झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 12 मार्च 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 मार्च

ग्राम रोटला मे श्री मद,भागवत भागवत ज्ञान कथा का छटवां दिन धर्म हमे आपस मे प्रेम सिखाता हे-- स्वामी प्रणवानंद

jhabua news
पारा -- विगत पांच दिनो झाबुआ जिले के अंचल मे ग्राम रोटला मे चल रही संगीतमयी श्रीमद भागवत ज्ञान कथा मे 1008 महामंडलेश्वर स्वामी  प्रणवांनदजी ने आज कथा के छटवें दिन उपस्थित श्रद्धालुओ को कहा कि में आपके बिच में आता हूं तो में धर्म देने नही आता हूं, में तो हनुमान महाराज जोकि अपनी शक्ति भूल गये थे तो भगवान जामवंत ने याद दिलाया था उसी तरह में भी आपको अपना धर्म ओर धर्म की शक्ति का याद दिला रहा हू। में तो गांव मे आता हु तो गांव वालों में भगवान कृष्ण जी का प्रेम याद आ जाता । हमारा धर्म में आपस प्रेम सिखाता है, महाशिव रात्री मे भीलो की कथा है । माता नु वन बाबा देव या शिव और माता ही है। सबर स्वामी भील थे उन्होंने वेद लिखा है ।  आपको बड़ा बनना है तो गांव का मोह छोड़ना पडेगा। कुछ बड़ा बनना है तो शहर ,नगर महानगर मे जाना पडेगा । वहां आपका घर हो व्यपार हो । गांव धरती माँ से प्रेम करो पर मोह नही, एक भेड़ बकरी चराने वाला चन्द्रगुप्त मौर्य महान सम्राट बनता है,उनमें जूनून लगन हिम्मत थी घर की मोह माया नही थी । भगवान कृष्ण ने बोला था कि गिरिराज की रक्षा करो वह काम आज हो रहा है जल, जंगल, पर्वत, पेड पौधे की आज भी वनवासी आदिवासी ही रक्षा कर रहा है । झाबुआ देव धरती हे बहुत जल्दी विकास हो रहा है,।   आज कि कथा मे पुर्व विधायक सुश्री निर्मला भुरिया ने उपनी उपस्थिति दर्ज करवा कर श्रीमद भागवत कथा की आरती कि व उपस्थित जन समुदाय व स्वामी जी को बताया कि आदिवासी जन्म जात राम शिवजी के भक्त हे आपस में मिलते है तो भी राम राम बोलते है और, और ते शराब भी पीते तो भी राम राम बोलते है। ओर खाने पीने से पहले धरती माता का भोग लगा के ही अन्न ग्रहण करते हे । हमारा अगले जन्म का क्रम अच्छा रहा होगा जो की हमे राम भगवान स्वरूप स्वामी जी आदिवासी के कल्याण के लिए हमारे बीच में आये है, । सेमलीया के परम् पूज्य संत कानुराम जी महाराज ने बताया कि पहले भक्ति बाजारों शहर में बड़े लोगो के यहा थी । आज वनवासी समाज के घर आई हुवी हे । हमे किसी प्रकार से गुमराह नही होना हे ओर निडर होकर भक्ति कर करना है । आदिवासी समाज का देश धर्म की रक्षा में बहुत बड़ा योगदान रहा है,स्वामी जी ने बताया कि  आदि अन्नादि काल से राम राम बोले आये , स्वर्गीय सांसद दिलीपसिंह जी भूरिया ने आदिवासी भईयो के लिए उथान का बहुत काम किया है।  कथा के समापन पर आरती व महा प्रसादी का वितरण किया गया। इस अवसर पर धर्म रक्षक के प्रमुख वालसिह मसानिया व उनके सहयोगी सदस्य सहीत बडी संख्या मे श्रद्धालु महिला पुरुष उपस्थित थे। प्रति दिन की तरह कथा समाप्ती के पश्चात भण्डारे का आयोजन भी किया गया था जिसमे उपस्थित श्रद्धालुओ भोजन प्रसादी गृहण की।

