकाली वाले यात्रा के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि झाबुआ में पर्यावरण को सहजने में समस्त संस्थाएं अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करे।

सामाजिक संगठनों की एक पुस्तिका तैयार की जाएगी
अपने उद्बोधन में कार्यक्रम संयोजक एवं सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने कहा कि झाबुआ शहर के समस्त सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों की अतिषीघ्र एक डायरेक्टरी (पुस्तिका) तैयार की जाएगी, इस हेतु सभी संस्थाओं के प्रमुख अपने संगठनों के पदाधिकारियों एवं सदस्यों के नाम, मोबाईल नंबर तथा कार्य क्षेत्र के बारे में जानकारी उन्हें उपलब्ध करवाएं। इसके साथ ही सभी सामाजिक संगठनों को मिलाकर एक समिति का गठन किया जाएगा। उन्होंने उपस्थित सभीजनों की स्वीकृति लेते हुए बताया कि अगले वर्ष हमारे द्वारा श्रेष्ठ सामाजिक संगठन सम्मान समारोह का आयोजन किया जाएगा, जिसमें शहर में श्रेष्ठ कार्य करने वाली संस्था को पुरस्कृत कर संस्था का अभिनंदन होगा। श्री राठौर ने आगे कहा कि किसी भी संस्था को चलाने के लिए समयदान एवं अर्थदान की आवष्यकता होती है, उसके बिना संस्था चलाना संभव नहीं है, इसलिए इसका हम सभी विषेष ध्यान रखे।

प्रतिस्पर्धा की बजाय आपस में समन्वय का भाव हो
जिला दहेज सलाहकार बोर्ड के अध्यक्ष एवं आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी ने संगठन के तीन प्रकार बताते हुए कहा कि आज के समय में संगठनों में प्रतिस्पर्धा का दौर जारी है, लेकिन हमे प्रतिस्पर्धा का छोड़कर आपसी समन्वय की भावना स्थापित करना होगी। हमे यह परंपरा शुरू करना होगी कि यदि एक संगठन का कार्यक्रम है, तो उसमें दूसरे संगठन के पदाधिकारियों को अतिथि बनाया जाए। आपने उत्तरप्रदेष के प्रतापगढ़ जिले के पूर्व प्रधानमत्री रहे श्री विष्वनाथ प्रतापसिंह का उदाहरण देते हुए बताया कि उन्होंने संगठनों में एकता कायम की थी, आज वहीं परपंरा का हमे झाबुआ में भी निर्वहन करने की आवष्यकता है। साथ ही रोटरी क्लब झाबुआ के पूर्व में लगातार 2 बार अध्यक्ष रहे उमंग सक्सेना के बारे में कहा कि रोटरी क्लब में रहने के दौरान उन्होनंे कई उल्लेखनीय एवं सराहनीय कार्य किए, जिसके चलते उन्हें रोटरी इंटरनेषनल के डिस्ट्रीक्ट 3040 द्वारा बेस्ट प्रेसिडेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया है, यह पूरे झाबुआ जिले के लिए गौरव की बात है। साथ ही उनकी तारिफ में शेयर किया कि ‘जिनके ईरादों हो मजबूत, उनका सारा जमान अभिनंदन करता है’।

समाजहित और नगर हित में सभी संगठनों को मिलकर कार्य करना होगा
आजाद साहित्य परिषद् के जिलाध्यक्ष डाॅ. केके त्रिवेदी ने कहा कि पिछले करीब दो दषक पूर्व झाबुआ के बारे में बाहर के लोगों में तरह-तरह की भ्रांतियां थी, लेकिन अब झाबुआ की स्थिति में काफी बदलाव आया है। यहां एक बड़ी अच्छी बात है कि एक आवाज पर शहर के समस्त साामाजिक संगठन एकजुट हो जाते है, जिसका प्रत्यक्ष नजारा आज के इस महासम्मेलन में देखने को मिल रहा है। उन्होंने समस्त सामाजिक संगठनों से आव्हान किया कि वह झाबुआ के ऐतिहासिक समय के बने छोटा तालाब एवं बड़ा तालाब को गंदगी से मुक्ति दिलाने हेतु संयुक्त पहल करे। समाजहित और नगर हित की जब भी बात आए तो सभी एकजुट हो जाए।

उमंग सक्सेना का किया गया नागरिक अभिनंदन
महासम्मेलन में रोटरी क्लब के लगातार दो वर्षों तक अध्यक्ष रहे उमंग सक्सेना को हाॅल ही में इंदौर में आयोजित कांफ्रेन्स में बेस्ट प्रेसिडेंट के अवार्ड से नवाजे जाने पर एवं सामाजिक कार्यों में हमेषा अग्रणी रहने पर उनका पूरे शहर की ओर से नागरिक अभिनंदन सभी सामाजिक संस्थाओं द्वारा मिलकर उन्हें पुष्पमाला पहनाकर, शाल ओढ़कार एवं अभिनंदन-पत्र देकर किया गया। अभिनंदन पत्र का वाचन वरिष्ठ रोटेरियन यषवंत भंडारी ने किया। इस दिन उमंग सक्सेना के बड़े भाई युवा अभिभाषक स्वपनिल सक्सेना का जन्मदिवस होने पर उनका एवं पूरे सक्सेना परिवार का भी सामाजिक संस्थाओं ने स्वागत करते हुए शुभकामनाएं प्रेषित की।

