उप्र : पर्यटकों के लिए खुला दुधवा राष्ट्रीय उद्यान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 15 नवंबर 2018

उप्र : पर्यटकों के लिए खुला दुधवा राष्ट्रीय उद्यान

dudhwa-national-park-opened-for-tourists
लखनऊ 15 नवंबर, उत्तर प्रदेश के दुधवा राष्ट्रीय उद्यान को छह महीने के अंतराल के बाद गुरुवार को खोल दिया गया। यह उद्यान देशी व विदेशी दोनों पर्यटकों के लिए बड़े आकर्षण का केंद्र है और जाड़े में यहां ज्यादा सैलानी आते हैं। उद्यान को हर साल आम लोगों के लिए 15 मई को बंद कर दिया जाता है और फिर इसे 15 नवंबर को खोला जाता है। बीते कुछ सालों से राज्य सरकार उद्यान के रखरखाव पर ज्यादा ध्यान दे रही है और इसमें काफी बदलाव किए गए हैं। जंगल में एक या दो रात बिताने की चाह रखने वालों के लिए नई थारू झोपड़िया लोगों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र हैं। अधिकारी ने कहा कि अपनी जैव विविधता के लिए मशहूर उद्यान में ठंड के महीनों के दौरान 500 से ज्यादा पक्षियों की जातियां यहां आती हैं। वन्यजीव जानकार उमेश गुप्ता ने आईएएनएस से कहा कि साइबेरियन पक्षी 14,000 किमी की यात्रा कर जाड़े के दिनों में दुधवा आते हैं। इसके अलावा पक्षियों की अन्य दुर्लभ प्रजातियां, बाघ, तेंदुए, गैंडा, मगरमच्छ, हाथी, साही, जंगली सुअर व भालू भी राष्ट्रीय उद्यान में मौजूद हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...