विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 17 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 17 फ़रवरी 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 17 फ़रवरी

शहर के गरीब और मजदूरों को मिलेगा सम्मानजनक जीवन-भार्गव

विदिशाः श्रम विभाग, म.प्र. विधुत मंडल एवं नगर पालिका परिषद द्वारा संयुक्त रूप से जनससमया निवारण षिविर एवं 100रू में 100 यूनिट बिजली के लिए इंदिरा गृह ज्योति योजना के पंजीयन षिविर आज प्रातः 9 बजे से बरईपुरा चैराहे पर आयोजित किया गया। षिविर के माध्यम से जरूरतमंद लोगों के भवन निर्माण श्रमिक कार्ड, घरेलू कामगार कार्ड, हाथ ठेला श्रमिक कार्ड के नवीन आवेदन नवीनीकरण एवं विधवा पेंषन, वृद्धावस्था पेंषन व अन्य सामाजिक सुरक्षा पेंषन के आवेदन मौके पर ही जमा किए जा रहें है। षिविर के माध्यम से इंदिरा गृह ज्योति योजना में 85 पंजीयन व भवन निर्माण श्रमिक कार्ड के लिए 130 पंजीयन हुए।  षिविर के शुभारंभ अवसर पर संबोधित करते हुए विधायक शषांक भार्गव ने बताया कि मुख्यमंत्री की शपथ लेने के तुरंत बाद से ही कमलनाथ जी ने कई जनकल्याणकारी फैसले लिए है। कांग्रेस सरकार का लक्ष्य हरेक गरीब मजदूर को सम्मानजनक जीवन स्तर देना है। इसी उद्देष्य से मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने सस्ती बिजली देने के लिए इंदिरा गृह ज्योति योजना लागू की है। शहर के ज्यादा से ज्यादा मजदूर भाईयों को इस योजना का लाभ सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाए बिना मिल सके इसलिए हम शहर के अलग-अलग इलाकों में षिविर लगा रहें है। 18 फरवरी को रामलीला चैराह व 19 फरवरी को टीलाखेडी में षिविर को आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान विदिषा एस.डी.एम. सी.पी. गोहिल, विधुत मंडल ए.ई. राजीव कुमार, नपा राजस्व निरीक्षक अरूण त्यागी ने म.प्र. सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी।  कार्यक्रम को नगर कांग्रेस अध्यक्ष वीरेन्द्र पीतलिया, असंगठित कामगार कांग्रेस अध्यक्ष अजय कटारे ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रदीप गुप्ता, राजेन्द्र गुप्ता, मोहरसिंह रघुवंषी, पार्षद डालचंद अहिरवार, विजयकांत रैकवार, पार्षद राजेष नेमा, पार्षद नवनीत कुषवाह, प्रषांत शर्मा, भूपेन्द्र यादव, राजकुमार डीडोत, ओ.पी. सोनी, लालू लोधी, गुड्डू किरार, दषन सक्सैना, सुनील शर्मा, योगेन्द्र राय, हैप्पी शर्मा, प्रीति कुषवाह, कमलेष साहू, बालमुकंुद चिढार सहित सैकडों आम नागरिक मौजूद रहें। 

एनएलएमटी के सदस्यों ने योजनाओं की समीक्षा की
        
नेशनल लेबल माॅनिटरिंग टीम (एनएलएमटी) के तीन सदस्यीय टीम ने विदिशा जिले में भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार के सहयोग से संचालित राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के क्रियान्वयन की समीक्षा की। टीम के सदस्यों ने जिले के कृषि अधिकारियों से चर्चा कर क्रियान्वित केन्द्रीय कृषि योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा उपरांत विदिशा एवं ग्यारसपुर विकासखण्डो के ग्रामोे का भ्रमण कर कृषकों से रूबरू होकर मैदानी स्तर पर योजना के क्रियान्यन की वास्तविकता को जाना। नेशनल लेबल माॅनिटरिंग टीम दल के प्रमुख दलहन विकास निदेशालय भोपाल के निर्देशक डाॅ एके तिवारी, सदस्य के अलावा टीम में शामिल वैज्ञानिक क्षेत्रीय गेहंू अनुसंधान केन्द्र इंदौर के प्रधान वैज्ञानिक डाॅ केसी शर्मा, कीट विज्ञान कृषि महाविद्यालय सीहोर के पूर्व प्रमुख वैज्ञानिक डाॅ केजी सिंह ने कृषि विभाग के माध्यम से क्रियान्वित केन्द्र समर्थित योजनाएं जैसे एनएफएसएम, आरकेव्हीवाय, एनएमएसए, पीएमकेएसवाइ, पीकेव्हीवाई, आत्मा, एनएमएईटी इत्यादि की गहन समीक्षा की। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के सहायक संचालक श्री महेन्द्र सिंह ठाकुर एवं श्री एनपी प्रजापति द्वारा केन्द्र पोषित योजनाओं एवं राज्य पोषित योजनाओं पर आधारित गतिविधियों का पावर पाइंट के माध्यम से प्रस्तुतिकरण कर योजनावार विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। 

