झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 08 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 मार्च 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 08 मार्च

चौकी पर हुई शान्ति समिति की बेठक, भगोरीया पर उठी शराब को प्रतिबंध करने कि मांग

jhabua news
पारा-- थाना कोतवाली के अंर्तगत आज गुरुवार को चैकी पारा पर अगामी त्योहार के मद्दे नजर शांति समिति कि बेठक का आयोजन किया गया। बेठक मे रामा ब्लाक के प्रभारी तहसीलदार प्रवीण अहोरीया टीआई कोतवाली झाबुआ नरेन्द्रसिह रघुवंशी पारा नगर सहीत क्षेत्र के समस्त तडवी पटेल सरपंच राजनितिक दलो के सदस्य गणमान्य नागरीक उपस्थित थे। चौकी पारा पर रखी गई शांति समिति कि बेठक मे रामा ब्लाक के प्रभारी तहसीलदार प्रवीण अहोरीया व टीआई नरेन्द्रसिह रघुवंशी ने भगोरीया होली व गल आदी त्योहार को लेकर नगर वक्षेत्र कि सुरक्षा व्यवस्था का के बारे मे उपस्थित जनो के सुझाव लिए कि किस तरह से क्षेत्र कि सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद कि जा सके।  इस पर उपस्थित सभी गणमान्य नागरीको ने अवेध शराब , ताडी व नशीले पेय पदार्थो पर सख्ती से रोक लगाने की मांग की । सभी ने एक मत होकर कहा कि यदि नशीले पेय पदार्थो पर सख्ती कर ली जावेगी तो किसी भी प्रकार की काई घटना नही होगी। क्योकि अधिंकाश घटनाए नशे के कारण ही होती हे। वही भगोरीया पर्व के दिन नगर कि यातायात व्यवस्था समुचित कि जावे। नगर मे कोई भी चार पहीया वाहन प्रवेश न करे। नगर की चर्तुस सीमा पर बेरीकेटस लगाकर चार पहीया वाहनो को बायपास से डायर्वट किया जावे। झुले चकरी को 4 बजे बंद किया जावे। किसी भी प्रकार के हथीयार लेकर चलने पर भी प्रतिबंधींत किया जावे। गल वाले स्थान पर  धुलेंडी के दिन पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था करने कि भी नागरीको पुलिस से मांग कि है। इस तहसीलदार श्री अहोरीया व टीआई श्री रघुवंशी ने समस्त सुझावो को स्वीकार कर व्यवस्था चाक चैबंद रखने का आश्वासन दिया। व चैकि प्रभारी रमेश कोली को निर्देश दिया कि नगर सहीत समुचे क्षेत्र मे हथियार प्रतिबंध की मुनादी कि जावे।  इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता राकेश कटारा, दिलीप डावर,सरेश पचाया, क्षेत्र के गणमान्य नागरीक, पत्रकार, क्षेत्र के पटवारी, कोटवाल,सैनिक सहीत एसआई मिथिलेश वाजपेयी व चैकी पारा का समस्त स्टाफ उपस्थित था।