15 विभूतियों का हुआ सम्मान
इस अवसर पर शहर की 15 विभूतियों में जयंती परमार का तीरंदाजी खेल में झाबुआ के खिलाड़ियों को मप्र में प्रतिनिधित्व करवाने पर, जिला कराते एसोसिएषन के सचिव सूर्यप्रतापसिंह का पिछले दिनों झाबुआ के कराते खिलाड़ियों को सोनल (हिमाचल प्रदेष) में आयोजित चेंपियनशील में शामिल कर 16 खिलाड़ियों को गोेल्ड, ब्रांज एवं रजत पदक मिलने पर, संकल्प ग्रुप की संयोजक श्रीमती भारती का सम्मान संगीत एवं कला के क्षेत्र में निरंतर सेवाएं देने पर, सुश्री रूक्मणी वर्मा का झाबुआ जिले में योग के प्रति लोगों को जागरूक करने पर, सुषील वाजपेयी का पाॅवर लिफिटींग में पूरे देष में 10वां स्थान प्राप्त करने तथा व्यायाम शाला में निःषुल्क सेवाए देने, वरिष्ठ समाजसेवी मनमोहन शाह का माधोपुरा स्थित मुक्तिधाम के विकास कार्यों मंे सराहनीय सहयोग प्रदान करने पर, प्रख्यात साहित्यकार डाॅ. वाहिद फराज का साहित्य के क्षेत्र में अनूठे योगदान पर, जितेन्द्रसिंह सोलंकी का योग एवं तीरंदाजी में शासकीय माध्यमिक विद्यालय तलावली के बच्चों को राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति हासिल करवाने पर, सकल व्यापारी संघ सचिव कमलेष पटेल का गैल स्थित मुक्तिधाम के विकास कार्यों में उनकी सराहनीय भूमिका को लेकर, आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर का सेवा प्रकल्पों के नित नए आयाम स्थापित करने तथा समर्पण भोजनषाला के सफल संचालन पर, गायत्री परिवार के पं. घनष्याम बैरागी एवं विनोदकुमार जायसवाल का नशा मुक्ति अभियानक तहत समय-समय पर जिले में जागरूकता हेतु रैली, पेंपलेटस वितरण एवं संकल्प कार्यक्रम आयोजित करने, जिला विकलांग एवं पुर्नवास केंद्र के संचालक शैलेन्द्रसिंह राठौर द्वारा निरंतर दिव्यांग बच्चों के लिए दी जा रहीं अपनी सराहनीय सेवाएं एवं विकलांग केंद्र को दो बार राष्ट्रपति पुरस्कार से नवाजे जाने के उपलक्ष्य में, जिला टीबी फोरम अध्यक्ष डाॅ. एलएस राठौर को टीबी मरीजों को जागरूक करने एवं उनके लिए पोषण आहार की समय पर व्यवस्था करने के साथ जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. राहुल गणावा का सम्मान मरीजों के उपचार के दौरान उन्हें ब्लड की आवष्यकता पड़ने पर स्वयं द्वारा रक्तदान करने एवं ओरो को भी रक्तदान के लिए निरंतर प्रेरित करने हेतु पुष्पमाला पहनाकर एवं पुष्प गुच्छ भेंटकर तथा सम्मान-पत्र प्रदान कर शहर की सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया गया।

इन सामाजिक संस्थाओं की रहीं सहभागिता
पूरे महासम्मेलन में शहर की सकल व्यापारी संघ, आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट, रोटरी क्लब, रोटरेक्ट क्लब, इन्हर व्हील क्लब मेन, इन्हरव्हील क्लब युवा शक्ति, रोटरी क्लब आजाद, गायत्री परिवार, जिला आजाद साहित्य परिषद्, अभा राजेन्द्र जैन नवयुवक परिषद्, जिला दहेज सलाहकार बोर्ड, परिहत संस्था, अंर्तराष्ट्रीय मानव अधिकार काउंसिल, बचपन बचाओ आंदोलन, बाल अधिकार मंच, जिला टीबी फोरम, श्री जगन्नाथ रथ यात्रा समिति, लक्ष्मीनगर विकास समिति, साज रंग पतंजलि योग समिति सहित शहर की समस्त सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं के पदाधिकरियों एवं सदस्यों ने शामिल होकर महासम्मेलन को वृहद रूप प्रदान किया। सम्मेलन के अंत में आभार सकल व्यापारी संघ सह-सचिव पंकज जैन ‘मोगरा’ ने माना।

