लोकसभा चुनाव में भ्रष्टाचार, रोजगार प्रमुख मुद्दे होंगे : राहुल गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 14 जनवरी 2019

लोकसभा चुनाव में भ्रष्टाचार, रोजगार प्रमुख मुद्दे होंगे : राहुल गाँधी

corruption-employment-main-issue-rahul-gandhi
नई दिल्ली, 13 जनवरी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि 2019 के आम चुनाव में भ्रष्टाचार, रोजगार, शिक्षा और स्वास्थ्य बड़े मुद्दे होंगे।  लोकसभा चुनाव जैसे जैसे नजदीक आ रहे हैं, देश की राजनीति में आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला तेज होता जा रहा है। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अपने दौरे के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष ने एक बार फिर प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी पर भ्रष्टाचार और राफेल मुद्दे को लेकर हमला बोला है। एक टीवी चैनल से खास बातचीत में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, "सच्चाई यही है कि हिंदुस्तान में भ्रष्टाचार बढ़ता जा रहा है। सच्चाई है कि बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। पूरा हिंदुस्तान जानता है, हर युवा जानता है। किसी भी युवा से पूछो कि क्या करते हो तो वह कहता है -कुछ नहीं करता हूं। यह तो सच्चाई है।" राहुल ने संवैधानिक संस्थाओं के प्रति सरकार के रवैये पर हमला बोला। सीबीआई प्रमुख आलोक वर्मा के मामले पर उन्होंने सवालिया लहजे में कहा, "सीबीआई प्रमुख को दो बार हटाने की जल्दी क्या थी। क्या जल्दी थी कि एक बार डेढ़ बजे रात प्रधानमंत्री लिख रहे थे कि सीबीआई प्रमुख को जल्दी हटाओ। फिर सर्वोच्च न्यायालय कहता है कि इनको वापस लाओ। और उसके कुछ घंटों के अंदर प्रधानमंत्री कहते हैं कि सीबीआई प्रमुख को फिर निकालो। क्यों? इसका क्या कारण है?" राहुल ने कहा, "पूरा देश जानता है कि सीबीआई प्रमुख राफेल पर जांच करने जा रहे थे। पूरा देश जानता है कि उन पर दबाव डाला जा रहा था। पूरा देश जानता है कि जब उन्होंने जांच की तैयारी शुरू की तो नरेंद्र मोदी ने उन्हें हटा दिया। अब क्यों हटाया, राहुल गांधी इसका जवाब नहीं दे सकता, यह तो नरेंद्र मोदी को जवाब देना होगा।"

हाल ही में राहुल ने कहा था कि प्रधानमंत्री उनसे बात नहीं करते। प्रधानमंत्री जब उनके परिवार का और उनका जिक्र करते हैं तो वह नामदार, फोन बैंकिंग होती थी, जमानत पर रिहा परिवार, इस तरह की टिप्पणियां करते हैं। इस पर गांधी ने कहा, "जो नरेंद्र मोदी जी कहते हैं, वह जानें, मैं जो करता हूं, जो कहता हूं, प्यार से बात करता हूं। उनके बारे में भी मैं आदर से बात करता हूं, गलत शब्द का प्रयोग नहीं करता। मैं उनके बारे में गलत नहीं कहता, सच्चाई बोलता हूं।" उन्होंने कहा, "मैं बोलता हूं कि बेरोजगारी है। मैं कहता हूं कि प्रधानमंत्री ने किसानों का कर्जा माफ नहीं किया - झूठ बोला उन्होंने। हर भाषण में कहते थे किसानों की मदद करूंगा, लेकिन नहीं किया। हमने कहा था कि हम 10 दिनों के अंदर राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के किसानों का कर्ज माफ करेंगे। हमने दो दिन में कर दिया। हम जो सोचते हैं, वह करते हैं। जो हमारे दिल में होता है, हम वह बोलते हैं और वही करते हैं। हम झूठ नहीं बोलते।" कांग्रेस अध्यक्ष के अनुसार, वर्तमान सरकार ने हिंदुस्तान में अर्थव्यवस्था की धज्जियां उड़ा रखी है। उन्होंने कहा, "किसी भी छोटे दुकानदार से आप पूछिए, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की बात करिए - उसका मजाक बना रखा है।" राहुल अपने हर भाषण में कहते हैं कि वह 2019 में मोदी को हटा देंगे। इस सवाल पर उन्होंने कहा, "मैं नहीं, प्रधानमत्री मोदी को हिंदुस्तान की जनता हटा देगी। हिंदुस्तान के किसान, छोटे दुकानदार और युवा भारतीय जनता पार्टी को इस बार नहीं चुनेंगे।" उन्होंने कहा, "नरेंद्र मोदी जी ने वायदा किया था कि पांच साल में हिंदुस्तान को बदल देंगे। बदल दिया, लेकिन गलत तरीके से। मुझे याद है, जो भरोसा युवाओं में था, वह आज टूट गया। यह हिंदुस्तान की भावना है।" सपा-बसपा गठबंधन पर उन्होंने कहा, "यह एक राजनीतिक फैसला है और कांग्रेस उसका आदर करती है। हमें अपना काम करना पड़ेगा, हम लड़ेंगे और पूरे दम के साथ हर सीट पर लड़ेंगे। हम पीछे हट कर नहीं लड़ेंगे।"

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...