राश्ट्रीय मीन्स कम मेरिट परिक्षा मे पारा नवापाडा के 6 बच्चे उर्तीण          

jhabua newsपारा । राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा ,राष्ट्रीय मीन्स कम मेरिट परीक्षा2018-19 के गत दिवस घोषित हुए परिक्षा परिणाम के अनुसार उत्..ष्ट माध्यमिक विद्यालय नवापाड़ा पारा से इस वर्ष भी छःछात्र-छात्राओं न बाजी मारी। उक्त जानकारी देते हुए संकुल पारा ग्राम नवापडा स्कुल के प्रभारी विनोद कलम ने बताया कि विगत वर्शो कि तरह ही इस वर्श भी स्कुल के 6 विधार्थीयो अपना उत्..ष्ट प्रदर्शन करते हुएराष्ट्रीय परीक्षा उत्तीर्ण कर शाला व जिले का नाम गौरवान्वित किया ।श्री कलम ने यी भी बताया कि अब तक पिछले 5 वर्ष में शाला से कुल 24 बच्चे इस परिक्षा सफल हुए है। प्रति वर्श हाने वालीइस परीक्षा में नवापाडा स्कुल के 20 से 22 विधार्थी शामील होते हे। उत्तीर्ण होने वाले छात्र व छात्रा को शासन की ओर से बारह हजार रुपए प्रति वर्ष दिए जाते है। इस वर्ष सफल हुए बच्चों के नाम, ममता वास्केल,पूजा वास्केल,मनीषा वास्केल,कविता कलेश, पंकज अजनार एवं विक्रम चैहान है। शाला शिक्षक बापूसिंह चैहान, कमल नरगावे, समन्वयक शम्भूसिंह भूरिया व शाला प्रभारी ने शुभकामनाएं एवम शुभाशीष प्रदान किया हे । राश्ट्रीय स्तर कि परिक्षा मे उर्तीण होने पर विधालय मे व बच्चो के अभीभावको मे बडा हर्श हे। सभी ने बच्चो के उज्जवल भविश्य कि कामना की हे।

नेशनल लोक अदालत 9 मार्च को, 13 खंडपीठों का हुआ गठन

झाबुआ। जिला एवं सत्र न्यायाधीष तथा अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ श्री अषोककुमार तिवारी के मार्गदर्षन में 9 मार्च शनिवार को नेषनल लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। लोक अदालत हेतु झाबुआ न्यायालय में 9 खंडपीठ एवं तहसील थांदला में 1 तथा तहसील पेटलावद में 3 खंडपीठ, इस प्रकार कुल 13 खंडपीठों का गठन किया गया है।  यह जानकारी देते हुए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ के सचिव श्री किसना अतुलकर ने बताया कि गठित खंडपीठों पर न्यायालय के लंबित लगभग 2 हजार 833 प्रकरण निराकृत हेतु रखे जाएंगे एवं प्रिलिटिगेषन के रूप मंे मनी रिकवरी, बीएसएनएल. बिल एवं नगर पालिका के संपत्तिकर-जलकर बिल के लगभग 2 हजार 319 प्रकरण रखे जाएंगंे। प्रिलिटिगेषन प्रकरणों में नियमानुसार छूट प्रदान की जाएगी।

इन प्रकरणों का भी होगा निपटारा
नेषनल लोक अदालत में समझोता योग्य आपराधिक प्रकरण, दिवानी प्रकरण, निगोषिएबल इंस्टूªमेंट एक्ट की धारा 138 के प्रकरण, मनी रिकवरी प्रकरण, एमएसीटी. (मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण) के मामले, श्रम विवाद प्रकरण, विद्युत एवं जलकर बिल संबंधी प्रकरण (राजीनामा योग्य), वैवाहिक प्रकरण, भूमि अधिग्रहण के प्रकरण, राजस्व के प्रकरण (जिला न्यायालय में लंबित) संबंधी आदि प्रकरणों का निराकरण आपसी सुलह समझौते के माध्यम से किया जाएगा एवं प्रीलिटिगेशन प्रकरणों के रूप में समझौता योग्य आपराधिक प्रकरण, दिवानी प्रकरण, निगोषिएबल इंस्टूªमेंट एक्ट की धारा 138 के प्रकरण, मनी रिकवरी प्रकरण, श्रम विवाद प्रकरण, विद्युत एवं जलकर बिल संबंधी प्रकरण (राजीनामा योग्य), भरण-पोषण प्रकरणों का निराकरण आपसी सुलह एवं समझौते के माध्यम से होगा। अतः प्रकरणों के पक्षकारों से अपील है कि 9 मार्च को नेषनल लोक अदालत में अपने प्रकरणों का निराकरण करवाकर लोक अदालत का अधिकाधिक लाभ ले।