वीवीपैट और ईवीएम के प्रचार के लिये जागरूकता वैन को कलेक्टर एवं एसपी ने दिखाई हरी झण्डी
       
jhabua news
झाबुआ । मध्यप्रदेश में इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में पहली बार वीवीपैट वोटिंग मषीन का इस्तेमाल होगा। मतदान-प्रक्रिया को निष्पक्ष एवं पारदर्शी बनाने के लिये मतदाताओं को ईवीएम और वीवीपैट के संबंध में जानकारी देने के लिये जागरुकता वैन जिले के तीनो विधानसभा क्षेत्रो मे चलाई जायेगी। मतदाता जागरूकता वैन विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के सभी शहरों, कस्बों और ग्रामों में पहुँचकर ईवीएम और वीवीपैट मशीन के उपयोग एवं प्रक्रिया की जानकारी देगी। वैन मतदान केन्द्र स्तर तक भी पहुँचेगी और मतदाताओं को ईवीएम एवं वीवीपैट की कार्य-प्रणाली से अवगत करवाया जायेगा। कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना व एसपी महेषचंद्र जैन ने आज कलेक्टर कार्यालय परिसर से मतदाता जागरुकता वैन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री एसपीएस चैहान, नोडल अधिकारी स्वीप श्री ओझा, मास्टर ट्रेनर श्री लोकेेन्द्र चैहान सहित जनप्रतिनिधि एवं षासकीय सेवक उपस्थित थे। जागरुकता वैन जिले मे आज 13 जुलाई से 22 जुलाई तक विधानसभा क्षेत्र पेटलावद-195 मे 315 मतदान कंेद्रो तक भ्रमण करेगी, 23 जुलाई से 01 अगस्त तक विधानसभा क्षेत्र थांदला-194 मे 302 मतदान केंद्रो तक भ्रमण करेगी एवं 02 अगस्त से 11 अगस्त तक विधानसभा क्षेत्र झाबुआ-193 मे 354 मतदान केंद्रो तक भ्रमण कर प्रचार प्रसार करेगी। मतदाता जागरूकता वैन में प्रचार प्रसार के लिये एलसीडी, ईवीएम मषीन और वीवीपैट मषीन रखकर विषेषज्ञो द्वारा मशीनों के बारे में जानकारी दी जायेगी तथा प्रचार सामग्री भी वितरित की जायेगी। वैन में एलसीडी के माध्यम से लघु फिल्मे दिखाकर वीवीपैट और ईवीएम का प्रदर्शन किया जाएगा, ताकि मतदाता वोट डालने की प्रक्रिया समझ सके।

जिले में 24 घण्टो मे 11.2 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

झाबुआ । जिले में इस वर्ष अब तक औसतन 246.6 मि.मी. वर्षा दर्ज की गयी है। विगत 24 घण्टो मे औसत 11.2 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापक केन्द्र झाबुआ में 23.0 मि.मी., रामा में 0.0 मि.मी., पेटलावद मे 12.2 मि.मी., थांदला मे 7.5 मि.मी., मेघनगर मे 6.2 मि.मी., राणापुर मे 18.0 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। गत वर्ष इसी अवधि में जिले में वर्षामापक केन्द्र झाबुआ में 259.6 मि.मी., रामा में 252.0 मि.मी., पेटलावद मे 161.2 मि.मी., थांदला मे 135.9 मि.मी., मेघनगर मे 201.0 मि.मी., राणापुर मे 273.6 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई थी।

नेशनल लोक अदालत का आयोजन 14 जुलाई को
       
झाबुआ । राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार आगामी नेशनल लोक अदालत का आयोजन 14 जुलाई को किया जायेगा। उक्त दिनांक को आयोजित नेशनल लोक अदालत में न्यायालयों में लंबित आपराधिक शमनीय प्रकरण, चेक बाउन्स, मोटर दुर्घटना दावा, विद्युत विभाग, वैवाहिक एवं पारिवारिक प्रकरण, भूमि अधिग्रहण संबंधी प्रकरण एवं समस्त प्रकार के सिविल प्रकरणों सहित अन्य राजीनामा योग्य प्रकरणों के साथ-साथ बैंक बसूली, विद्युत, जलकर एवं अन्य प्री-लिटिगेशन प्रकरणों का निराकरण किया जायेगा।  आगामी 14 जुलाई की नेशनल लोक अदालत के दौरान विभिन्न विवादों के पक्षकार आपसी सुलह एवं समझौते से अपने-अपने प्रकरणों का निराकरण करा सकते हैं। लोक अदालत में निराकृत हुये प्रकरणों में विधि शुल्क उभयपक्षों को नियमानुसार वापस हो जाती है।