नेशनल लेबल माॅनिटरिंग टीम ने कृषको से संवाद किया
        
नेशनल लेबल माॅनिटरिंग टीम के सदस्यों ने गत दिवस विदिशा के ग्यारसपुर विकासखण्ड में क्रियान्वित केन्द्रीय कृषि योजना से लाभांवित होने वाले कृषक हितग्राहियों से गांव में पहुुंचकर संवाद किया और उनके खेतो का अवलोकन कर ली जा रही फसलों की गुणवत्ता को परखा। एनएलएमटी के सदस्यों द्वारा ग्राम अम्बार में कृषक दया सिंह लोधी, हरिसिंह लोधी, गजराज सिंह लोधी के खेतों में डाले गए गेहंू एवं चना क्लस्टर प्रदर्शन का अवलोकन किया साथ में किसानो के पास उपलब्ध स्पाइरल ग्रेडर, चैफकटर एवं विद्युत पंप, स्प्रिकलंर सेट एवं नाडेप टांको का अवलोकन करने के उपरांत कृषि क्षेत्र में उपकरणों से होने वाले मुनाफो के संबंध में कृषकों से चर्चा की। ग्राम कंजेला के प्रगतिशील कृषक केतन अग्रवाल के यहां कस्टम हायरिंग सेन्टर तथा उनके द्वारा क्रियान्वित मधुमक्खी पालन, पशुपालन, गौ संरक्षण केन्द्र का अवलोकन किया। ग्राम केवट में कृषक नितिन दांगी ने आत्मा परियोजना के तहत राज्य के बाहर भ्रमण के उपरांत प्राप्त प्रेरणा और मार्गदर्शन का अनुपालन कर डेयरी फार्म, पशुशाला, मुर्गी पालन, वायोगैस, वर्मीकम्पोस्ट एवं उद्यानिकी पौधे तथा सोलर पंप का उपयोग खेती किसानी मंें किया जा रहा है। कृषक के द्वारा कृषि क्षेत्र में किए जा रहे नवाचार से होने वाले मुनाफो की स्पष्ट झलक टीम के सदस्यों द्वारा देखी गई और उनके कार्याे की सराहना की गई। 

कलेक्टर से सौजन्य भेंट
        
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह से गत दिवस एनएलएमटी  के सदस्यों ने सौजन्य मुलाकात कर जिले के भ्रमण उपरांत कृषि के क्षेत्र में हुए नवाचार, परिवर्तन का कृृषको द्वारा किए जा रहे प्रयोग के संबंध में चर्चा की। नेशनल लेबल माॅनिटरिंग टीम प्रमुख सदस्य डाॅ एके तिवारी ने कृषको की आमदनी को दुगना करने के लिए जिले में किए जा रहे नवाचारो पर प्रशंसा जाहिर करते हुए बिना लागत के प्रारंभ की गई खेत पाठशाला की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए उक्त नवाचार को राष्ट्रीय स्तर पर शामिल करने का सुझाव वरिष्ठों को अवगत कराने का आश्वासन दिया।  कलेक्टर से सौजन्य भेंट के दौरान किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चैकसे समेत विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे।  

