विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 5 मार्च 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 मार्च

प्रदेश में कृषि क्षेत्र को कमजोर नही होने दूंगा-मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ
  •  आगामी तीन दिन मंे 25 लाख किसानों का ऋण माफ होगा, मुख्यमंत्री ने 36 गौ-शालाओं की आधार शिला रखी

vidisha news
मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने विदिशा में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के पात्रताधारी किसानों को ऋण माफी के प्रमाण पत्र व सम्मान पत्र प्रदाय किए।  मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में कृषि क्षेत्र को कमजोर नही होने दूंगा। कृषि क्षेत्र में नई क्रांति लाने के लिए योजनाएं बनाई जा रही है। मध्यप्रदेश का 70 प्रतिशत लोगो का जीवन कृषि पर आधारित है जो मध्यप्रदेश की अर्थव्यवस्था के उन्नयन का प्रमुख आधार हैै। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने कहा कि आगामी तीन दिनों में प्रदेश के 25 लाख किसानो का ऋण माफ किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वचनपत्र मेें जो कहा है उसका अक्षरशः पालन कर संबंधित वर्ग को अविलम्ब लाभ दिलाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की नीति और नियत का परिचय इन 70 दिवसोें में आमजनों को खासकर किसान भाईयों, वृद्वजनों की पेंशनवृद्वि, युवाजनों के उत्थान संबंधी कार्यो को कार्यरूपों में पर्णित कर संदेश दिया गया है। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने कहा कि डिफाल्टर ही नही चालू खाताधारक कृषकों का भी ऋण माफ किया जा रहा है। प्रदेश का किसान जन्म से लेकर मृत्यु तक कर्ज में डूबा रहता है ऐसे समय राज्य सरकार द्वारा जो दो लाख तक की ऋण माफी की जा रही है उससे कृषि क्षेत्र में बढावा मिलेगा। उत्पादन बढ़ने से किसान ही नही वरन् क्षेत्र की आय में वृद्वि होती है। जब तक किसान सम्पन्न नही होगा तब तक मध्यप्रदेश की अर्थव्यवस्था ठोस नही हो सकती है। राज्य सरकार हर चुनौती का सामना कर किसानो को परेशान नही होने देगी।  मुख्यमंत्री श्री कमनाथ ने कहा कि गेहूं उत्पादन के क्षेत्र में भी शीघ्र ही किसानो को नई सौगाते मिलने वाली है।  मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में नए विश्वास का वातावरण निर्मित हो रहा है ताकि औद्योगिक क्षेत्र मेें युवाजनों को रोजगार की सीधी प्राथमिकता सुनिश्चित की जा सकें। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश का खजाना खाली मिला है। ऐसी विषम परिस्थितियों में भी वचन पत्र के वादो को पूरा किया जाएगा। इसमें कोई कोर कसर नही छोड़ी जाएगी। उन्होंने कहा कि जनता के विश्वास को टूटने नही दूंगा।  मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने कार्यक्रम स्थल पर विदिशा जिले की 36 गौशालाओं की आधार शिला रखी वही बासौदा से सिरोंज डामरीकृत सड़क मार्ग का लोकार्पण किया।  मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना के प्रमाण पत्र व सम्मान पत्र 12 कृषकों को प्रतीक स्वरूप प्रदाय किए। वही मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाय योजना के पांच हितग्राहियों को 48-48 हजार चैक प्रदाय किए।  एसएटीआई के प्रागंण में सम्पन्न हुए फसल ऋण माफी योजना कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिले के प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव ने कहा कि विदिशा जिला पिछडे़ जिलो की सूची में शामिल है इससे अंदाजा लगाया जाता है कि पिछले कई सालो से क्या-क्या विकास कार्य किए गए है और किसानों के हितो में क्या-क्या निर्णय किया गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी नें विकास की नई तस्वीर जो छिंदवाडा में प्रदर्शित की है वह पूरे प्रदेश में लागू की जा रही है। विदिशा जिला देश के विकसित जिलों में शामिल होगा को मूर्तरूप देने हेतु हर संभव प्रयास किए जाएंगे। कार्यक्रम को स्थानीय विधायक श्री शशांक भार्गव, बासौदा के पूर्व विधायक श्री निशंक जैन ने भी सम्बोधित किया।  ज्ञातव्य हो कि आज कार्यक्रम स्थल पर 23217 किसानों को ऋण माफी के प्रमाण पत्र व सम्मान पत्र प्रदाय किए गए है। विदिशा जिले में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत 237923 किसानों का ऋण माफ किया गया है। माफी एवं सम्मान प्रमाण पत्र प्रदाय किए जा रहे है। प्रथम चरण में 57885 किसानों के चालू खाते में 122.52 करोड़ तथा 27263 किसानो के कालातीत खातो में 162.14 करोड़ राशि जमा की गई है। जिले में 36 गौ-शालाओं का निर्माण कराया जा रहा है, गौ-शालाओं का कुल रकबा 124.57 हेक्टेयर एवं चारागाह हेतु 160.84 हेक्टेयर भूमि आरक्षित की गई है। प्रत्येक गौ-शालाओं में 100-100 गौ-वंश को रखा जाएगा। हर गौ-शाला की लागत तीस लाख रूपए है।  लोकार्पित गंजबासौदा से सिरोंज सडक मार्ग की कुल लम्बाई 42 किलोमीटर है यह सड़क मार्ग 79.36 करोड़ की लागत से पूर्ण कराई गई है।   कार्यक्रम स्थल पर भूतपूर्व मंत्री श्री प्रभु सिंह ठाकुर, श्री रघुवीर सिंह सूर्यवंशी के अलावा जिला जय किसान फसल ऋण माफी क्रियान्वयन समिति के सदस्य सर्वश्री सुभाष बोहत, श्रीमती मर्सरत शाहिद, श्रीमती ज्योत्सना यादव के अलावा अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी, हितग्राहीगण एवं जय किसान फसल ऋण माफी योजना से लाभांवित होने वाले हजारो की तादाद में कृषकबंधु मौजूद थे। 