बी.सी.ए. पाठ्यक्रम में प्रवेश अर्हता निर्धारित

झाबुआ । कला, वाणिज्य, विज्ञान एवं जीव विज्ञान संकाय के साथ एक विषय गणित लेकर 12वीं उत्तीर्ण आवेदकों को बी.सी.ए. के लिये नियमानुसार गुणानुक्रम एवं वरीयता के आधार पर ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया के तृतीय एवं सी.एल.सी. चरण में शामिल किया जायेगा। प्रवेश के प्रथम चरण में बी.सी.ए. में बहुत कम संख्या में प्रवेश हुए हैं। इसीलिये उच्च शिक्षा विभाग ने छात्र हित में यह निर्णय लिया है। इसके लिये सभी शासकीय विश्वविद्यालय के कुलसचिव, शासकीय/अशासकीय महाविद्यालय और अनुदान प्राप्त अशासकीय महाविद्यालय के प्राचार्यों को अवगत करवाया गया है।

विशेष कोचिंग हेतु आवेदन 20 जुलाई तक आमंत्रित
       
झाबुआ । आगामी 25 जुलाई 2018 से झाबुआ जिला अन्तर्गत जनजातीय कार्य विभाग द्वारा संचालित विभागीय जिला स्तरीय बालक और कन्या उत्कृष्ट षिक्षा संस्थान झाबुआ मेघनगर, थांदला, पेटलावद, रामा और रानापुर मे विकासखंड स्तरीय समस्त बालक कन्या उत्कृष्ट छात्रावास हेतु विषेष कोचिंग प्रारंभ की जाना है। कक्षा 9वी एवं 10वी के छात्रो को गणित, अंग्रेजी और विज्ञान विषय की कोचिंग 20 दिवस तक तथा कम्प्यूटर/सामान्य ज्ञान कोचिंग रविवार (05 दिवस) को प्रदान की जाना है। इसी प्रकार कक्षा 11वी एवं 12वी के छात्रो को जीव विज्ञान, गणित, भौतिक षास्त्र, रसायन षास्त्र, अंग्रेजी, अकाउन्ट्स तथा एप्लाईड अर्थषास्त्र विषय की कोचिंग 20 दिवस तक तथा कम्प्यूटर/सामान्य ज्ञान कोचिंग रविवार (05 दिवस) को प्रदान की जाना है। कोचिंग हेतु प्रति कालखंड 300 रुपये मानदेय प्रदान किया जावेगा। कोचिंग विद्यालयीन समय को छोडकर प्रदान की जावेगी। कक्षा 9वी एवं 10 हेतु आवेदक को संबंधित विषय मे 50 प्रतिषत अंको के साथ स्नातक उत्तीर्ण तथा 11वी एवं 12वी हेतु संबंधित विषय मे 50 प्रतिषत अंको के साथ स्नातकोत्तर उत्तीर्ण साथ ही बी.एड. डिग्री होना अनिवार्य है। उक्त कोचिंग प्रदान करने हेतु इच्छुक योग्य आवेदक अपना आवेदन पत्र, बायोडाटा मय षैक्षणिक सह पत्रो के 20.07.2018 तक कार्यालय सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग झाबुआ मे जमा कर सकते हैं ।

उद्यम स्थापित करने के लिये घोषित क्षेत्रो मे जमीन आवंटन के लिये आवेदन करे-कलेक्टर
  • उद्योगपतियो के लिये मेघनगर मे कार्यषाला सम्पन्न

jhabua news
झाबुआ । म.प्र. औद्योगिक केंद्र विकास निगम लि0 इन्दौर द्वारा झाबुआ जिले के मेघनगर तहसील मे क्षेत्र के उद्योगपतियो को जानकारी प्रदान करने हेतु विगत 12 जुलाई को कार्यषाला का आयोजन किया गया, जिसमे प्रमुख रूप से जिले के औद्यागिक क्षेत्रो मे उपलब्ध आधारभूत सुविधाओ, भूखण्डो एवं उद्योग नीति अंतर्गत प्रदाय की जाने वाली विभिन्न प्रकार की सुविधाओ के संबंध मे विस्तृत जानकारी दी गई। कार्यषाला मे जिले मे उपलब्ध औद्योगिक क्षेत्र एवं उसकी आवेदन की प्रक्रिया, एम.एस.एम.ई. विकास नीति 2017 पर चर्चा की गई। उद्योग स्थापित करने के लिये षासन द्वारा उद्योग के लिये घोषित क्षेत्र मे उद्योगपति जमीन आवंटन के लिये आवेदन करे। ऐसे व्यक्ति जिन्होने उद्यम स्थापित करने के लिये भूमि आवंटित करवा ली है एवं उसका उपयोग उद्योग स्थापित करने मे नही कर रहे है, ऐसे व्यक्तियो से जमीन वापस ली जायेगी एवं सक्रिय उद्योगपतियो को आवंटित की जायेगी। उक्त निर्देष कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने आयोजित कार्यषाला मे दिये। कार्यषाला की अध्यक्षता कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने की। कार्यषाला मे महाप्रबंधक उद्योग श्री इष्किया, उद्योग संवर्धन बोर्ड के सदस्य सहित उद्योगपति उपस्थित थे।

