बेगूसराय : अनुसेवक पद पर नियुक्ति के लिये समाहरणालय पर दो दिवसीय धरना। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 9 अगस्त 2018

बेगूसराय : अनुसेवक पद पर नियुक्ति के लिये समाहरणालय पर दो दिवसीय धरना।

dharna-begusarai
बेगूसराय (अरुण कुमार) आज दिनांक 09 अगस्त 2018 समय 11:00 बजे दिन से समाहर्ता महोदय के दक्षिणी द्वार उम्मीदवार संघ के द्वारा दो दिवसीय धरना रखा गया।धरना में सभी उम्मीदवार अनुसेवक चतुर्थ वर्गीय पद पर नियुक्ति करने के लिये बिहार सरकार के उच्चतम पदाधिकारी के द्वारा नियुक्ति हेतु जिला पदाधिकारी को आदेश दिया गया था।जिसका प्रपत्र संख्या-10/न्याय-5 (बेगूसराय) 10/2011-6665 दिनांक 15 जून 2011 को उप सचिव,बिहार सरकार,बिहार पटना एवं पत्र संख्या-10/न्याय-05 (बेगूसराय)10/2011- 4333 दिनांक 21 अप्रैल 2011 बिहार सरकार,  बिहार पटना के अवर सचिव के कारवाई करने के लिये निर्देशित किया गया था।दिनांक 25 नवम्बर 2011 को उम्मीदवार अनुसेवकों का पैनल 209 (दो सौ नौ)बनकर तैयार है फिर भी अभीतक उम्मीदवार अनुसेवकों का स्थाई नियुक्ति नहीं कि गई।सैकड़ों बार प्रधान सचिव बिहार,पटना आयुक्त प्रमंडल मुंगेर,जिला पदाधिकारी बेगूसराय को भी दे चुके हैं फिर भी इसपर उचित कारवाई नहीं हुई है,इसलिये पैनलगत सैकड़ों उम्मीदवारों ने नियुक्ति के लिये धरना के माध्यम से आक्रोश जाहिर किया है।जिसमें देवनारायण ठाकुर,जितेन्द्र कुमार,अभय कुमार सिन्हा,रामनन्दन शर्मा,रामखेलावन पासवान,केदार ठाकुर,अमेरिका देवी,सबुजा देवी,रामसागर मोची एवं अन्य उम्मीदवारों ने अपना-अपना विचार प्रकट किया।संगठन के वरीय उम्मीदवार रामछबीला पासवान एवं शंकर साह ने कहा,जबतक हम उम्मीदवारों को स्थाई नियुक्ति नहीं होती है तबतक अनवरत लड़ाई जारी रहेगी।रंजीत पासवान उम्मीदवार अनुसेवक संघ के जिला अध्यक्ष ने कहा कि उच्च न्यायालय,बिहार पटना के माननीय मुख्य न्यायाधीश महोदय के पारित आदेश एल•पी• वाद संख्या-1785/16 एवं 1283/17 के पारित का पालन जबतक नहीं होता है,लड़ाई अनवरत जारी रहेगी।इस लड़ाई में सभी संगठनों का समर्थन है।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...