वन विभाग की दस वर्षीय कार्ययोजना से जनप्रतिनिधि अवगत हुए
        
विदिशा जिले में वन विभाग के द्वारा वनोक्षेत्र में किए जाने वाले कार्यो के साथ-साथ सुरक्षा और संधारित वनों को बढावा देेने के लिए किन बातो पर विशेष ध्यान दिया जाए तथा उपलब्ध वृक्षों, जंगली जानवरों के साथ-साथ वनोपज तथा वानिकी योजनाओं के लिए दस वर्षीय कार्ययोजना को अंतिम रूप दिया जाना है। कार्ययोजना में शामिल बिन्दुओं से अवगत कराने और जनप्रतिनिधियों से सुझाव प्राप्ति के उद्वेश्य से गत दिवस कलेक्टेªट के सभाकक्ष में बैठक आहूत की गई थी जिसमें कार्ययोजना को अंतिम रूप देने हेतु अधिकृत वन संरक्षक प्रभात कुमार वर्मा ने बिन्दुवार जानकारियां पावर प्रेजेन्टेशन के माध्यम से प्रस्तुत की। जनप्रतिनिधियों द्वारा दिए गए मौलिक सुझावों को अमल करने पर सहमति व्यक्त की गई जिसमें मुख्य रूप से जल संवर्धन के कार्यो के तहत जंगल में छोटे-छोटे तालाब संरचनाओं का निर्माण कराने पर जोर दिया गया है ताकि वन्य प्राणियों को सुगमता से ग्रीष्मकाल के दौरान भी पेयजल की आपूर्ति हो सकें ताकि वन्य प्राणियों का विचरण मानव आबादी बस्तियों की ओर ना आए। कार्यशाला में वन विभाग के माध्यम से तैयार की गई इस वर्षीय कार्ययोजना में सामान्य वन मंडल अधीन, सुधार कार्य, पुर्नस्थापना, वृक्षारोपण, अनावंटित, औषधी पौधो का प्रबंधन, वन सुरक्षा, संयुक्त वन प्रबंधन, जैव विविधता एवं वन्य प्राणी (अतिव्यापी) कार्यवृत्त, अनुसंधान, विस्तार सामाजिक वानिकी एवं लोक वानिकी के अलावा आरक्षित, संरक्षित, असीमांिकंत एवं अवर्गीकृत वन क्षेत्रों के संबंध में जानकारी व क्षेत्रफल से अवगत कराया गया। कार्यशाला में बताया गया कि विदिशा जिले के वनाक्षेत्र में मुख्यतः सागौन, साल, मिश्रित, बांस, खैर के क्षेत्रफल की भी जानकारी दी गई। वन संरक्षक श्री प्रभात कुमार वर्मा ने वनाधिकार पत्रों के वितरण के संबंध में बताया कि विदिशा जिले में 1271 व्यक्तिगत अधिकार पत्रों को 912.345 हेक्टेयर वन भूमि आवंटित की गई है जबकि 77 सामुदायिक दावाधारियों के लिए 61.53 हेक्टेयर भूमि आवंटित की गई है। आगामी दस वर्षो के लिए वन विभाग द्वारा सुरक्षा के मद्देनजर किए जाने वाले प्रबंधो, अतिक्रमण हटाने, वन ग्रामों का राजस्व विभाग में हस्तांतरण, चारागाहो की सूची, सुधार एवं पुर्नस्थापना कार्यो के क्रियान्वयन के साथ-साथ पौधरोपण और वन्य प्राणियों की संख्या बढाए जाने हेतु किए जाने वाले प्रबंधो पर विस्तारपूर्वक जानकारी दी। 

बामोरीशाला में 20 को शिविर
        
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के द्वारा जारी वार्षिक कैलेण्डर अनुसार जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर का आयोजन जिले में जारी है। इसी कडी के तहत 20 फरवरी बुधवार को सिरोेंज जनपद पंचायत के ग्राम बामोरीशाला में ततसंबंध मंें शिविर का आयोजन किया गया है। शिविर नियत स्थल पर प्रातः 11 बजे से शुरू होगा। 

सेक्टर आफीसर नियुक्त
        
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने आगामी लोकसभा निर्वाचन को जिले में सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न कराए जाने के उद्वेश्य से जिले की पांचो विधानसभाओं के लिए सेक्टर आफीसर नियुक्त करने के आदेश जारी कर दिए है। जिन अधिकारियों को सेक्टर आफीसर का दायित्व सौंपा गया है उन सभी को आदेश तामील किए जा चुके है और उन्हें सेक्टर क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मतदान केन्द्रों पर आयोग की मंशा अनुसार उपलब्ध कराई जाने वाली बुनियादी सुविधाओं की जानकारियों को आंकलन हेतु भ्रमण कर रिपोर्ट शीघ्र जिला निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध कराने के निर्देश भी प्रसारित किए गए है।  सेक्टर आफीसर सेक्टर के अंतर्गत आने वाले समस्त मतदान केन्द्रों का रूटचार्ट के अनुसार प्रथम चक्र का भ्रमण कर सेक्टर के अंतर्गत पहुंच मार्गो की स्थिति, मतदान केन्द्रों की स्थिति के साथ ही बल्नरेबल, क्रिटिकल एवं सामान्य मतदान केन्द्रांे तथा वल्नरेबिलिटी के कारणों आदि की जानकारी तैयार कर पुस्तिका में उल्लेखित समस्त प्रारूपों में जानकारी एआरओ, जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रस्तुत करेंगे। सेक्टर आफीसर द्वारा प्रस्तुत जानकारी के आधार पर बताई गई कमियों को दूर करने की कार्यवाही समय सीमा में संबंधितों द्वारा पूर्ण की जाएगी ताकि द्वितीय चरण के भ्रमण के समय प्रथम चक्र के भ्रमण में पाई गई कमियों को दूर करने के उपरांत की स्थिति के विवरण सहित जानकारी एआरओ एवं जिला निर्वाचन को प्रस्तुत करेंगे। 