8 मार्च अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस पर विषेष
झाबुआ की पांच महिला विभूतियों का हो रहा अलंकरण, समाजसेवा, साहित्य, कला धर्म आध्यात्म में रचा खिताब 
झाबुआ। अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में 10 मार्च को देष की प्रथम षिक्षिका प्रतिभाबाई फूले की पुण्यतिथि पर झाबुआ के पैलेस गार्डन पर आयोजित अखिल भारतीय मातृ शक्ति सम्मान समारोह में झाबुआ की पांच महिलाओं को उत्कृष्ट सेवा अलंकरण से नवाजा जा रहा है। यह महिलाएं समाजसेवा के साथ साहित्य, षिक्षा, कला, धर्म, समाजसेवा और आध्यात्म के क्षेत्र में ख्याति प्राप्त है, उनके उल्लेखनीय कार्यों के चलते उन्हें उत्कृष्ट सेवा अलंकरण से देष की ख्याति प्राप्त हस्तीयांे द्वारा नवाजा जाएगा। इन महिलाओं के जीवन परिचय से संक्षिप्त में हम अवगत करवाते है।

आध्यात्म के क्षेत्र में पिछले 30 वर्षों से दे रहीं सेवाएं
प्रजापिता ब्रम्हकुमारी ईष्वरीय विष्वविद्यालय ग्राम गोपालपुरा झाबुआ की बीके जयंती दीदी पिछले 30 वर्षों से आध्यात्म के क्षेत्र में जुड़कर सेवाएं दे रहीं है। पिछले 5-6 वर्षों से वह गोपालपुरा संस्था में सेवाएं देकर परमपिता परमात्मा षिव बाबा के संदेषों का जन-जन में प्रचारित-प्रसारित करने के साथ आघ्यात्म को बढ़ावा देने का कार्य नियमित करती आ रहीं है। कई लोगों को संस्था से जोड़ा है। ब्रम्हकुमारी की गोपालपुरा संस्था पर वर्तमान में झाबुआ शहर एवं आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के अनेकों महिला-पुरूष, युवा एवं बच्चें आध्यात्म की ओर बढ़ते हुए नियमित राजयोग (मेडिटेषन) कर रहे है। जिससे उनके मानसिक विकार दूर होकर मन को शांति मिलने के साथ आत्मा को परमात्मा से जोड़ने का कार्य हो रहा है। बीके जयंती दीदी के अनुसार राजयोग करने से मनुष्यों में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। साथ ही कई स्वास्थ्य षिविर एवं योगिक खेती के प्रकल्पों को भी जयंती दीदी बखूबी संचालित कर रहीं है।

गायत्री शक्तिपीठ से जुड़कर नारियों को विष्व शक्ति के रूप में जागृत करने का कार्य
झाबुआ के काॅलेज मार्ग स्थित गायत्री शक्तिपीठ की स्थापना से लेकर अब तक श्रीमती नलिनी बैरागी जिलेभर के अनेकों गायत्री परिजनों, जिसमें महिला-पुरूषों को शक्तिपीठ से जोड़कर एक अच्छी टीम बनाकर धर्म-आराधना से जोड रहंीं है। यह गायत्री परिजन घर-घर जाकर यज्ञ, हवन, भजन-किर्तन करने के साथ धर्म के प्रति जागरण के अतिरिक्त श्रीमती बैरागी नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका होने से नारियों को धर्म की ओर अग्रसर करने के अतिरिक्त नारी शक्ति को विष्व की सबसे बड़ी एवं जबूत शक्ति के रूप में जागृत करने की अनूठी पहल कर रहीं है। वर्तमान में आप झाबुआ के आदिवासी क्षेत्रों में जाकर धर्म प्रचार के साथ विभिन्न संस्कार भी संपन्न करवाएं जाते है।

