वाजपेयी पर प्रदर्शनी और हेमा का नृत्य होगा प्रवासी भारतीय दिवस का विशेष आकर्षण - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 12 जनवरी 2019

वाजपेयी पर प्रदर्शनी और हेमा का नृत्य होगा प्रवासी भारतीय दिवस का विशेष आकर्षण

exhibition-on-vajpayee-and-hema-s-dance-to-be-a-special-highlight-of-pravasi-bharatiya-divas
नयी दिल्ली, 11 जनवरी, सांसद एवं सुविख्यात अभिनेत्री हेमा मालिनी वाराणसी में हो रहे 15वें प्रवासी भारतीय दिवस समारोह में ‘गंगा’ पर आधारित एक विशेष नृत्य कार्यक्रम प्रस्तुत करेगी और वहां पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की यादों से जुड़ी एक प्रदर्शनी भी लगायी जायेगी। विदेश राज्य मंत्री जनरल वी. के. सिंह ने शुक्रवार को यहां प्रवासी भारतीय दिवस कार्यक्रम के बारे में संवाददाताओं को यह जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 22 जनवरी को प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे जबकि राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद समापन समारोह में 23 जनवरी को 30 प्रमुख लोगों को प्रवासी भारतीय सम्मान प्रदान करेंगे। वर्ष 2017 में प्रवासी भारतीय सम्मान से सम्मानित मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ सम्मेलन के मुख्य अतिथि होंगे। जनरल सिंह ने कहा कि श्रीमती हेमा मालिनी 23 जनवरी को गंगा के घाट पर गंगा पर आधारित एक भव्य नृत्य कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगी। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सम्मान में सम्मेलन के मुख्य सभागार का नाम अटल बिहारी सभागार रखा गया है। दिवंगत नेता की स्मृति में उनकी तस्वीरों एवं पोस्टरों की एक प्रदर्शनी भी लगायी जायेगी। उन्होंने कहा कि इस वर्ष के प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन की थीम प्राचीन तथा आधुनिक भारत तथा प्रवासियों का भारत की तरक्की में योगदान होगा। उन्होंने बताया कि 21 जनवरी को युवा प्रवासी भारतीय दिवस कार्यक्रम में नार्वे के सांसद हिमांशु गुलाटी और न्यूजीलैंड के सांसद कमलजीत सिंह बख्शी प्रमुख अतिथि होंगे। जनरल सिंह ने बताया कि इस बार प्रवासी भारतीय दिवस में प्रयागराज का कुंभ मेला और दिल्ली में गणतंत्र दिवस की परेड को भी जोड़ा गया है। चौबीस जनवरी को वाराणसी से सड़क मार्ग से मेहमानों को प्रयागराज लाया जाएगा जहां से शाम को ट्रेन से उन्हें दिल्ली के लिए रवाना किया जाएगा। इस साल अब तक 5000 से अधिक पंजीकरण हो चुके हैं जबकि मीडिया के 450 से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...