बेगुसराय : उत्साह भड़ा भीड़ हुआ कोहराम में तब्दील - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 मार्च 2019

बेगुसराय : उत्साह भड़ा भीड़ हुआ कोहराम में तब्दील

cm-visit-pintu-home-people-injured
अरुण कुमार (आर्यावर्त) जम्मू कश्मीर में शहीद पिंटू सिंह के परिजनों से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिनको देखने-सुनने को लेकर जुटी भीड़।अचानक उस वक़्त भीड़ में कोहराम मच गया जब सामने के मकान पर चढ़े आधा दर्जन बच्चे चदरा के छत टूटने से घायल हो गए।नीतीश कुमार के आगमन को लेकर पंचायत में गजब का उत्साह दिख रहा था।लेकिन पुलिस सड़क पर भी निकलने से लोगों को मना कर रही थी। पहली बार इस गांव में मुख्यमंत्री के आने से उत्साहित लोग उनके एक झलक पाने को छत का सहारा लिया और छत पर चढ़ गया तो पुलिस-प्रशासन के लोगों ने राहत की सांस ले रहे थे कि उनका भू-मार्ग साफ है।लेकिन जैसे ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का काफिला आगे बढ़ा कि और भी अधिक भीड़ बढ़ जाने के कारण छत पर और भी भीड़ बढ़ने लगी नतीजन भीड़ों भरा एक छत टूट गया।जो कि चदरे की थी। मुख्यमंत्री के कारकेट का अंतिम दो कार आगे बढ़ना शुरू ही किया था कि दुर्घटना घट गई।कारकेट के चालक अगर सावधानी नहीं बरतते तो और बड़़ी घटना घट सकती थी। आनन- फानन में घायल बच्चों को मुख्यमंत्री के लिए बनाए गए अस्थायी हेल्थ कैप में पहुंचाया गया।जहां प्राथमिक उपचार के बाद सभी को एम्बुलेंस से बखरी पी०एच०सी० भेज दिया गया।जहां तीन बच्चे को गंभीर रूप से घायल बताया गया है।हालांकि तीनों खतरे से बाहर बताए गए हैं।आगे आपको बताते चलें कि शहीद पिन्टू सिंह के घर के ठीक सामने अर्जुन शर्मा के घर के चदरा वाले छत पर बच्चों की अधिक भीड़ जमा हो गई थी।जिससे छत टूट गया।छत गिरने से धड़ाम की आवाज हुई तो लोग उधर दौड़ पड़े।पुलिस पदाधिकारी व जवानों ने भी स्थिति को नियंत्रित करते हुए घायलों को बाहर निकालने में मदद की।घायल बच्चों को घटनास्थल के बगल में बनाए गए कैम्प हास्पिटल में पहुंचाया गया।जिला जदयू अध्यक्ष भूमिपाल राय ने प्रशासन को तुरंत एंबुलेंस भेजने के लिए फोन किया।कुछ देर में ही एंबुलेंस पहुंची और घायलों को लेकर रवाना हो गई तो लोगों ने राहत की सांस ली।गंभीर रूप से घायल तीन बच्चों में स्वर्गीय शंकर शर्मा के पुत्र ललन कुमार (8वर्ष), अनु शर्मा के पुत्र सत्यम कुमार (7वर्ष) और  गोरेलाल पासवान की पुत्री नंदनी कुमारी (5वर्ष) बताए गए हैं।तीनों बच्चों का इलाज जारी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...