उच्च षिक्षा गृहण करने के साथ गोल्ड मेडल अर्जित किएं
झाबुआ निवासी एवं हाॅल मुकाम गुजरात के कच्छ के मांडवी में रहने वाली डाॅ. किर्तीदा व्यास ने काफी उच्च कोर्स कर उच्च डिग्रिया हासिल की है। जिसमें बीए, एमएसयू में गोल्ड मेडल, एमए, एमएसयू में गोल्ड मेडल, बीएड एमएसयू बड़ौदा से किया। पीएचडी की डिग्री हासिल की। आपने आरक्षण और नारी, भारतीय आधुनिक परिप्रेक्ष्य में, महाभारत में द्रोपदी का पात्र, स्त्री भ्रूण हत्या एक सामाजिक अपराध में गहन रिसर्च कर कई किरदार निभाएं है। 5 से अधिक प्रसिद्ध रेडियो शो में अपना प्रस्तुतीकरण दिया है। आपने नारी विषय पर कवियत्री सम्मेलन में कविता प्रस्तुत की। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं का भी अनूठा संदेष दिया। आज आज की महिलाओं के लिए प्रेरणा का स्त्रोत है।

देशभक्ति के मुख्य आयोजनों का किया जाता है सफलतापूर्वक संचालन
शहीद चन्द्रषेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय झाबुआ की वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. गीता दुबे ने जिस तरह से वर्षों तक अपनी शासकीय ड्यूटी को बखूबी निभाया है। उसी तरह आप वरिष्ठ कवियत्री होकर पूरे देष में एक सषक्त एवं मजबूत महिला के रूप में स्थापित है। अपने समुधर व्यवहार और अनुभव के साथ तर्जुबा आपका काफी उत्कृष्ट है। प्रत्येक वर्ष 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस एवं 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर होने वाले मुख्य समारोह का सफल संचालन डाॅ गीता दुबे द्वारा किया जाता है। इसके अतिरिक्त आप राष्ट्रीय सेवा योजना की झाबुआ जिला प्रभारी है तथा राष्ट्रीय सेवा योजना में उत्कृष्ट कार्यों के लिए कई बार आप सम्मानित हो चुकी है। आपका अध्ययन उच्च होकर व्यवहार में उतनी ही मधुरता है।

आदिवासी लोक कला एवं गायिका के रूप में पूरे देष में प्रसिद्ध
झाबुआ के रामकृष्ण नगर निवासी श्रीमती अन्नू भाबोर पिछले ढ़ाई दषक से भी अधिक समय से आदिवासी समाज के लिए प्रेरणा स्त्रोत बनी हुई है। अपना बचपन गरीबी एवं अषिक्षा के बीच में बीताकर अन्नू भाबोर ने विवाह उपरांत पढ़ाई कर शासकीय सेवा में रत हुई। साथ ही आपने इसरो एवं दूरदर्षन के टीवी-चेनलों में बरसो तक एक अच्छे कलाकार के रूप में अपनी भूमिका का निर्वहन किया। शासन-प्रषासन द्वारा आयोजित सम्मेलनों और कार्यक्रमों में जिले के आदिवासी समाजजनों के बीच आदिवासी लोकगीत गाना एवं एक प्रतिभावान कलाकार के रूप में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। कई फिल्मों में मुख्य पात्र निभाएं है। उन्हें उनकी इसी ख्याति के चलते कई बाद प्रदेष स्तर के साथ राष्ट्रीय स्तर पर भी सम्मानित किया जा चुका है। वह झाबुआ जिले में झमकूबाई के नाम से भी प्रसिद्ध है।

’बोहरा समाज के 53वें धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन साहब ने मप्र व देश उन्नति के लिए की दुआएं’