पुनः रोजगार मेला 25 जुलाई को निजी कंपनियां द्वारा 3000 से अधिक युवाओ का करेगी चयन
      
झाबुआ । जिला प्रषासन द्वारा पाॅलेटेकनिक काॅलेज, परिसर झाबुआ में दिनांक 25 जुलाई 2018 को रोजगार मेले का आयोजन प्रातः 10.30 बजे से सांय 4.00 बजे तक किया जाएगा। रोजगार मेले मे निजी कंपनियो द्वारा 3000 से अधिक युवाओ का चयन किया जायेगा। मेले मे आने वाली कंपनियो द्वारा 5वी पास से लेकर स्नातक स्तर तक षैक्षणिक योग्यता वाले युवक युवतियो को सेलेरी 8000 से 18000 रुपये तक की जाॅब आॅफर की जायेगी। मेले में झाबुआ जिले के शिक्षित बेरोजगार आवेदकों जिनकी उम्र 18 से 30 वर्ष तक एवं शैक्षणिक योग्यता उपरोक्तानुसार हो, को रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाये जायेगे, आवेदक मेले में शैक्षणिक योग्यताओं की अंकसूची, रोजगार कार्यालय का पंजीयन, जाति एवं मूल निवासी के प्रमाण पत्रों की छायाप्रति एवं मूल अभिलेखों, पासपोर्ट साईज फोटो, वोटर आईडी, आधार कार्ड, लेकर उपस्थित हो सकते है।

मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजनांतर्गत षिविर आयोजित कर दिये जा रहे प्रमाण पत्र
       
झाबुआ । “मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना“ एवं “सरल बिजली बिल योजना“ के तहत एमपीईबी द्वारा प्रतिदिन वितरण केंद्र वार शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें वितरण केंद्र मुख्यालय पर हितग्रातिहयो को बिल माफी संबंधी प्रमाण पत्र प्रदान किये जा रहे हैं। संबंधित विद्युत उपभोक्ता इन शिविरों में उपस्थित होकर योजनाओं का लाभ ले रहे हैं।

