सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 25 फ़रवरी 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 फ़रवरी

भाजपा का जुमला कांग्रेस का झांसा- श्री बैरागी 
गोलीकांड में क्लीनचिट किसानों के जनमत से धोखा , अखिल भारतीय किसान सभा ने जताया विरोध 
सीहोर। भाजपा 15 साल तक किसानों की आमदनी दुगनी करने का जुमला ही देती रहीं। परेशान किसानों ने कांग्रेसी को जनादेश दिया दुरभाग्य हैं अब कांग्रेस ने भी मंदसौर गोलीकांड के आरोपियों को क्लीनचित द ेदी है। गृहमंत्री बलाबच्चन का बयान हैरत में डालने बाला और शर्मनाक  हैं उक्त बात सोमवार को श्यामपुर में आयौजित अखिल भारती किसान सभा की बैठक में प्रांतीय महा सचिव प्रहलाद दास बैरागी ने किसानों को संबोधित करते हुए कहीं।  उन्ळोने कहा कि प्रदेश सरकार मंदसौर हत्याकांड को क्लीनचिट देकर इस कड़वी सच्चाई को बदल नहीं सकती है। अखिल भारतीय किसान महा सभा इस कृत्य की कड़ी निंदा करती है। प्रदेश के गृहमंत्री ने पिछले दिनों विधान सभा में मंदसौर गोलीकांड को पुलिस द्वारा आत्मरक्षा में की कार्यवाई बताया है। देश व प्रदेश के किसानां को आहत और हसस्तब्ध करता है।  मंत्री को अपने इस असत्य और निराशाधार बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए। यही हाल प्रधानमंत्री कृषि बीमा राशि का है। आज तक किसानों को लाभ नहीं दिया गया है। वहीं दूसरी और कांग्रेस की प्रदेश सरकार दस दिनों में किसानों को दो लाख रुपए तक का कर्ज माफी करने वाले बचन पत्र को अभी तक पूरा नहीं कर पाई है। बैठक में बड़ी संख्या में किसानगण मौजूद थे। 

बजरंग दल मातृशक्ति एवं दुर्गा वाहिनी बैठक हुई 

sehore news
सीहेार। विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल मातृशक्ति एवं दुर्गा वाहिनी राजगढ़ विभाग की बैठक टाउन हॉल परिसर में आयोजित हुई।   ें बैठक में दुर्गा वाहिनी एवं मातृशक्ति क्षेत्रीय सह संयोजिका  सुनीता  गर्ग एवं प्रांत मिलन प्रमुख कुमारी दीपा शर्मा प्रांत अधिकारी गोपाल सोनी अजीत शुक्ला, विहिप जिला अध्यक्ष सुनील कुमार शर्मा जिला उपाध्यक्ष  जगदीश कुशवाह जिला मंत्री राकेश कुमार विश्वकर्मा जिला संयोजक विवेक राठौर जिला कोषाध्यक्ष पंडित मोहित राम पाठक जिला संयोजीका अलका, नगर संयोजीका कुमारी दक्षिणा दुबे इछावर प्रखंड एवं नगर से संयोजीका कुमारी राखी परमार हर्षिता मकरया पूजा मेवाड़ा सीहोर नगर मंत्री योगेश  सेब संयोजक आशीष कुशवाह  महेंद्र सिंह सोलंकी चेतन राठौर भगवान कुशवाह संजय पहलवान शुभम कुशवाहा नरेश आदि मौजूद रहे। 

