बिहार : एक भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं बीजेपी और लोजपा से - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 23 मार्च 2019

बिहार : एक भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं बीजेपी और लोजपा से

किशनगंज से मात्र एक उम्मीदवार मुस्लिम वो भी एनडीए की सीट से महमूद अशरफ रहेंगे चुनावी मैदान में

single-muslim-candidate-in-nda
अरुण कुमार (आर्यावर्त)  अल्पसंख्यकों के हक की बात हर बार की जाती है। मगर चुनाव के समय टिकटों के बंटवारे में दल जरूर चूक जाते है। शनिवार को एनडीए की ओर से जारी लिस्ट को देखकर तो यही लगता है। एनडीए ने 40 में से 39 सीट पर जिन प्रत्याशियों का चयन किया है उसमें सिर्फ एक सीट पर ही मुस्लिम उम्मीदवार को जेडीयू ने टिकट दिया है। बीजेपी और लोजपा की ओर से एक भी मुस्लिम को टिकट नहीं दिया गया है।जेडीयू ने किशनगंज से महमूद अशरफ को टिकट दिया है। सीमांचल एरिया में सिर्फ किशनगंज से ही अल्पसंख्यक पर जीत का भरोसा एनडीए ने किया है। जबकि एक सीट खगड़िया जिसके उम्मीदवार की घोषणा नहीं हो सकी है, उसपर महबूब अली कैसर का नाम चल रहा है। फिलहाल वह सीटिंग हैं मगर उनका नाम लिस्ट में नहीं होने के कारण कई तरह की चर्चाएं गर्म हैं। इस सीट को लेकर एक और नाम चल रहा है।महबूब अली कैसर को अगर टिकट नहीं मिली तो एनडीए की ओर से सिर्फ एक ही टिकट मुस्लिम बिरादरी के नाम रह जायेगी। राजनीतिक पंडितों की ओर से इसकी अलग अलग मानें निकाले जा रहे हैं। कोई इसे एनडीए की रणनीति मान रहा है तो किसी का कहना है कि जीतने वाले उम्मीदवार को खोजने की कोशिश की गई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...