शहर के राजगढ़ नाके के समीप बालाजी धाम एवं मातंगी धाम पर हुई चोरी
दान पेटियों में से नगदी और अलमारी में से आर्टिफिषियल ज्वेलरी पर किया हाथ साफ, पुलिस थाने पर अज्ञात बदमाषों के खिलाफ मामला हुआ दर्ज
jhabua news
झाबुआ। शहर के राजगढ़ नाके के समीप बालाजी धाम पर बीती मध्य रात्रि अज्ञात बदमाषों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया। बदमाष बालाजी धाम में रखी दान पेटी एवं मातंगी धाम में रखी दान पेटी में से नगदी चुराने के साथ अलमारी में रखी भगवान की सजावट की आर्टिफिषियल ज्वेलरीयों एवं अन्य सामग्रीयों पर भी हाथ साफ कर रफू-‘चक्कर हो गए। घटना की रिपोर्ट बालाजी धाम समिति के अध्यक्ष एवं प्रमुख ट्रस्टी राकेष त्रिवेदी द्वारा पुलिस थाना झाबुआ पर दर्ज करवाई गई है। मंदिर समिति के अध्यक्ष राकेष त्रिवेदी ने बताया कि जब मंदिर के पूजारी आदित्य जोषी प्रतिदिन की तरह ही 11 मार्च, सोमवार को सुबह मंदिर पहुंचे और देखा तो बालाजी धाम एवं मातंगी धाम के मुख्य द्वार खुले हुए थे। अंदर जाकर देखने पर बालाजी धाम में रखी दानपेटी का ताला टूटा हुआ था और दान पेटी में रखी सारी नगदी गायब थी। बाद मातंगी धाम का भी मुख्य पट खुला होकर दान पेटी गायब मिली। अलमारी भी खुली होकर उसमें आर्टिफिषियल ज्वेलरी एवं अन्य सामग्री गायब थी।

जंगल में मिली खाली दान पेटी
तत्पष्चात् इसकी सूचना पूजारी श्री जोषी ने मंदिर समिति अध्यक्ष श्री त्रिवेदी को दी। श्री त्रिवेदी द्वारा तत्काल पहुंचकर पुलिस को सूचित किया गया। घटनास्थल पर पुलिस थाना झाबुआ की टीम पहुंची और जांच की। जांच के दौरान मंदिर से थोड़ी दूर जंगल में मातंगी धाम में रखी हुई दान पेटी पूरी खाली पड़ी मिली। बाद घटना में पुलिस थाने पर अज्ञात बदमाषों के खिलाफ चोरी का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया।

करीब 50 हजार रू. की हुई चोरी
समिति अध्यक्ष श्री त्रिवेदी के अनुसार बालाजी धाम की दान पेटी में करीब 3 हजार एवं अन्य दान पेटी में करीब 13 हजार, अलमारी में रखी आॅटिफिषियल ज्वेलरी एवं अन्य सामग्री करीब 10 हजार रू. के साथ सीसी टीव्ही रेकार्डिंग मषीन भी चुरा ली गई, जिसकी कीमत करीब 22 हजार रू., इस प्रकार लगभग 50 हजार रू. की चोरी हुई है।

असामाजिक तत्वों का लगा रहता है ढे़रा
श्री त्रिवेदी ने बताया कि मंदिर के समीप अक्सर दिन के साथ रात में भी असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है। असामाजिक तत्व मंदिर परिसर के बाहर तालाब एवं पेड़-पौधों के नीचे बैठकर जुआं-सट्टा खेलने के साथ शराब आदि का भी सेवन करते है। संभवतः उनमें से ही किसी द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया होगा। पुलिस को इस मामले में छानबीन कर अतिषीघ्र चोरो का पता लगाए जाने की आवष्यकता है।