कलेक्टर को दिया आक्रोशित पीएचई कर्मचारियों ने ज्ञापन 
समस्याओं का नहीं हुआ निराकरण, आंदोलन की दी चैतावनी 
sehore news
सीहेार। आक्रोशित पीएचई कर्मचारी सोमवार को कलेक्ट्रेट पहुंचे। कर्मचारियों ने मध्य प्रदेश राज्य कर्मचारी संघ जिलाध्यक्ष संतोष जैन के नेतृत्व में संयुक्त कलेक्टर राजीव रंजन पांडे को ज्ञापन दिया। कर्मचारियों ने कहा की बीते तीन वर्षो से कर्मचारियों को विभागीय ड्रेस नहीं दी गई है। कर्मचारियों को वेतन का भुगतान भी समय पर नहीं किया जा रहा है। शासन के निर्देश के बाद भी विभागीय परामर्शदात्री समिति की बैठक आयोजित नहीं की जा रही है।  पीएचई प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष गोपाल यादव ने बताया की इस माह का वेतन भी कर्मचारियों को अबतक नहीं मिला है। जिस से कर्मचारियों को आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। उन्होने कहा की एरियर्स समयमान वेतनमान का एरियर्स भी नहीं दिया जा रहा है। कर्मचारियों ने कई बार कार्यपालन अधिकारी को समस्याओं से अवगत कराया है लेकिन विभागीय अधिकारी कर्मचारियों के हित में निर्णय लेने को तैयार नहीं है। कर्मचारियों ने उक्त मांगे पूरी नहीं होने पर प्रशासन को ज्ञापन के माध्यम से आंदोलन करने की चैतावनी दी है। ज्ञापन देने वालों में प्रदेश सहमहामंत्री संतोश शर्मा, संभागीय अध्यक्ष गोपाल सिंह ठाकुर, भारतीय मजदूर संघ अध्यक्ष अनिल शर्मा, जिला कोषाध्यक्ष नरेंद्र कुमार, जिला सचिव ओपी शर्मा, हरीश दिसोरिया, तहसीलाध्यक्ष मनोज व्यास, सुरेश शर्मा, पीएचई प्रकोष्ठ कोषाध्यक्ष महेंद्र सेन, सचिव लक्ष्मीनारायण, ओम प्रकाश राजपूत, देवी सिंह चौधरी, शिव भेरवे, कुमेर सिंह ठाकुर, अनवर खान, निसार खान, जशरथ सिंह ठाकुर मुस्ताक अहमद मदन गिर, मानपूरी, गणेश सेानी, प्रेमनारायण जावरिया आदि शामिल है।

प्रदेश सरकार किसानों के हित के लिए प्रतिबद्ध - प्रभारी मंत्री
श्री अकील ने किसान सम्मेलन में वितरित किए किसान सम्मान ताम्रपत्र एवं फसल ऋण माफी प्रमाण पत्रसीहोर व नसरुल्लागंज में आयोजित हुआ किसान सम्मेलन
sehore news
सोमवार 25 फरवरी को जिला मुख्यालय स्थित कृषि उपज मंडी प्रांगण में जय किसान फसल ऋण माफी योजना अन्तर्गत किसान सम्मेलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में गैस त्रासदी, राहत एवं पुर्नवास, पिछडा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग मध्यप्रदेश शासन तथा सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। दीप प्रज्जवलन के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील द्वारा ऋण माफी योजना से लाभांवित होने वाले किसानों को प्रतीकात्मक रूप से सम्मेलन के दौरान किसान सम्मान ताम्रपत्र एवं प्रमाण पत्र वितरित किए गए।  प्रभारी मंत्री ने किसान सम्मेलन में उपस्थित कृषकों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के हित के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा देश कृषि प्रधान देश है, कृषक हम सबके अन्नदाता हैं। शासन द्वारा कृषकों को आर्थिक रूप से मजबूत एवं आत्मनिर्भर बनाने के लिए विभिन्न प्रकार की सहायता प्रदान की जा रही है जिसमें से जय किसान फसल ऋण माफी योजना एक महत्वपूर्ण कदम है। जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे परिश्रम से प्रदेश सरकार की इस योजना के अन्तर्गत सीहोर जिले के लगभग 2 लाख 33 हजार 084 कृषक लाभांवित होंगे। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों का दायित्व है कि सब मिलकर जनता की सेवा करें और जनहित के कार्यों में मिलकर कार्य करें। उपसंचालक कृषि श्री अवनीश चतुर्वेदी ने कृषकों को जानकारी दी कि अब डिफाल्टर खाते(एन.पी.ए.) वाले किसानों का भी इस योजना के तहत कर्ज माफ किया जाएगा। किसान सम्मेलन में प्रभारी कलेक्टर श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव, अनुविभागीय अधिकारी सीहोर श्री वरुण अवस्थी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। श्री सुरेन्द्र सिंह ठाकुर, श्री शैलेन्द्र पटेल, रतन सिंह ठाकुर, श्री रमेश सक्सेना, श्री राजीव गुजराती, श्री मुकेश ठाकुर, श्री राजकुमार पटेल आदि भी कार्यक्रम में उपस्थित थे।

