पटना : वार्ड नम्बर-22 ए के वार्ड पार्षद दिनेश कुमार हैं। उनको ध्यान किधर है! - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 17 मार्च 2019

पटना : वार्ड नम्बर-22 ए के वार्ड पार्षद दिनेश कुमार हैं। उनको ध्यान किधर है!

patna-ward-no-22a
पटना,17 मार्च। पटना नगर निगम ने क्षेत्र विभक्त कर नूतन राजधानी अंचल निर्माण किया है। नूतन राजधानी अंचल के विभिन्न जगहों पर सार्वजनिक शौचालय निर्माण करवाया जा रहा है। उसका रखरखाव लोगों को ही करना है। निर्माणकाल से ही शौचालय के टिकाव पर सवालिया निशान लगने लगा है? उस समय और दृढ़ता से सवाल उठाया जाने लगा है कि घटिया सामग्री से निर्माण हो रहा है। जो खुद भी महसूस कर सकते हैं। यह हालात नूतन राजधानी अंचल के वार्ड नम्बर 22 की है।. राजधानी के विख्यात संत माइकल हाई स्कूल के सामने व अपार्टमेंट के करीब शौचालय निर्माण किया जा रहा है। कार्यरत लोगों ने कहा कि अंचल के द्वारा समय पर भुगतान नहीं किया जाता है। 6 माह के बाद भी .ठेकेदार को राशि नहीं मिल रही है। बेचारा ठेकेदार करे तो क्या करें! ठेकेदार द्यटिया स्तर से काम करना शुरू कर दिया है। जब राजमिस्त्री पूछा गया तो उनका कहना था कि हमलोग चार-एक का मशाला बनाकर कार्य कर रहे हैं। इसमें 4 कढ़ाई बालू और 1 कढ़ाई सिमेंट देकर मशाला तैयार किया जा रहा है। उसी मशाला से अभी टाइल्स लगाया जा रहा है। बताते चले कि वार्ड नम्बर-22 ए के वार्ड पार्षद दिनेश कुमार हैं। उनको ध्यान किधर है? यहां तो घटिया स्तर का कार्य का अंजाम दिया जा रहा है। इस ओर अपना दायित्व निर्वाह करना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...