कनेक्ट टू दी वल्र्ड की थीम पर रोटेरियन को सेवा देना है- रो. धीरेन्द्र दत्ता
रो. संजय कांठी को आयडियल विलेज और उमंग सक्सैना को स्किल डेव्हलपमेंट के डिस्ट्रीक्ट सेकेटरी का प्रभार
jhabua news
झाबुआ । रोटरी इंटरनेशनल मंडल 3040 के वर्ष 2019-20 के मंडलाध्यक्ष रो. धीरेन्द्रदत्ता के नेतृत्व में मंडल टीम के सहायक मंडलाध्यक्ष और मंडल सेके्रेटरी का दो दिन का ट्रेनिंग सेमिनार सिहोर के एक प्रायवेट रिसोर्ट में रोटरी क्लब शाहपुरा भोपाल की मेजबानी में संपन्न हुआ । वर्ष 2019-20 के मंडलाध्यक्ष धीरेन्द्र दत्ता ने वर्ष की  थीम ’’रोटरी कनेक्ट टू दी वल्र्ड’’ से अवगत कराते हुए बताया कि सम्पूर्ण विश्व में लगभग 200 से अधिक देशों में रोटेरियन साथी अपनी सेवायें दे रहे है और सभी का उद्देश्य यही है कि संपूर्ण विश्व को परस्पर सहयोग से एक दूसरे को जोडते हुए सेवा के कार्य में निरन्तर सक्रिय रहना है । डिस्ट्रीक्ट गवर्नर (2020-21) रो. गजेन्द्र नारंग  नें  अपने विषय ’’कनेक्टिविटी इन बिजनेस’’ से अवगत कराते हुए सभी रोटेरियन साथियों को  रोटरी सेवा के साथ में अपने अपने व्यवसाय मे कैसे सहयोग करना है, इसकी जानकारी ट्रेनिंग सेमीनार मे विस्तार से दी । डिस्ट्रीक्ट सेक्रेटरी मेन रो. अनीस मलिक ने विभिन्न झोन के सहायक मंडलाध्यक्ष और एवं विभिन्न इवेंट्स के डिस्ट्रीक्ट सेकेटरीज को दी गई जवाबदारी के बारे में समझाते हुए उन्हे कैसे कार्य करना है, इसकी ट्रेनिंग दी गई । रोटरी क्लब आजाद झाबुआ के रो. संजय कांठी को मंडल में ’’डिस्ट्रीक्ट सेके्रटरी आईडियल विलेज’’ ओर रोटरी क्लब झाबुआ के रो. उमंग सक्सैना को स्किल डेव्हलपमेंट  की महत्वपूर्ण जिम्मेवारी दी गई । रोटरी क्लब अपना मेघनगर के रो. भरत मिस्त्री एवं रोटरी क्लब डायंमंड दाहोद के रो. शांतिलाल पटेल को सहायक मंडलाध्यक्ष की जवाबदारी दी गई । पूर्व मंडलाध्यक्ष एवं डिस्ट्रीक्ट ट्रेनर रो. संजीव गुप्ता  एवं रो. लोकेन्द्र पापालाल ने रोटरी को पेपर लैेस केैसे किया जाय, और सभी रोटेरियन साथियों को आन लाईन अपडेट कैसे रहना है इसकी जानकारी ट्रेनिंग सेमिनार मे दी गई । सेमीनार को वर्तमान मंडलाध्यक्ष रो. गुस्ताद अंकलेसरिया,पूर्व मंडलाध्यक्ष रो. नीतिन डफरिया, डा. रो. जामील हुसैन, आगामी मंडलाध्यक्ष रो. कर्नल मिश्रा, रो. नरेन्द्र राउ, जीमेल- एडिटर रो. श्वेता जोशी, रो. जयश्री मोहंती, एवं रो. साधनासिंह ने भी अपने  अपने विषय की ट्रेनिंग सेमिनार मे दी । सेमिनार के इवेंट्स चेयरमेन रो. जिनेन्द्र जैन, एवं रोटराी क्लब शाहपुरा भोपाल के क्लब अध्यक्ष ने सभी रोटेरियन साथियों को सेमिनार मे दिये सहयोग के लिये धन्यवाद देते हुए उनका आभार माना ।