नसरुल्लागंज में भी सपंन्न हुआ किसान सम्मेलन कार्यक्रम
इसी प्रकार जिले की नसरुल्लागंज तहसील स्थानीय हायर सेकेंडरी उत्कृष्ट विद्यालय के पीछे जय किसान फसल ऋण माफी योजना अन्तर्गत किसान सम्मेलन संपन्न हुआ। इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि गैस त्रासदी, राहत एवं पुर्नवास, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग मध्यप्रदेश शासन तथा सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील थे। कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि श्री अकील ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना पर प्रकाश डालते हुए किसानों को संबोधित किया साथ ही योजना अनतर्गत लाभांवित हुए किसानों को किसान सम्मान ताम्रपत्र एवं फसल ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित किए। नसरुल्लागंज विकासखंड के 49 हजार 626 किसान इस योजना से लाभांवित होंगे।

प्रभारी मंत्री ने किया नसरुल्लागंज अस्पताल का औचक निरीक्षण
प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील ने किसान सम्मेलन के पश्चात नसरुल्लागंज के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान प्रभारी मंत्री ने वार्डो एवं कक्षों का निरीक्षण मरीजों के हालचाल पूछे। साथ ही बीएमओ को निर्देशित किया कि मरीजों के साथ सहानुभूति पूर्वक चिकित्सा उपचार किया जाए। अस्पताल में किसी भी प्रकार की अव्यवस्था न हो इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए। 

चार फरार आरोपियों पर इनाम घोषित

पुलिस अधीक्षक सीहोर श्री शशीन्द्र चौहान ने चार फरार आरोपियों की गिरफ्तारी कराने अथवा गिरफ्तारी में सहायक कराने वाले व्यक्ति को नगद पुरस्कार देने की घोषणा की है।   पुलिस अधीक्षक ने बताया कि फरार आरोपी मिश्रीलाल मीणा एवं हलीम खां पिता मदन खां निवासी बुगलीवाली ईमलिया पर (एक-एक हजार रुपये) तथा आरोपी हिरदेश गिरी पिता श्याम गिरी निवासी हीरापुर थाना अहमदपुर एवं एक अज्ञात आरोपी पर (दो-दो हजार रुपये) की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। किन्तु अभी तक फरार आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस अधीक्षक श्री चौहान ने उद्घोषणा जारी की है कि जो भी व्यक्ति आरोपियों की गिरफ्तारी कराएगा अथवा गिरफ्तारी में सहायक होगा  उसे पुरस्कृत किया जाएगा। सूचना देने वाले का नाम सर्वथा गोपनीय रखा जाएगा।

अनुसूचित जाति वर्ग के युवा अपने स्वयं के व्यवसाय के लिए कर सकते हैं आवेदन

जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति कार्यपालन अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि अनुसूचित जाति वर्ग के आवेदन वाहन व अन्य वयवसाय के लिए आवेदन कर सकते हैं। आवेदक पोकलेन मशीन, जीप टेक्सी, आटो, लोडर, जे.सी.बी मशीन, ट्रेक्टर, बस, ट्रक आदि के लिए शीघ्र अवेदन करें जिससे कि समय से पूर्व आवेदकों का लाभांवित किया जा सके। आवदेक अधिकारी के लिए जिला अंत्यावसायी कार्यालय कलेक्ट्रेट भवन कक्ष क्रमांक 121 में कार्यालयीन समय में सपंर्क कर सकते हैं।

