भाजपा ने संकल्पपत्र के लिए सुझाव लेने के लिए 15 उपसमितियां बनायीं - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 13 जनवरी 2019

भाजपा ने संकल्पपत्र के लिए सुझाव लेने के लिए 15 उपसमितियां बनायीं

bjp-formed-15-subcommittee-to-seek-suggestions-for-the-resolution
नयी दिल्ली 13 जनवरी, केन्द्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने विपक्षी दलों की चुनौतियों से निपटने के उद्देश्य से 15 उपसमितियों के गठन का फैसला किया है जो जनता की राय लेंगी और उसके आधार पर लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी के संकल्पपत्र तैयार किया जाएगा। यह फैसला भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा गृहमंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाली संकल्पपत्र समिति की रविवार को यहां भाजपा मुख्यालय में हुई बैठक में लिया गया।  श्री सिंह ने संवाददाताओं के सवालाें के जवाब में कहा कि पार्टी ने 15 उपसमितियां बनाने का फैसला किया है। ये उपसमितियां जनता से प्रत्यक्ष संवाद स्थापित करने के लिए विभिन्न क्षेत्रों के लोगों को जोड़ कर बनायीं जाएंगी। बैठक में श्री शाह के अलावा केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली, निर्मला सीतारमण, थावरचंद गहलोत, रविशंकर प्रसाद, पीयूष गोयल, मुख्तार अब्बास नकवी, के जे अल्फोंस और किरन रिजीजू शामिल हुए। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या, पार्टी नेता राम माधव, भूपेन्द्र यादव, नारायण राणे, मीनाक्षी लेखी, संजय पासवान, हरि बाबू अौर राजेन्द्र मोहन सिंह चीमा भी शामिल हुए। भाजपा अध्यक्ष ने हाल ही में लोकसभा चुनावों के लिए घोषणापत्र समिति सहित विभिन्न समितियों का गठन किया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली को आठ सदस्यीय प्रचार समिति का प्रमुख बनाया गया है जबकि सड़क परिवहन एवं जलसंसाधन मंत्री नितिन गडकरी को दस सदस्यीय सामाजिक स्वसहायता समूहों से संपर्क समिति का प्रमुख बनाया जाएगा।  प्रचार समिति में सर्वश्री पीयूष गोयल, राज्यवर्द्धन सिंह राठौड़, अनिल जैन, महेश शर्मा, सतीश उपाध्याय, राजीव चंद्रशेखर एवं ऋतुराज सिन्हा शामिल हैं। सामाजिक स्वसहायता समूहों से संपर्क समिति में सर्वश्री कैलाश विजयवर्गीय, डी वी सदानंद गौड़ा, कलराज मिश्रा, शिवप्रसाद शुक्ला, विजय सांपला, एस एस आहलूवालिया, बंडारू दत्तात्रेय, आर पी सिंह और मांगेराम गर्ग शामिल हैं। तेरह सदस्यीय मीडिया समिति की कमान रविशंकर प्रसाद संभाल रहे हैं जबकि सोशल मीडिया संबंधी समिति का जिम्मा पार्टी उपाध्यक्ष श्याम जाजू के हाथ में दिया गया है। बुद्धिजीवियों से संपर्क की समिति का प्रमुख मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को बनाया गया है जिसमें श्रीमती मीनाक्षी लेखी, डॉ. संबित पात्रा और मुरलीधर राव को शामिल किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...