विधायक शषांक भार्गव ने विदिषा के विकास एवं विभिन्न संगठनों की माॅगों के संबंध में मुख्यमंत्री जी को अनुरोध पत्र सौंपाः
विदिषाः विदिषा विधायक शषांक भार्गव ने फसल ऋण माफी हितग्राही सम्मेलन के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी को विदिषा के विकास हित में 12 सूत्रीय अनुरोध पत्र सौपाः-
मकोडिया बांध निर्माण कार्य की स्वीकृति।  बेरोजगारों के हित में विदिषा में गारमेन्ट्स पार्क निर्माण। कृषकों एवं युवाओं के हित में कृषि पर आधारित उधोग की स्थापना। साॅची बौद्ध भारतीय ज्ञान अध्ययन विष्वविधालय जो रायसेन के पास किराये के भवन में संचालित है इसे विदिषा में संचालित किया जाए। नगर विदिषा हेतु फ्लाय ओव्हर ब्रिज, बीना रिफायनरी में आस-पास के जिलों के बेरोजगार युवकों को रोजगार दिया जाए। बासौदा, सिरोंज, ब्यावरा रेल लाईन सुविधा दिये जाने। कृषकों के हित में गेहॅू पर 200 रूपये प्रति क्वंटल बोनस दिया जाए। विदिषा, शमषाबाद, नटेरन तहसील में सिचाई सुविधा विहीन ग्रामों में नहरो का निर्माण किया जाए। सामाजिक सुरक्षा पेंषनों में गरीबी रेखा के बंधन को समाप्त किया जाए। होमगार्ड सैनिकों की सेवा पुलिस कर्मियों के समान नियमित किया जाए।  चिटफण्ड कंपनियों में आम आदमी की जमा पॅूजी वापिस दिलाए जाने के लिए सरकार की ओर से कानूनी कार्यवाही की जाए।  भूमि विकास बैंक कर्मियों को संविलियन म.प्र. शासन के अन्य विभागों में यथाषीघ्र किये जाने एवं साथ ही एस.ए.टी.आई. काॅलेज विदिषा में कार्यरत एवं सेवानिवृत्त कर्मियों के हित में यथाषीघ्र अनुदान राषि स्वीकृत किये जाने के संबंध में सादर अनुरोध मा. मुख्यमंत्री जी से किया। सफल आयोजन के लिए विधायक शषांक भार्गव ने समस्त अन्नदाता कृषकों, कांग्रेस के समस्त पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं एवं प्रषासन के सभी अधिकारी, कर्मचारियों के साथ मीडिया के प्रति आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से व्यापार महासंघ के अध्यक्ष मुन्ना भैया जैन, देवेन्द्र श्रीवास्तव, कमल सिलाकारी, रणधीरसिंह ठाकुर, राकेष कटारे, वरिष्ठ कांग्रेस नेता नरेन्द्र पीतलिया, रईस अहमद कुरैषी, नंदकिषोर शर्मा, नगर अध्यक्ष वीरेन्द्र पीतलिया, शैलेन्द्र भदौरिया, महेन्द्र यादव, मनोज कपूर, प्रदीप गुप्ता, अजय दाॅतरे, बसंत पीतलिया, सुरेन्द्र भदौरिया, अजय कटारे, नरेन्द्र रघुवंषी, मोहरसिंह रघुवंषी, अनुज लोधी, दीवान किरार, पार्षदगण विजयकांत रैकवार, डालचंद अहिरवार, आषीष भदौरिया, राजेष नेमा, अनिल यादव, नवनीत कुषवाह, घनष्याम महेष्वरी, ब्रजेन्द्र वर्मा, मनोज खींची, गजेन्द्र रघुवंषी, अविनाष सनेहा, वैभव भारद्वाज, प्र्रियंका किरार, वीरसिंह रघुवंष गजार, मण्डलम अध्यक्षगण धर्मेन्द्र यादव, बसीम खान, मनोज जैन, षिवचरण शर्मा, वीरेन्द्र राजपूत, संतोष गुर्जर, गौरव दांगी, देवेन्द्र दंागी, डाॅ. राजेन्द्र दांगी, डाॅ. जितेन्द्र दांगी, उमेष चतुर्वेदी, सुनील शर्मा, ललित तिवारी, डी.के. रैकवार, दषन सक्सैना, अभिषेक शर्मा, महेन्द्र विष्वकर्मा, मनोज कुषवाह, योगेन्द्र राय, अब्दुल हक, कोमल जाटव, रामलाल अहिरवार, षिवराज पिपरोदिया, दीपक दुबे, राजकुमार डीडोत सहित ब्लाॅक कांग्रेस, महिला कांग्रेस, सेवादल, युवक एवं एन.एस.यू.आई. के समस्त पदाधिकारी एवं कार्यकर्तागण उपस्थित रहें। 