सरल बिजली बिल स्कीम के सभी उपभोक्ता नई योजना में शामिल होंगे

शासन के निर्देशानुसार सरल बिजली बिल स्कीम के सभी उपभोक्ता योजना में शामिल होंगे। सरल बिजली बिल के प्राप्त/ लंबित पात्र आवेदन भी इस योजना में मान्य होंगे। योजना 25 फरवरी एवं इसके बाद प्रारंभ होने वाले आगामी बिलिंग चक्र से लागू होगी। हितग्राहियों के बिल की गणना विद्युत नियामक आयोग के टैरिफ अनुसार की जायेगी। ग्रामीण क्षेत्र में 500 वॉट तक के संयोजित भार वाले अनमीटर्ड उपभोक्ताओं के लिये आयोग द्वारा टैरिफ आदेश में निर्धारित दर से बिलिंग की जायेगी। शहरी क्षेत्रों में मीटर के आधार पर ही बिलिंग होगी। जिन उपभोक्ताओं के परिसर में पूर्व में मीटर स्थापित थे, वहाँ मीटर खराब होने पर विगत 3 माह की औसत खपत 100 यूनिट से कम होने पर तदनुसार मान्य की जाएगी। औसत खपत 100 यूनिट से अधिक होने पर बिलिंग की सीमा 100 यूनिट होगी। खराब मीटर को बदलने की कार्यवाही शीघ्र की जायेगी। योजना में पूर्ववत् मात्र 1000 वॉट तक के संयोजित भार वाले उपभोक्ता शामिल होंगे। एयर कंडीशन एवं हीटर का उपयोग करने वाले उपभोक्ता पात्र नहीं होंगे। अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के गरीबी रेखा के नीचे जीवन-यापन कर रहे घरेलू सरल उपभोक्ताओं को इंदिरा गृह ज्योति योजना का लाभ मिलेगा तथा वर्तमान में प्राप्त होने वाली ऊर्जा प्रभार व ईधन प्रभार की छूट भी जारी रहेगी। किसी माह में 100 यूनिट से अधिक खपत होने पर प्रचलित टैरिफ अनुसार 100 यूनिट से अधिक की खपत पर लागू ऊर्जा प्रभार, एफसीए, मीटर प्रभार, विद्युत शुल्क का भुगतान उपभोक्ता द्वारा स्वयं किया जायेगा। 100 यूनिट से अधिक खपत पर नियत प्रभार में होने वाली वृद्धि के अन्तर की राशि भी हितग्राही द्वारा स्वयं देय होगी। वितरण कम्पनियों द्वारा विद्युत नियामक आयोग के निर्धारित मानदण्ड के अतिरिक्त और कोई भी आंकलित यूनिट बिल में नहीं जोड़े जायेंगे। योजना में जारी किये जाने वाले बिलों में शासन द्वारा प्रदत्त सब्सिडी का स्पष्ट उल्लेख किया जायेगा। आगामी बिलिंग से उपभोक्ताओं को लाभ देने के लिए बिजली कंपनियों के साफ्टवेयर में आवश्यक परिवर्तन यथाशीघ्र करने के निर्देश दिये गये हैं। घरेलू उपभोक्ता के लिए लागू अन्य सबसिडी यथावत जारी रहेगी।

अवकाशों में भी खुले रहेंगे जिला पंजीयक एवं उप पंजीयक कार्यालय

समस्त अवकाशों में भी जिला पंजीयक एवं उप पंजीयक कार्यालय खुले रहेंगे। इसके लिए जिला पंजीयक ने जिले के समस्त उप पंजीयकों को पत्र लिखकर निर्देश दिए है। जनसामान्य को दस्तावेजों के पंजीयन कार्य में सुविधा देने के लिए माह मार्च में 21 मार्च होली अवकाश को छोड़कर सभी अवकाशों में जिला पंजीयक एवं समस्त उप पंजीयक कार्यालय पंजीयन कार्य एवं शासकीय कार्य के लिए खुले रहेंगे। सभी उप पंजीयकों से यह भी कहा गया है कि अपने क्षेत्रांतर्गत समस्त सेवा प्रदाताओं, दस्तावेज लेखकों एवं स्टॉंप वेंडरों को अवगत कराएं। साथ ही उन्हें मार्च माह में अवकाश के दिनों में अपने निर्धारित स्थान पर उपस्थित रहने तथा पक्षकारों के दस्तावेजों के पंजीयन प्रारंभ सुगमता से कराने को कहा है।

