बेगूसराय : पुलिस और अपराधियों के बीच हुई मुठभेड़ का हुआ खुलासा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 13 जनवरी 2019

बेगूसराय : पुलिस और अपराधियों के बीच हुई मुठभेड़ का हुआ खुलासा

police-criminal-fight
अरुण कुमार (बेगूसराय) पुलिस कप्तान अवकाश कुमार को गुप्तसूचना मिली कि चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र के मेहदा शाहपुर में बड़ी संख्या में अपराधियों का जमावड़ा हो रहा है जो किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में है।इसकी पुष्टि के लिए उन्होंने एएसपी अभियान अमृतेश कुमार को लगाया।इसकी पुष्टि के लिए दलबल के साथ एएसपी अमृतेश वहाँ पहुँचे तो नाकेबन्दी कर अपराधियों को ललकार के साथ चेतावनियों के साथ सरेंडर करने को कहा।लेकिन अपराधियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी।इसके बाद दोनों तरफ से मौके के अनुसार रुक-रुककर गोलियाँ चलाई जाती रही।इसी बीच पुलिस कप्तान अवकाश कुमार स्वयं पहुँच कर मोर्चा संभाल लिया।इसके बाद पुलिस का मनोबल बढ़ा और आमने सामने की टक्कर में तीन अपराधियों को ढेर कर दिया।तीनों नामी एवं कुख्यात अपराधी बताए जा रहे हैं।

घटना की सूचना पाते ही डीआईजी मनु महाराज भी पहुंचे घटनास्थल।
घटना की जानकारी मिलते ही डीआईजी मनु महाराज भी घटनास्थल पर पहुंच कर मामले की पूरी जानकारी ली,उन्होंने कहा कि पुलिस ने बहादुरी का काम किया है।बताया गया कि मुठभेड़ में मेहदाशाहपुर पंचायत स्थित एसएच-55 मस्जिद चौक के उत्तर कांवर जाने वाली सड़क में गरमा इनार से उत्तर मुसहरी वन में हुई मुठभेड़ों में मारे गए अपराधियों में बेगूसराय शहर के नामी एवं कुख्यात अपराधियों में से एक सर्वोदय नगर निवासी सुमंत कुमार उर्फ़ सुमंता,धबौली निवासी धरमा यादव एवं रामबली सहनी शामिल है।सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार रामबली सहनी नीमाचांदपुरा थाना क्षेत्र के बन्द्वार गांव का है।परंतु जिला पुलिस कप्तान अवकाश कुमार ने बताया उसके पास से प्राप्त आधार कार्ड में कलकत्ता का एड्रेस है,जिसकी जाँच पड़ताल की जा रही है। पुलिस कप्तान अवकाश कुमार के अनुसार मारे गए अपराधियों के पास से एक कार्बाइन,एक आँटोमेटिक देशी पिस्टल,एक देशी कट्टा एवं दर्जनों राउंड गोलियां बरामद की गई है।

अपराधियों का सेफजोन था जय मंगला गढ़ का कांवर झील एरिया।
एनकाउंटर स्थल के आसपास लोगों में अपराधियों द्वारा शराब-दारू पीकर लगातार उत्पाद मचायी जा रही थी।जिससे पुलिस भी परेशान थी।सूत्रों की मानें तो काबर परिक्षेत्र अपराधियों के लिए सेफजोन बना हुआ था,जहां अपराधी पुलिस की नजर बचाते हुए लगातार घटना को अंजाम दे रहे थे। उक्त कार्रवाई के दौरान पुलिस की ओर से 50-60 राउंड व लगभग उतने ही राउंड अपराधियों की ओर से गोलियाँ फायर होने की आवाज से पूरा इलाका थर्रा उठा।गोलियों की तड़तड़ाहट को सुन अगल-बगल खेतों में काम कर रहे किसान एवं मजदूर वहां से निकल भागे।एनकाउंटर समाप्ति के बाद तीनों अपराधियों के शव प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चेरियाबरियारपुर लाया गया,जहाँ कागजी खानापूर्ति के उपरान्त पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल बेगूसराय भेज दिया।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...