मुख्यमंत्री जी के हाथो से लाभांवित होने वाले हितग्राही 

मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने मंगलवार को विदिशा के एसएटीआई काॅलेज के प्रागंण में सम्पन्न हुई जय किसान फसल ऋण माफी योजना के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना और जय किसान फसल ऋण माफी योजना के प्रमाण पत्र व सम्मान पत्र प्रतीक स्वरूप हितग्राहियों को प्रदाय किए।  मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत जिन 12 किसानों को ऋण माफी व सम्मान पत्र प्रदाय किए उनमें लटेरी तहसील के ग्राम मुण्डेला समिति कोलुआपठार के कृषक श्री श्याम सिंह को 43750 रूपए का, बासौदा तहसील के ग्राम माॅगरोद के कृषक श्री बृजेन्द्र सिंह की 195689.50 रूपए, गुलाबगंज तहसील के ग्राम रूसल्ली के कृषक श्री लाखन सिंह मीना का 191407.63 रूपए, पठारी तहसील में पठारी ग्राम के कृषक श्री रजत कुमार का 46342.25 रूपए, विदिशा तहसील के ग्राम सतियाखेडी के कृषक श्री आफाक हुसैन का 168954 रूपए, त्योंदा तहसील के ग्राम खामखेडा के कृषक श्री रामगुलाम सिंह का 151300 रूपए, नटेरन तहसील के ग्राम नागौर निवासी कृषक श्री मुकेश सिंह का 44287 रूपए, सिरोंज तहसील में ग्राम पामाखेडी के कृषक श्री जानकी प्रसाद शर्मा का 114171 रूपए, कुरवाई तहसील के ग्राम करईबैरखेडी के कृषक श्री चन्द्रभान सिंह का 199985.50 रूपए, ग्यारसपुर तहसील के ग्राम बसियाखास के कृषक श्री रामसेवक का 195815.40 रूपए, शमशाबाद तहसील के में पिपलधार के कृषक श्री रामनारायण यादव का 44473 रूपए तथा कुरवाई तहसील में ग्राम सरखण्डी के कृषक श्री नत्थू का 198446.94 रूपए ऋण माफी का चैक प्रदाय किया है। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना से लाभांवित होने वाले पांच हितग्राहियों को शुभार्शीवाद देते हुए उन्हें क्रमशः 48-48 हजार रूपए के चैक प्रदाय किए। मुख्यमंत्री जी ने जिन दम्पति हितग्राहियों को चेक प्रदाय किए उनमें ग्राम खेरूआहाट की विनीता हैदरगढ के अरविन्द को, रंगई के गीताबाई-घनश्याम को, हडा की पूजा कुशवाह विदिशा के अंकित को, गमाखर की रामजानकी विदिशा के दीपक को, उदयगिरी की रूबी जहां रायसेन के शादाब शामिल है। 

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभांरभ 

vidisha news
प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभांरभ कार्यक्रम आज विदिशा शहर में स्थित जय स्तंभ के समीप की सीएससी में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के लाइव भाषण का प्रसारण देखा-सुना गया है।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने योजना से लाभांवित होने वाले हितग्राहियों को प्रतीक स्वरूप पेंशन कार्डो का वितरण किया। जिला श्रम पदाधिकारी श्री सुधीश कमल ने बताया कि असंगठित कामगारो के लिए पेंशन योजना प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन (पीएम-एसवायएम) ऐसे सभी व्यक्ति जिनकी वार्षिक आय 15 हजार से कम है। उनकी आयु 18 से 40 वर्ष है। योजना का लाभ लेने हेतु वे अपना पंजीयन नजदीक की सीएससी के माध्यम से करवा सकते है। इस योजना में श्रमिकों को पंजीयन के समय उम्र अनुसार हर माह 55 रूपए से 200 रूपए के मध्य एक निश्चित राशि जमा करनी होगी। केन्द्र सरकार द्वारा जमा राशि के बराबर श्रमिकों के खाते में जमा की जाएगी। श्रमिक द्वारा 60 वर्ष की आयु पूर्ण कर लेन के पश्चात् प्रत्येक माह तीन हजार रूपए की पेंशन की पात्रता रहेगी। पेंशन शुरू होने के पश्चात् श्रमिक की मृत्यु होने की दशा में श्रमिक के पति या पत्नि को 1500 रूपए की पारिवारिक पेंशन की व्यवस्था होगी।  कार्यक्रम स्थल पर सीएससी प्रबंधक, कर्मचारी राज्य बीमा निगम के सहायक प्रबंधक तथा जिले के अन्य सीएससी केन्द्रों के संचालक एवं श्रमिक संगठनों के प्रतिनिधि तथा गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

गणित विषय मेें 923 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहें 

माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा जारी हाई स्कूल परीक्षा टाइम टेबिल के अनुसार आज दसवीं का गणित विषय की परीक्षा जिले में सम्पन्न हुई है। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि कुल दर्ज 23418 में से 22495 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए है। गणित विषय की परीक्षा में नकल का एक भी प्रकरण दर्ज नही किया गया है जबकि 923 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहें।