भारत एवं यू.के. के संयुक्त दल द्वारा वाटरशेड विकास कार्यो का किया अवलोकन

राजीव गांधी मिशन फार वाटरशेड मैनेजमेंट एंव आईटीसी ‘‘मिशन सुनहर कल’’ के द्वारा सहयोगी संस्था सीपा के माध्यम से एकीकृत जलग्रहण क्षेत्र प्रबधंन कार्यक्रम-7 (वाटरशेड) ग्राम धबोटी मे जलग्रहण समिति द्वारा वाटरशेड विकास कार्य किये जा रहे है, उक्त कार्यक्रम को देखने एंव अवलोकन किये जाने हेतु आज 25 फरवरी को भारत, यूके वाटर सेंटर टीम के सदस्यो जिसके  अंतर्गत भारतीय दल से लीडर, डॉ.पंकज कुमार  एंव टीम, आईआईएस आर संस्थान, भोपाल एवं यू.के. दल से लीडर डॉ सुमित सिन्हा यूनिवर्सिटी आफॅ लीड्स एंव डॉ एलेक्जेंडर गागनोन, विरपूल जान मोर्स यूनिवर्सिटी सहित 35 सदस्यो की टीम द्वारा वाटरशेड विकास कार्यो का रिज टू वेली के सिंद्वांत पर किये जा रहे कार्यो अवलोकन एंव निरीक्षण किया गया, जिसमे अर्धन डेम, सीरीज आफॅ फार्म पेण्ड, मेढ बंधान आदि कार्य जो वाटरशेड कमेटी द्वारा कराये गये सभी कार्यो की सराहना कि गई। दल के अलावा मिशन मुख्यालय, राजीव गांधी वाटरशेड मिशन भोपाल से श्रीमति ज्योत्सना सरवाइकर टास्क मैनेजर भोपाल, आईटीसी मिषन सुनहरा कल से श्री गिरिराज शाह, प्रोग्राम मैनेजर एंव श्री मनीष सुर्वे एंव सीपा संस्था के सी.ओ.ओ श्री जीत परमार एंव जिला पंचायत से श्री राकेश बिर्ला सहित वाटरशेड टीम उपस्थित थे।

जोनल डायरेक्टर ने किया कृषि विज्ञान केन्द्र का निरीक्षण

आई. सी.ए.आर जोनल डायरेक्टर जबलपुर डॉ अनुपम मिश्रा कृषि प्रौद्योगिकी अनुप्रयोग अनुसंधान संस्थान, (अटारी), जोन द्वारा कृषि विज्ञान केन्द्र, सेवनिया का भ्रमण किया गया। भ्रमण के दौरान उन्होंने कृषि विज्ञान केन्द्र की गतिविधियों पर चर्चा करते हुए केन्द्र में कार्यरत वैज्ञानिकों से विषयवार अग्रिम पंक्ति प्रदर्शन, प्रक्षेत्र परीक्षण, स्वरोजगार प्रशिक्षण, कृषक व महिला कृषक प्रशिक्षणों व अन्य गतिविधियों की प्रगति पर विस्तार से जानकारी ली। आपने केन्द्र द्वारा अंगीकृत न्यूट्रीस्मार्ट विलेज की प्रगति, महिलाओं हेतु स्वरोजगार प्रषिक्षण, किसान मोबाईल संदेश की प्रगति, व्हाट्सअप ग्रुप से कृषि तकनीकों की जानकारी की प्रगति, किसानों को भेजे जा रहे मोबाईल संदेशों का फीडबैक आदि पर विस्तृत चर्चा कर जानकारी ली। प्रक्षेत्र भ्रमण के दौरान उन्होंने गेंहू बीज उत्पादन, लहसुन बीज उत्पादन, मैथी फसल, आम की उन्नत बागवानी, सहजन का पौध रोपण एवं उपयोगिता, अमरूद बागवानी, पशुषाला का निरीक्षण किया एवं उन्नत नस्ल गाय गिर पर भी वैज्ञानिकों से जानकारी ली। केन्द्र पर प्रदर्शित तकनीकें जैसे नाडेप कम्पोस्ट, वेस्ट डी कम्पोजसर, वर्मी वाष, वर्मी कम्पोस्ट आदि पर विस्तार से जानकारी ली एवं आवयक दिशा निर्देश भी दिये गये। कार्यक्रम के दौरान वैज्ञानिक संदीप टोडवाल, श्री जेके कनौजिया, श्री दीपक कुशवाह, श्री देवेन्द्र पाटिल, कु. कुसुम सुखवाल आदि उपस्थित थे।

