बेगूसराय : नगर पार्षद, ब्लॉक कर्मचारियों के खिलाफ रिश्वत को लेकर धरना प्रदर्शन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 10 जनवरी 2019

बेगूसराय : नगर पार्षद, ब्लॉक कर्मचारियों के खिलाफ रिश्वत को लेकर धरना प्रदर्शन

protest-for-corruption
अरुण कुमार (बेगूसराय) प्राप्त जानकारी के अनुसार,बेगूसराय/बखरी नगर पंचायत में लालफीताशाही, लूट-खसोट व भ्रष्टाचार के जन पहल के बैनर तले सैकड़ों कार्यकर्ताओ ने गुरुवार को सीपीआई के अंचल सचिव कॉमरेड शिव सहनी की अध्यक्षता में नगर पंचायत दफ्तर पर धरना-प्रदर्शन किया। जन पहल के कार्यकर्ताओ ने प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ नहीं मिल सका है। में हुए भ्रष्टाचार की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई से कराने की मांग की है। धरनार्थियो को संबोधित करते हुए सीपीएम जिला सचिव मंडल के सदस्य रविंद्र सिंह ने कहा कि गरीब लोगों को पक्का मकान बनाने के वास्ते प्रधानमंत्री आवास योजना में बखरी के नगर पार्षदों और कार्यपालक पदाधिकारी ने जमकर लूट-खसोट व भ्रष्टाचार मचाया है. हालत यह है कि भ्रष्ट नगर पार्षदों और कार्यपालक पदाधिकारी को रिश्वत नहीं दे पाने के कारण सैकड़ों जरूरतमंद लोगों को आवास योजना  सभा को संबोधित करते हुए शिव सहनी ने कहा कि यह बात भी अब जन-जन तक खुलकर सामने आ गयी है कि जिन लोगों को इस योजना का लाभ दिया गया है, उन सभी लोगों से रिश्वत की वसूली की गई है। बस फर्क यह है कि रिश्वत के रेट अलग-अलग वार्ड में अलग-अलग हैं. किसी वार्ड में 30 हजार तो किसी वार्ड में 20 हजार तो किसी में 10-15 हजार रिश्वत की वसूली की गई है. जाहिर है कि रिश्वत के स्थान पर ऐसे लोगों को भी आवास योजना का लाभार्थी बना दिया गया है, जो इसके लिए पात्र ही नहीं है। वहीं बहुत से जरूरतमंद गरीब लोगों को वोट नहीं देने का आरोप लगाकर सी पी एम नेता राकेश झा ने कहा कि अब समय आ गया है,यही सही समय है कि  अब ऐसे भ्रष्ट नगर पार्षदों और नगर पंचायत अधिकारी के खिलाफ आंदोलन का बिगुल फूंका जाए, जिन्होंने लूट-खसोट मचा रखी है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार, लूट-खसोट और हकमारी के खिलाफ सामाजिक संगठन जन पहल आम- आवाम की लड़ाई लडने को तैयार है. जरूरत है कि आम लोग इसी तरह अपने हक-हुकूक के लिए सडकों पर उतरे तो भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी को जड से समाप्त किया जा सकता है।जन पहल के संयोजक विकास वर्मा ने कहा कि बखरी नगर पंचायत लूट-खसोट और भ्रष्टाचार का केंद्र बन गया है. छत विहीन गरीब लोगों के प्रधानमंत्री आवास योजना को पार्षदों और कार्यपालक पदाधिकारी ने मिलकर कमीशनखोरी की है. आवास योजना में करोडों रुपये के कमिशन की बंदरबांट की गई है। उन्होंने इस कमीशनखोरी की जांच सीबीआई से कराने की मांग बिहार सरकार से की है।धरना-प्रदर्शन को राजकुमार पंडित, चंदन कुमार, सीपीएम के अंचल सचिव संजीव कुमार, विजय मुखिया, महफूज साफी, मो. शाहिद अख्तर, डा. विन्देश्वरी महतो, हीरा राम, सुमित राय, रघुनंदन मास्टर जी, मनोज कुमार,  राम सागर पासवान, विजय पोद्दार, शेखर पोद्दार, ऐनुल अंसारी, राकेश मलाकार समेत अनेक लोगों ने संबोधित किया। जबकि राम प्रसाद ड्राइवर, सहदेव महतो,मकबूल अंसारी,मनोज साहनी, रामचन्द्र राम,लड्डूलाल (मुखिया) शम्भू साह सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं की भीड़ जमी रही।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...