25 जुलाई तक यहां लगेंगे आगामी षिविर
मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजनांतर्गत षिविर रायपुरिया वितरण केंद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम सामाली, 15 जुलाई को ग्राम काजबी, 16 जुलाई को ग्राम हमीरगढ, 17 जुलाई को ग्राम कालीघाटी, 18 जुलाई को ग्राम पांचपीपला, 19 जुलाई को ग्राम भीलकोटडा, 20 जुलाई को ग्राम बैदडा, 21 जुलाई को ग्राम  देवली, 22 जुलाई को ग्राम रताम्बा, 23 जुलाई को ग्राम पारेवा, 24 जुलाई को ग्राम मातापाडा (सुअरपाडा) एवं 25 जुलाई को ग्राम कुडवास मे आयोजित होगें। षिविर रानापुर वितरण कंेद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम रानापुर, 15 जुलाई को ग्राम बडी सजवानी, 16 जुलाई को ग्राम भूरीमाटी, 17 जुलाई को ग्राम समोई, 18 जुलाई को ग्राम गवसर, 19 जुलाई को ग्राम उबेराव, 20 जुलाई को ग्राम छागोला, 21 जुलाई को ग्राम भूतरबडा, 22 जुलाई को ग्राम बन, 23 जुलाई को ग्राम लंबेला, 24 जुलाई को ग्राम भांडाखेडा, 25 जुलाई को ग्राम दोतड मे आयोजित होंगे।  षिविर खवासा वितरण केंद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम सेमलिया, 15 जुलाई को ग्राम कुकडीपाडा, 16 जुलाई को ग्राम तलावडा, 17 जुलाई को ग्राम रन्नी, 18 जुलाई को ग्राम भेरूगढ, 19 जुलाई को ग्राम नरसिंगपाडा, 20 जुलाई को ग्राम मकोडिया, 21 जुलाई को ग्राम नाहरपुरा खवासा, 22 जुलाई को ग्राम रतनाली, 23 जुलाई को ग्राम परवाडा, 24 जुलाई को ग्राम मादलदा, 25 जुलाई को ग्राम छायन मे आयोतित होंगे। षिविर सारंगी वितरण केंद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम गामडी, 15 जुलाई को ग्राम कसारबर्डी, 16 जुलाई को ग्राम मठमठ, 17 जुलाई को ग्राम गुणावद, 18 जुलाई को ग्राम हनुमंत्या, 19 जुलाई को ग्राम माण्डन, 20 जुलाई को ग्राम तिखीपाडा, 21 जुलाई को ग्राम सारंगी, 22 जुलाई को ग्राम मोहनपुरा, 23 जुलाई को ग्राम बैंगनबर्डी, 24 जुलाई को ग्राम बाछियाखेडा, 25 जुलाई को ग्राम बोलासा मे आयोजित होगे। षिविर बामनिया वितरण केंद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम करनगड, 15 जुलाई को ग्राम मोइचारणी, 16 जुलाई को ग्राम घुघरी, 17 जुलाई को ग्राम मोर, 18 जुलाई को ग्राम गंगाखेडी, 19 जुलाई को ग्राम गेहण्डी, 20 जुलाई को ग्राम वडी देहण्डी, 21 जुलाई को ग्राम छायन पष्चिम, 22 जुलाई को ग्राम गोदडिया, 23 जुलाई को ग्राम टांकापाडा, 24 जुलाई को ग्राम बोरपाडा, 25 जुलाई को ग्राम रूण्जी मे आयोजित होंगे। षिविर पारा वितरण केंद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम रजला, 15 उमरिया दरबार, 16 जुलाई को ग्राम दौलतपुरा, 17 जुलाई को ग्राम धांधलपुरा, 18 जुलाई को ग्राम गुलाबपुरा, 19 जुलाई को ग्राम झुमका, 20 जुलाई को ग्राम आम्बा, 21 जुलाई को ग्राम रातीमाली, 22 जुलाई को ग्राम पारा, 23 जुलाई को ग्राम नरसिंगपुरा, 24 जुलाई को ग्राम सागीया, 25 जुलाई को ग्राम कलमोडा मे आयोजित होंगे। षिविर थांदला वितरण केंद्र मे दिनंाक 14 जुलाई को ग्राम सजेली मालजी साथ,15 जुलाई को ग्राम चेनपुरा, 16 जुलाई को ग्राम मछलाईमाता, 17 जुलाई को ग्राम सेमलपाडा, 18 जुलाई को ग्राम षिवगढ, 19 जुलाई को ग्राम सेमलिया, 20 जुलाई को ग्राम मुंजाल, 21 जुलाई को ग्राम कलदेवा, 22 जुलाई को ग्राम टिमरवानी, 23 जुलाई को ग्राम पंचपिपलिया, 24 जुलाई को ग्राम भिमकुण्ड, 25 जुलाई को ग्राम पाडा धामन्जर मे आयोजित होंगे। षिविर काकनवानी वितरण केंद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम बडलीपाडा, 15 जुलाई को ग्राम बिहर, 16 जुलाई को ग्राम तलाई, 17 जुलाई को ग्राम झरनी, 18 जुलाई को ग्राम गोरिया खान्दन, 19 जुलाई को ग्राम थेथम, 20 जुलाई को ग्राम वटठा, 21 जुलाई को ग्राम पंचखेरिया, 22 जुलाई को ग्राम हेडावा, 23 जुलाई को ग्राम आमली, 24 जुलाई को ग्राम इटावा एवं 25 जुलाई को ग्राम उमरादरा मे आयोजित होगें। षिविर पेटलावद वितरण केंद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम असालिया, 15 जुलाई को ग्राम कोदली, 16 जुलाई को ग्राम पेटलावद, 17 जुलाई को ग्राम पंथबोराली, 18 जुलाई को ग्राम गोपालपुरा, 19 जुलाई को ग्राम झोंसर, 20 जुलाई को ग्राम दूलाखेडी, 21 जुलाई को ग्राम खोरिया, 22 जुलाई को ग्राम गोपालपुरा, 23 जुलाई को ग्राम पेटलावद, 24 जुलाई को ग्राम मोइवागेली एवं 25 जुलाई को ग्राम रामगढ मे आयोजित होगें। षिविर झाबुआ षहर मे दिनांक 14 जुलाई को माधोपुरा, 15 जुलाई को मोजीपाडा, 16 जुलाई को उदेपुरिया, 17 जुलाई को बसंत काॅलोनी, 18 जुलाई को रामदास काॅलोनी, 19 जुलाई को गोपाल काॅलोनी, 20 जुलाई को कैलाष मार्ग(हुसेनी चैक), 21 जुलाई को जिला जेल के पीछे (चैतन्य मार्ग), 22 जुलाई को सिद्धेष्वर काॅलोनी, 23 जुलाई को बाबेल कम्पाउंड, 24 जुलाई को भोजमार्ग चैराहा एवं 25 जुलाई को आजाद चैक मे आयोजित होगें। षिविर झाबुआ(ग्रामीण) वितरण केंद्र मे 14 जुलाई को ग्राम राछवा, 15 जुलाई को ग्राम रोटला, 16 जुलाई को ग्राम तलावली, 17 जुलाई को ग्राम पिटोल, 18 जुलाई को ग्राम दूधी, 19 जुलाई को ग्राम बिलीडोज, 20 जुलाई को ग्राम मसूरिया, 21 जुलाई को ग्राम गोपालपुरा, 22 जुलाई को ग्राम भोयरा, 23 जुलाई को ग्राम खेडी, 24 जुलाई को ग्राम गेहलर एवं 25 जुलाई को ग्राम कालाखूट मे आयोजित होगें। षिविर झकनावदा वितरण केंद्र मे 14 जुलाई को ग्राम झकनावदा, 15 जुलाई को ग्राम कुम्भाखेडी, 16 जुलाई को ग्राम टोडी, 17 जुलाई को ग्राम भैरुपाडा झकनावदा, 18 जुलाई को ग्राम सदावा, 19 जुलाई को ग्राम मोहकपुरा, 20 जुलाई को ग्राम बेकल्दा, 21 जुलाई को ग्राम धोलीखाली, 22 जुलाई को ग्राम गोपालपुरा, 23 जुलाई को ग्राम खजुराहो, 24 जुलाई को ग्राम पिठडी एवं 25 जुलाई को ग्राम धतुरिया मे आयोजित होगें। षिविर मेघनगर वितरण केंद्र मे दिनांक 14 जुलाई को ग्राम भगौर, 15 जुलाई को ग्राम मेहन्दीखेडा, 16 जुलाई को ग्राम अंतरवेलिया, 17 जुलाई को ग्राम अगराल, 18 जुलाई को ग्राम खालखंडवी, 19 जुलाई को ग्राम हात्यादेली, 20 जुलाई को ग्राम मांडली, 21 जुलाई को ग्राम गुवांली, 22 जुलाई को ग्राम तान्दलादरा, 23 जुलाई को ग्राम झाराडाबर, 24 जुलाई को ग्राम सातसेरा एवं 25 जुलाई को ग्राम मेघनगर मे आयोजित होगें। मुख्यमंत्री बिल माफी योजना एवं “सरल बिजली बिल योजना“ के तहत ₹200 प्रतिमाह बिजली बिल स्कीम का लाभ लेने के लिए उपभोक्ताओं को उनका असंगठित श्रमिक श्रेणी का पंजीयन क्रमांक विद्युत कार्यालय को उपलब्ध कराना होगा ,वहीं“ मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना“ के तहत लाभ लेने के लिए उपभोक्ताओं को उनका ठच्स् राषन कार्ड क्रमांक, विद्युत विभाग को उपलब्ध कराना होगा। साथ ही अन्य जानकारी जैसे कि उपभोक्ता का नाम, विद्युत बिल का सर्विस क्रमांक, मोबाइल नंबर एवं आधार नंबर (अनिवार्य नहीं),की जानकारी भी फ़ॉर्म में भर कर देना होगी।

मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना का लाभ 31 जुलाई तक
       
झाबुआ । राज्य शासन प्राथमिक कृषि साख समितियों के डिफाल्टर किसान सदस्यों के बकाया कालातीत ऋणों के निपटारे के लिए लागू की गई मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना में भाग लेने की अंतिम तिथि 31 जुलाई निर्धारित है। यह योजना 12 फरवरी 2018 से लागू होगी। प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के जिन डिफाल्टर किसानों द्वारा 12 फरवरी से 06 अप्रैल की अवधि में समाधान योजना लागू किए जाने की प्रत्याशा में बकाया मूलधन जमा किया गया है, उन्हें भी इस योजना से नियमानुसार लाभान्वित किया जाएगा।

मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना से लाभान्वित होंगे महिला स्व-सहायता समूह
       
झाबुआ । राज्य शासन ने महिला स्व-सहायता समूहा,ें फेडरेशन को मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना तथा मुख्यमत्री स्वरोजगार योजना से लाभान्वित करने का निर्णय लिया है। इस संबंध में विस्तृत आदेश भी शासन द्वारा जारी किए गए है। प्रदेश के महिला स्व-सहायता समूह एवं समूह फेडरेशन के सदस्यों को स्व-रोजगार इकाई और अन्य नवीन उद्यम स्थापित करने के लिये इन योजनाओं के अन्तर्गत लाभान्वित किया जायेगा। मुख्यमंत्री स्व-रोजगार योजना का लाभ लेने के लिये समूह, फेडरेशन में कम से कम दो महिला सदस्यों का न्यूनतम पाँचवी कक्षा उत्तीर्ण होना आवश्यक होगा। शेष सदस्यों को न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता में छूट दी जायेगी। योजनाओं से लाभ प्राप्त करने के लिये जरूरी होगा कि महिला स्व-सहायता समूह, फेडरेशन सक्रिय, क्रियाशील हों। सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार समूहों को इन योजनाओं का लाभ पात्रतानुसार पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग और नगरीय विकास एवं आवास विभाग द्वारा दिलवाया जायेगा। सभी प्रकरणों के प्रयोजन, प्रोत्साहन प्रबंधन और अनुश्रवण आदि की कार्यवाही भी इन्हीं विभागों द्वारा की जायेगी।

अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति अधिनियम के तहत राहत राशि स्वीकृत
   
झाबुआ । जिला स्तरीय समिति की अनुशंसा पर अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत पीडित श्रीमती कालीबाई उर्फ सविता पति सौदानसिंह मैना, उम्र 18 वर्ष निवासी ग्राम मोरझरी, जिला झाबुआ को 1,80,000 रूपये राहत राशि स्वीकृत की गई है। स्वीकृत राशि का 50 प्रतिशत 90,000/- रूपये राहत राशि तत्काल प्रदाय की गई एवं शेष किश्त न्यायालय का निर्णय दोष सिद्ध होने पर प्रदान की जाएगी। सचिव म.प्र. शासन अनुसचित जाति कल्याण विभाग के निर्देशानुसार राहत राशि पीडित व्यक्ति उनके परिवार या आश्रितों को नियमों के प्रावधान अनुसार न्यायालय में दोष सिद्ध/अपील संबंधी प्रकरण के निराकरण होने तक पोस्ट आफिस या बैंक की मासिक आय योजनांतर्गत पीडित/आश्रित के नाम से रखी जाना अनिवार्य होगा।

रोजगार मेले के लिये बस को सीईओ जिला पंचायत ने किया रवाना
       
jhabua news
झाबुआ । मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड भोपाल द्वारा भारत सरकार की टूरिज्म एवं हाॅस्पिटेलिटी स्किल कौंसिल नई दिल्ली के साथ मिलकर पर्यटन के क्षेत्र में प्रदेष के युवाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए वृह्द टूरिज्म जाॅब फेयर का आयोजन तक्षशिला परिसर देवी अहिल्याबाई विश्वविद्यालय खण्डवा रोड़ इन्दौर में आज प्रातः 8 बजे से सायं 4 बजे तक होगा। झाबुआ जिले के 200 से अधिक युवक युवतियो को इन्दौर में आयोजित मेले मे ले जाने के लिए सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे द्वारा इन्दौर के लिये बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। उक्त जाॅंब फेयर में कई पदों पर भर्ती प्रक्रिया की जावेगी। जैसे कुक, किचन हेल्पर, वेटर, स्टीवर्ड, हाउस कीपिंग, सुपरवाईजर, आफिस मैनेजर, यूटिलिटी मैनेजर, टिकटिंग क्लर्क, एचआर मैनेजर इत्यादि भर्ती प्रक्रिया की जावेगी। टूरिज्म विभाग द्वारा युवक युवतियो को रोजगार हेतु चयन पत्र दिये जायेंगे।

मुनसिंह का 13 हजार 175 रुपये का बिल हुआ माफ, आगे भी बिजली का भारी भरकम बिल भरने से मूनसिंह हुए चिन्ता मुक्त

jhabua news
झाबुआ । कभी बिजली कटने का तो कभी बिजली बिल न चुकाने पर कार्यवाही के डर के बीच जीवन बिता रहे झाबुआ जिले के मूनसिंह पिता नंदिया निनामा को जब झाबुआ में 11 जुलाई को मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना के तहत आयोजित कार्यक्रम में 13 हजार 175 रूपये का बकाया बिजली बिल माफ करने का प्रमाण पत्र दिया गया तो उन्होने मुख्यमंत्री जी का बार बार धन्यवाद ज्ञापित किया। चर्चा के दौरान मूनसिंह ने बताया कि मै गरीब हुं और गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहा हुं। विगत 1 वर्ष से मेरी आर्थिक स्थिति ठीक नही होने से मै बिजली का बिल नही भर पाया था और बिल ओवरड्यू होते-होते बिल की राषि 13 हजार 175 हो गई थी। बिजली विभाग के कर्मचारी मेरे घर आकर बार बार बिल भरने के लिये कह रहे थे एवं बिजली काटने की धमकी देते थे। इतनी राषि का बिल देखकर मैने तो बिजली कटवाने का ही फैसला कर लिया था। इस योजना से मेरे बिजली के बिल माफ हो गये है एवं आगे भी अब 200 रुपये से अधिक का बिल नही आयेगा, इससे मै बिल भरने की चिंता से मुक्त हो गया हुं। योजना का लाभ मिलने पर झाबुआ जिले के मुनसिंह पिता नंदिया निनामा निवासी धमोई ब्लाक पारा ने मुख्यमंत्री जी को बार बार धन्यवाद देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री बकाया बिजली माफी स्कीम ने जिले के उन सैकडों गरीबों को चिंता मुक्त कर दिया है जिनका दिन का चैन और रातों की नींद भारी-भरकम बिजली के बिलों से उड गई थी। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने इन श्रमिक और गरीब परिवारों के हजारों रूपये के बिजली बिल माफ कर ऐसे परिवारों के प्रति हमदर्दी का जो जज्बा दिखाया उसके लिये षासन का बहुत बहुत धन्यवाद।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...