आयुष्मान निरामयम योजना अंतर्गत जिला स्तरीय निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर 27 को प्रभारी मंत्री करेंगे शिविर का शुभारंभ

आयुष्मान भारत निरामयम् मध्यप्रदेश योजना अंतर्गत जिला स्तरीय निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का शुभारंभ मध्यप्रदेश शासन के अल्पसंख्यक, गैस राहत पुनर्वास मंत्री एवं प्रभारी मंत्री श्री आरीफ अकील द्वारा 27 फरवरी को दोपहर 12 बजे किया जाएगा। शिविर में ब्लाक स्तरीय शिविरों से गंभीर बीमारियों के चिन्हित रेफर मरीजों, अन्य बीमारियों से संबंधित मरीजों एवं गंभीर बीमारियों को नवीन पंजीकृत मरीजों की जांच कर उपचार किया जाएगा वहीं सभी जरूरी आवश्यक जांचे भी निःशुल्क की जाएगी।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.प्रभाकर तिवारी ने बताया कि उक्त जिला स्तरीय शिविर में जिला अस्पताल में पदस्थ विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा हितग्राही मरीजों की जांच की जाएगी वहीं उन्हें गंभीर बीमारियों के उच्च स्तरीय उपचार के लिए शासकीय मेडिकल कॉलेज अथवा मध्यप्रदेश शासन से मान्यता प्राप्त प्रायवेट चिकित्सालयों में भी इस्टीमेंट बनाकर उपचार कराया जाएगा। शिविर की व्यापक स्तर पर तैयारियों के लिए सभी जरूरी दिशा निर्देश सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक को दिए गए है। वहीं समस्त बीएमओ को निर्देशित किया गया है कि वे ब्लाक स्तरीय शिविरों में चिन्हित किए गए  मरीजों को जिला स्तरीय शिविर में अनिवार्य रूप से भिजवाने की व्यवस्था करें। विभाग द्वारा शिविर की शत प्रतिशत सफलता की व्यापक तैयारियां की गई है।

आज प्रभारी मंत्री आष्टा में किसान सम्मेलन में होंगे शामिल  
प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील करेंगे किसान सम्मान ताम्रपत्र एवं फसल ऋण माफी प्रमाण पत्र का वितरण
गैस त्रासदी, राहत एवं पुर्नवास, पिछडा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग मध्यप्रदेश शासन तथा सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील आज सीहोर जिले के भ्रमण पर रहेंगे। जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील मंगलवार 26 फरवरी को प्रात: 9:30 बजे भोपाल से कार द्वारा प्रस्थान कर 11 बजे सीहोर जिले के आष्टा तहसील में जनपद पंचायत परिसर में जय किसान फसल ऋण माफी योजना अन्तर्गत आयोजित किसान सम्मेलन में शामिल होंगे। दोपहर 12 बजे आष्टा से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...