पांचों विधानसभाओं के लिए 152 सेक्टर आफीसर्स नियुक्त
        
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने आगामी लोकसभा निर्वाचन को जिले में सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न कराए जाने के उद्वेश्य से जिले की पांचो विधानसभाओं के लिए कुल 152 सेक्टर आफीसर नियुक्त करने के आदेश जारी कर दिए है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा जारी आदेशानुसार लोकसभा निर्वाचन हेतु जिले की पांचो विधानसभाओं के लिए सेक्टर आफीसर नियुक्त किए गए है उनमें विदिशा विदिशा विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मतदान केन्द्रो के लिए कुल 30 सेक्टर आफीसर नियुक्त किए गए है जिनमें तीन रिजर्व भी शामिल है। इसी प्रकार बासौदा एवं कुरवाई विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मतदान केन्द्रों के लिए क्रमशः 33-33 सेक्टर आफीसर नियुक्त किए गए है जिनमें क्रमशः तीन-तीन रिजर्व भी शामिल है। जबकि सिरोंज विधानसभा क्षेत्र हेतु 29 जिसमें तीन रिजर्व तथा शमशाबाद विधानसभा क्षेत्र के लिए कुल 27 सेक्टर आफीसर नियुक्त किए गए है जिसमें दो रिजर्व भी शामिल है। 

इन्दिरा गृह ज्योति योजना से अवगत हुए 
        
vidisha newsविदिशा निकाय क्षेत्र के रहवासियों को इन्दिरा गृह ज्योति योजना की मूलअवधारणा से अवगत कराने तथा निर्धारित प्रपत्र में आवेदन देकर आवेदकों से भरवाने तथा उनकी मूलभूत समस्याओं से अवगत होने के उद्वेश्य से स्थानीय विधायक श्री शशांक भार्गव के द्वारा जन समस्या निवारण शिविर सह इन्दिरा गृह ज्योति योजना हेतु पंजीयन शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। रविवार को बरईपुरा चैराहे पास आयोजित ततसंबंधी शिविर को सम्बोधित करते हुए विधायक श्री शशांक भार्गव ने कहा जारी वचन में शामिल बिन्दुओं का लाभ संबंधित पात्रताधारियों को अविलम्ब मिले इस हेतु मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी ने जो वचन पत्र की बिन्दुओं को शीघ्रतिशीघ्र कार्यरूप में पर्णित कर हितग्राहियों को लाभ दिलाने का कार्य किया जा रहा है। इसी कडी के तहत कर्मकार मण्डल के अंतर्गत पंजीकृत हितग्राहियों को सौ रूपए में सौ यूनिट घरेलू बिजली बिल की सुविधा इन्दिरा गृह ज्योति योजना के माध्यम से प्रारंभ की गई है योजना का लाभ सुपात्रो को मिले के मद्देनजर इस प्रकार के शिविरो का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम को जनप्रतिनिधियों के अलावा एसडीएम श्री सीपी गोहल ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन का श्री अजय कटारे ने किया। इससे पहले नगरपालिका के श्रमिक कर्मकार मण्डल के माध्यम से क्रियान्वित योजनाओं का तथा ऊर्जा विभाग द्वारा इन्दिरा गृह ज्योति योजना के माध्यम से दी जाने वाली सुविधाओं की जानकारी नागरिकों को विभागों के अधिकारियों के माध्यम से दी गई। कार्यक्रम स्थल पर पार्षद श्री डालचंद अहिरवार के अलावा अन्य जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक मौजूद थे। 

