राफेल आने में देरी मोदी के कारण : राहुल गांधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 मार्च 2019

राफेल आने में देरी मोदी के कारण : राहुल गांधी

modi-responsible-for-rafale-delay-rahul-gandhi
धर्मशाला, 07 मार्च,  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज आरोप लगाया कि राफेल लड़ाकू विमान देश में आने में देरी का कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं।  यहां कांगड़ा जिले के शाहपुर में चंबी मैदान पर एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पिछली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के समय जो करार किया जा रहा था, उसके मुताबिक राफेल विमान जल्दी मिलने थे पर नरेंद्र मोदी सरकार ने देरी की और अब प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि विमान मिलने में देरी से देश को नुकसान हो रहा है।  प्रधानमंत्री पर पुलवामा हमले के राजनीतिकरण का आरोप लगाते हुए श्री गांधी ने कहा कि हमले के तुरंत बाद कांग्रेस ने कहा कि वह सरकार के साथ है और स्पष्ट कहा था कि पार्टी हमले का राजनीतिकरण नहीं करेगी पर अफसोस कि जब विपक्ष सरकार के साथ खड़ा था, प्रधानमंत्री हमले का राजनीतिकरण कर रहे थे।  हमले में मारे गये हिमाचल प्रदेश के सीआरपीएफ जवान तिलक राज को श्रद्धांजलि देते हुए श्री गांधी ने कहा कि कांग्रेस सत्ता में आने के बाद अर्धसैनिक बलों के जवानों को शहीद का दर्जा देगी।  कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी की सरकारों ने पंजाब, राजस्थान, छत्तीसगढ़ व मध्य प्रदेश में किसानों के कर्ज माफ किये हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने 15-20 उद्योगपतियों के साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये के कर्ज माफ किये हैं पर किसानों की कर्जमाफी नहीं की। उन्होंने आरोप लगाया कि श्री मोदी अपने पूंजीपति दोस्तों की मदद करते हैं जिनमें से अडानी को हाल में छह हवाई अड्डे व झारखंड में 14000 करोड़ का ठेका मिला।  श्री गांधी ने प्रधानमंत्री पर हिमाचल प्रदेश वासियों से किये वायदे पूरे न करने का भी आरोप लगाया। श्री गांधी ने कहा कि हथकरघा, हस्तकला और पर्यटन जो प्रदेश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं, पर नोटबंदी से असर पड़ा।  उन्होंने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को सरल करने व न्यूनतम आय गारंटी योजना लागू करने के वायदे भी दोहराये। इससे पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा, हिमाचल प्रदेश में पार्टी मामलों की प्रभारी रजनी पाटिल, हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौड़ व विधानसभा में विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने भी संबोधित किया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...