शिक्षा स्थायी समिति की बैठक आज

जिला पंचायत की उपाध्यक्ष श्रीमती गुड्डी बाई अहिरवार की अध्यक्षता में जिपं की जिला शिक्षा स्थायी समिति की बैठक छह मार्च को आयोजित की गई है कि जानकारी देते हुए जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि उक्त बैठक जिला पंचायत के सभागार कक्ष में अपरान्ह 12 बजे से आयोजित की गई है।  बैठक मेें मुख्यतः गणवेश वितरण की जानकारी, आय, व्यय के साथ-साथ प्रायवेट स्कूलों की जिले में संचालित संख्या व नियमावली के अलावा अतिथि शिक्षकों की जानकारी, जिले में भवनविहिन शालाओं की संख्या एवं कारण तथा अपूर्ण निर्माण भवनो की जानकारी तथा शौचालय व शालाओं के रिपेयरिंग संबंधी कार्यो की समीक्षा की जाएगी।

मुख,गला, कैंसर, थायरायड एंव नेत्र परीक्षण षिविर 10 मार्च को

विदिषां।सेवाभारती भवन श्रीकृध्ण कालोनी दुर्गानगर में 10 मार्च कोसुबह11 बजे से मुख,गला कैंसर एंव थायरायड रोग से पीड.ीत मरीजों की जांच एंव चिकित्सा परामर्ष एप्पल हाॅस्पिटल इंदौर के डा. नितिन तोमर एमएस ईएनटी दृारा की जायेगी एंव आधुनिक मषीनों से आखों की जांच सजल जैन आप्टोमेटिस्ट दृारा की जायेगी। सेवा भारती के सचिव राजीव भार्गव ने इस षिविर में ऐसे मरीज मुख एंव गले के कैंसर,गिले में घंेघारोग से ग्रसित मरीज एंव थायरायड ग्रंथि की विभिन्न समस्याओं का निदान भी इस षिविर में किया जायेगा। मरीज अपना पंजीयन में 10 मार्च रविवार को सुबह 10बजे से 12 बजे तक सेवा भारती भवन श्रीकृध्ण कालोनी दुर्गानगर में करा सकते हैं। विदिषा से बाहर के मरीज अपना पंजीयन डाॅ,प्रकाष पीतलिया मोबाइ्रल नं.9827720892 पर करा सकते हैं। 

2 लाख तक का कर्ज माफ नहीं हुआ तो मैं हर सजा भुगतने को तैयार-भार्गव

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विदिषा विधायक शषांक भार्गव ने कहा कि ऋण माफी योजना को लेकर विपक्षी दल के नेता किसानों के बीच भांति-भांति के भ्रम फैला रहें है। किसानों को समझाते हुए श्री भार्गव ने कहा कि मार्च 2018 में सहकारी बैंकों के ऋण कन्वर्जन होने से अभी किसानों के खाते में कम राषि आ रही है। माफी नीति अनुसार तीन चरणों में ऋण माफी होगी। उन्होंने ऋण माफी की तीन किष्तों तक किसानों को इंतजार करने को कहा। उन्होंने जिले के किसानों को वचन देकर आष्वस्त किया कि तीन किष्तों में हर हाल में किसानों का 2 लाख तक ऋण माफ होगा यदि ऐसा नहीं होगा तो मैं हर सजा भुगतने के लिए तैयार हॅू।  मैं, मोदी जैसा झूठा नहीं हॅू कि 50 दिनों में काला धन और 15 लाख हर खाते में नही आयेगें तो मुझे चैराहे पर लटका देना का वायदा कर जनता को ठग लें। कांग्रेस, भाजपा जैसी झूठी पार्टी नहीं है कांग्रेस वचनबद्ध पार्टी है जो वचन दिए है वह पूरे करके दिखाऐंगे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...