खुशियो की दास्तां : खेत पाठशाला से किसान लाभांवित 

vidisha news
विदिशा जिले में खेत पाठशाला के माध्यम से किए गए नवाचार का लाभ किसानों को सीधे मिल रहा है जिसका असर खरीफ की फसलों में हुई पैदावार बढोतरी को स्पष्ट प्रदर्शित कर रहा है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के माध्यम से जीरो बजट पर खेत पाठशाला का संचालन किया जा रहा है। जैसा कि नाम है वैसा ही काम विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा किया जा रहा है। जिले की प्रत्येक पंचायत में इस प्रकार का आयोजन अब तक किया जा चुका है। सायंकाल को विभाग के अधिकारी पूर्व जारी कार्यक्रम अनुसार संबंधित गांव में पहुंचने के उपरांत  किसानों को स्थानीय बोलचाल की भाषा में कृषि क्षेत्र के नवाचारो की जानकारी दे रहे है इससे कही ज्यादा मौसम के प्रतिकूल असर से फसलों पर होने वाले नुकसान से कैसे बचे कि भी जानकारी सुगमता से दी जा रही है। पाठशाला के माध्यम से कृषकों को कृषि पद्वति में सुधार लाने के लिए प्रोत्साहित करना, कृषि एवं कृषि से जुड़ी सभी संसाधनो को संगठित एवं समन्वित प्रयास के लिए एक मंच पर लाना, किसानो से संवाद की स्थिति को बेहतर बनाना ही मुख्य उद्वेश्य है।  किसान खेत पाठशाला आयोजन में अग्रानुसार कृषि संबंधी विभागो का समन्वित सहयोग लिया जा रहा है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास, कृषि उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण, पशुपालन विभाग, मत्स्य विभाग, कृषि अभियांत्रिकी, जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक, सहकारिता विभाग, कृषि विज्ञान केन्द्र एवं बीज निगम को संयुक्त रूप से शामिल किया गया है।  पाठशाला आयोजन के प्रचार-प्रसार पर भी विशेष बल संबंधित विभागो के माध्यम से दिया जा रहा है। एक दिन पूर्व ग्राम स्तर पर कोटवार कर मुनादी की जाती है वही ग्राम पंचायत के सूचना पटल पर सूचना आयोजन के एक सप्ताह पूर्व चस्पा करा दी जाती है इसके अलावा किसान मित्र, किसान दीदी के माध्यम से आयोजन तिथि व समय का भी संदेश दिया जा रहा है। पाठशालाओं का आयोजन ग्राम स्तर पर उपलब्ध ग्राम चैपाल या पंचायत भवन अथवा सामुदायिक भवन इसमें से किसी एक स्थान पर किया जाता है। किसान कल्याण तथा कृषि विभाग के उप संचालक के कुशल मार्गदर्शन में संचालित किसान खेत पाठशाला तहत खरीफ मौसम में विदिशा जिले के विकासखण्डो में विभिन्न चरणों के अंतर्गत कुल 1406 ग्रामों में कृषक खेत पाठशालाएं आयोजित की गई। जिसमें कुल 51 हजार 343 कृषकों ने भाग लिया। वर्तमान में रबी मौसम में अभी तक 538 ग्रामों में पाठशालाओं का आयोजन कर 13 हजार 199 कृषकों ने सहभागिता निभाई है और उन्हें जानकारियां दी गई है। जिले में किसान खेत पाठशालाओं का आयोजन सतत जारी है। 

प्रवेश परीक्षा में 35 परीक्षार्थी शामिल हुए

अनुसूचित जाति जनजाति कार्य विभाग के माध्यम से संचालित भोपाल की विशिष्ट संस्थाओं में शैक्षणिक सत्र 2019-20 में कक्षा छटवीं एवं नवमीं में प्रवेश लेेने हेतु जिन अभ्यर्थियों के द्वारा आॅन लाइन आवेदन दाखिल किया था। उनके लिए चयन परीक्षा आज 17 फरवरी को शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बरईपुरा विदिशा में प्रातः 11 बजे से आयोजित की गई थी। उक्त परीक्षा के संदर्भ में जानकारी देते हुए अधीक्षक श्री पंकज दुबे ने बताया कि विदिशा जिले से कुल 52 विद्यार्थियों ने आॅन लाइन पंजीयन आवेदन दाखिल किया था जिसमें से परीक्षा स्थल पर 35 परीक्षार्थी उपस्थित रहें शेष 17 अनुपस्थित रहें।

18 व 19 फरवरी को आयोजित जनसमस्या निवारण शिविर अब 19 व 20 को फरवरी को होगें।

विदिशाः-  श्रम विभाग, विद्युत मण्डल व न.पा. विदिशा द्वारा जन समस्या निवारण शिविर व इन्द्रा गृह ज्योति योजना के पंजीयन शिविर का आयोजन दिनांक 18 फरवरी को रामलीला चैराहा व 19 फरवरी को टीलाखेड़ी में होना था। 18 फरवरी को पुलवामा के शहीदों को श्रदांजलि देने क लिए व्यापारी संगठनों ने विदिशा बंद का आब्ह्मन दिया हैं इस कारण 18 फरवरी को शिविर स्थागित कर 19 फरवरी को रामलीला चैराहा पर व 20 फरवरी को टीलाखेड़ी में आयोजित किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...