151 वें पाटोत्सव के पोस्टरों का किया गया विमोचन
11 दिवसीय भव्य पाटोत्सव के दौरान भागवत  कथा के साथ ही कई धार्मिक आयोजन होगासभी धर्म प्रेमियों को गोवर्धननाथजी के दरबार में आयोजित इस अलौकिक आयोजन में सहभागी होना है- गोपालकृष्ण हरसौला
jhabua news
झाबुआ । श्री गोवर्धननाथ जी की हवेली ( मंदिर) के 151 वें पाटोत्सव को दिव्य आलौकिक एवं भव्यातिभव्य रूप  से मनाये जाने को लेकर पूज्यपाद गोस्वामी 108 श्री दिव्येशकुमार जी महाराज नाथद्वारा इन्दौर के मार्गदर्शन में 6 जून से 16 जून तक मनाये जाने को लेकर  मुख्य अतिथि गोपालकृष्ण हरसौला रानापुर वाले के मुख्य आतिथ्य में रविवार रात्री को हवेली में सकल वैष्णव समाज  की बैठक का आयोजन किया गया । बैठक में बडी संख्या में श्रद्धालुजन एवं महिलायें उपस्थित रहे । श्री गोवर्धननाथ मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष हरिशभाई शाह ने जानकारी देते हुए बताया कि भव्य 151 वां पाटोत्सव महामहोत्सव के रूप  में मनाये जाने के लिये पोस्टर्स का विमोचन उपस्थित श्रद्धालुओं एवं माताओं द्वारा किया गया । आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए गोपालकृष्ण हरसौला ने कहा कि प्रेम पुष्टिमार्ग के पूज्य दिव्येशकुमारजी महाराज की प्रेरणानुसार ठाकुरजी के हवेली मे बिराजित होने के 151 वें वर्ष में यहां तीसरी पीढी प्रभू के दर्शन लाभ उठाने का सौभाग्य प्राप्त कर चुकी है और इस पुनित अवसर पर अधिक से अधिक स्वंेच्छा निधि देकर इस कार्यक्रम की भव्यता को ऐतिहासिक बनाना हम सभी का दायित्व है ।  उन्होने जानकारी दी कि 6 जून को भगवान की भव्य शोभायात्रा निकाली जावेगी तथा इसी दिन से दोपहर 1 बजे से सायंकाल 4 बजे तक भागवत कथा का आयोजन होगा । अन्तिम तीन दिनों तक विभिन्न मनोरथों के दर्शन किये जावेगें । इस अवधि में श्री मदभागवत कथा के अलावा पूज्य दिव्येशजी महाराज के अमृतवचनामृत, के अलावा स्वास्थ्य शिविर, संप्रदाय सेवा श्रृंगार शिविर, गौसेवा, एवं धार्मिक सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साक्थ कई घार्मिक एवं आध्यात्मिक आयोजन किये जावेगें । झाबुआ के इतिहास मे पहली बार श्री गोवर्धननाथजी की हवेली से वाडी में स्वयं परमात्मा पधार कर 56 भोग अंगीकार का अनुपम आयोजन भी किया जावेगा । उन्होने जानकारी दी कि पूज्य दिव्येशकुमार जी 31 मार्च को झाबुआ पधारेगें और उनके सानिध्य में सभी श्रद्धालुजन एकत्रित होकर विचार विमर्श कर पाटोत्सव को भव्य बनाने के लिये अपनी भूमिका तय करेगें । श्रीहरसौला ने यह भी बताया कि ठाकुरजी के सभी मनोरथों को पूरा एवं संपन्न किया जावेगा । इस अवसर पर कीर्ति भावसार ने भी अर्थ संग्रहण के बारे मे सुझाव दिये वही बहादूर भाटी ने भी अपने  विचार व्यक्त किये । पार्षद अजय सोनी ने इस कार्यक्रम को नगर की आन बान शान के अनुरूप भव्य स्वरूप  दिये जाने के लिये सभी समाजजनों से पूरा सहयोग दिये जाने का संकल्प दुहराया । ट्रस्टी हरिश शाह ने माताओं एवं बहिनो ंसे भी 11 दिवसीय इस आयोजन में धार्मिक सांस्कृतिक कार्यक्रम तेैयार करने का आग्रह किया । उन्होने बताया कि 151 वें पाटोत्सव को लेकर आगामी तीसरी बैठक 24 मार्च को सायंकाल 6 बजे से हवेली मंदिर में होगी जिसमें अधिक से अधिक लोगों को सहभागी होकर अपने अमूल्य सुझाव से कृतार्थ करना है। पाटोत्सव को लेकर आयोजित इस बैठक में श्रीमती विजिया भट्ट, वेणुकांता आचार्य, संगीता शाह, प्रेमा ठाकुर, किरण नीमा, वीणा कटलाना, रूकमणी वर्मा, शीला त्रिवेदी, शकुनबेन कटलाना, मीना पंवार, शारदा त्रिवेदी, गोपालकृष्ण हरसौला, योगेश पडियार, महेशभाई हरसौला, नटवर हरसौला, लक्ष्मीकांत हरसौला, संजय हरसौला, हरिशभाई शाई, लक्ष्मीनारायण शाह, जितेन्द्र शाह, बालमुकुंद चैहान, बालकृष्ण भावसार, प्रदीप शाह, शेष नारायण मालवीय, मोहनभाई मूरलीवाले माहेश्वरी, राजेन्द्र सोनी, कीर्ति भावसार, निरंजनसिंह, रमेशचन्द्र दुबे, बृजबिहारी त्रिवेदी,राजेन्द्र अग्निहौत्री, नरेन्द्रकुमार भाटी, बहादूर भाटी, दीपक दरबार, कैलाश सातेागिया, लक्ष्मीकांत सोनी, अजय सोनी, शाश्वत सोनी, रमेश त्रिवेदी, आरएस नामदेव, अखिलेश बाल्यान, राधेश्याम पटेल, सौभाग्यसिंह चैहान, दिलीप आचार्य, गोकूलेश आचार्य, कान्हा अरोडा सहित बडी संख्या में श्रद्धालुजन उपस्थित थे । कार्यक्रम का संचालन हरिश शाह ने किया तथा आभार मोहन माहेश्वरी ने माना ।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...