बिहार : भगत सिंह शहादत दिवस से भाकपा-माले का सात दिनों का अभियान आरंभ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 23 मार्च 2019

बिहार : भगत सिंह शहादत दिवस से भाकपा-माले का सात दिनों का अभियान आरंभ

भगत सिंह के अरमानों का भारत देश बनाने के संकल्प के साथ पटना सहित पूरे राज्य में संकल्प मार्च।फासीवादी उभार के दौर में भगत सिंह के विचार सबसे अधिक प्रसांगिक.काॅ. चंद्रशेखर की शहादत दिवस (31 मार्च) तक चलेगा अभियान
cpi-ml-7day-abhiyan
पटना, 23 मार्च 2019 शहीद-ए-आजम भगत सिंह-राजगुरू व सुखदेव शहादत दिवस पर आज भाकपा-माले व उसके जनसंगठनों ने राजधानी पटना सहित पूरे राज्य में संकल्प मार्च का आयोजन किया. भगत सिंह शहादत दिवस (23 मार्च) से काॅ. चंद्रशेखर शहादत दिवस (31 मार्च), 13 अप्रैल को जालियांबाग हत्याकांड की शतवार्षिकी और 14 अप्रैल को बाबा साहेब भीम राव अंबेदकर जयंती पर पूरे राज्य में भाकपा-माले ने ‘ भाजपा हराओ - देश बचाओ, भगत सिंह-अंबेदकर के सपनों का देश बनाओ’ के नारे के साथ अभियान की आज शुरूआत हो गई. पटना में भाकपा-माले व ऐक्टू के आह्वान पर अशोक नगर रोड नंबर 11 मजदूर अड्डा से कंकड़बाग टेम्पो स्टैंड तक संकल्प मार्च निकाला और कंकड़बाग टेम्पो स्टैंड पर स्कल्प सभा का आयोजन किया। भगत, सुखदेव, राजगुरु अमर रहें, साम्प्रदायिक -फासीवाद से देश को मुक्त करायेगें, शोषणमुक्त भारत बनायेगें, पूंजीवादी लुटेरों से देश को मुक्त करायेगें-भगत सिंह के सपनो का भारत बनायेगें के नारों पर आज सैकड़ो स्थानीय लोगों जिसमें  ज्यादातर मजदूर शामिल थे. संकल्प मार्च का नेतृत्व भाकपा(माले) बिहार राज्य कमिटी सदस्य सह ऐक्टू राज्य सचिव रणविजय कुमार,माले पटना नगर कमिटी सदस्य अशोक कुमार,पन्ना लाल सिंह,अनुराधा देवी,ऐक्टू नेता श्याम प्रसाद साव,इंकलाबी नौजवान सभा नेता डॉ प्रकाश कुमार सिंह आदि कर रहे थे। कंकड़बाग टेम्पो स्टैंड पर हुये सभा को माले सह ऐक्टू नेता रणविजय कुमार ने सम्बोधित करते हुए शहीद भगत सिंह के विचारों को आज के समय मे सर्वाधिक प्रसांगिक बताया ।उन्होंने कहा कि भगत सिंह न सिर्फ शोषणमुक्त समाज का सपना देखने  व शोषणमुक्त भारत बनाने के लिये वे एक साथ साम्राज्यवादी-पूंजीवादी लूट व  साम्प्रदायिक फासीवाद को पूरी तरह समाप्त कर समाज वाले एक महान क्रांतिकारी थे । अंत मे सभी शहीदों को एक मिनट का मौन श्रद्धांजलि देकर सभा को समाप्ति हुई। पटना के अलावा पटना सिटी, पटना जिले के नौबतपुर, मसौढ़ी, पालीगंज, मनेर, फुलवारी आदि केंद्रों पर संकल्प मार्च निकाले गए. मधुबनी के जयनगर में संकल्प सभा का आयोजन किया गया.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...