jhabua news
झाबुआ। पिछले दिनों 23 फरवरी को झाबुआ जिले के मेघनगर रेलवे स्टेशन पर बोहरा समाज के 53वें धर्मगुरु सैयदना आलीकदर मुफद्दल सैफुद्दीन साहब ने मप्र में मुंबई से आगमन किया था। मेघनगर रेलवे स्टेशन पर उतरने के बाद सीधे वे थांदला पहुंचे थे। मेघनगर रेलवे स्टेशन पर हजारों समाजजनों समेत क्षेत्रीय सांसद कांतिलाल भूरिया, थांदला विधायक वीरसिंह भूरिया, समाजसेवी सुरेशचंद्र (पप्पूभैया) जैन, पंकज वागरेचा समेत अनेकों समाज के लोगों ने सैयदना साहब का इस्तकबाल किया था। साथ ही सैयदना साहब ने तीन दिनों थांदला एवं उसके बाद झाबुआ में धार्मिक कार्यक्रमों में शिरकत की थी। इन सभी कार्यक्रमों प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा उन्हें राजकीय अतिथि का सम्मान दिया गया था। साथ ही थांदला में मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि मंडल के तौर पर प्रभारी मंत्री हनीसिंह बघेल, सांसद कांतिलाल भूरिया, सांसद प्रतिनिधि युवक कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ. विक्रांत भूरिया, विधायक वीरसिंह भूरिया , पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष व समाजसेवी सुरेशचंद जैन (पप्पूभैया) समेत अनेक कांग्रेस कार्यकर्ता सैयदना साहब से मिलकर मुख्यमंत्री का बधाई पत्र सैयदना साहब को सौंपा और उनसे आशीर्वाद भी लिया।

सैयदना साहब ने धार्मिक कार्यक्रमों में लिया हिस्सा-
पिछले दिनों अपने तीन दिन के प्रवास पर थांदला पहुंचे सैयदना साहब के दर्शन के लिए थांदला शहरवासी पहुंचे और उनसे दुआएं की। वहीं सैयदना साहब ने धर्मावलंबियों को संबोधित करते हुए कहा कि बोहरा समाज के लोग इमानदारी से व्यापार करे तथा अपने मुल्क के प्रति वफादार रहे। साथ ही उन्होंने अपने आसपास गली, मोहल्ले में साफ-सफाई की सीख बोहरा समाज को दी। वहीं इसके पश्चात वे झाबुआ पहुंचे जहां धार्मिक आयोजनों में शिरकत कर बोहरा समाज के जायरीनों को अपना दीदार करवाया। तो वे राणापुर भी पहुंचे और समाज तथा सभी धर्मों के लोगों के लिए दुआएं की। उनकी जियारत करने के लिए देश, प्रदेश भर के बोहरा समाज के लोगों हजारों की संख्या में पहुंचे।

’सैयदना साहब ने भी मुख्यमंत्री को लिखा पत्र’
सैयदना साहब ने मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा दिए गए राजकीय अतिथि के दर्जे के पश्चात उन्होंने 5 मार्च को एक पत्र लिखा। यह पत्र मुख्यमंत्री के नाम संबोधित था जिसमें लिखा गया  कि मप्र की कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जो उनको राजकीय अतिथि का दर्जा दिया है उससे वे प्रसन्न है तथा उन्होंने लिखा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में प्रदेश यूं ही उन्नति करता रहे है तथा प्रदेश के साथ ही देश में हमेशा शांति, अमन, सुकून बना रहे। उन्होंने इस पत्र में लिखा कि मध्यप्रदेश स्वच्छता में देश में आगे बढ़ रहा है जो काबिले तारीफ है। साथ ही उन्होंने प्रदेशवासियों बेहतर स्वास्थ्य, दीघार्यु, उन्नति की दुआएं की। इस पत्र को मुख्यमंत्री को देने के लिए सांसद कांतिलाल भूरिया के साथ एक प्रतिनिधि मंडल भोपाल गया। जिसमें थांदला आमील साहब जनाब मुस्तनसीर भाईसाहब, थांदला वालीमुल्ला शेख हैदर भाई कल्याणपुरावाला, शेख अली हुसैन नाकेदार ने भोपाल पहुंचकर प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को सैयदना साहब का संदेश पत्र सौंपा। साथ ही शॉल ओढ़ाकर सम्मान भी किया व प्रदेश सरकार का आभार माना। उक्त जानकारी बोहरा समाज मेघनगर अध्यक्ष वालीमुल्ला अली असगर इज्जी ने दी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...