2019 का चुनाव लोकतंत्र एवं संविधान को बचाने का है: केजरीवाल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 25 अप्रैल 2019

2019 का चुनाव लोकतंत्र एवं संविधान को बचाने का है: केजरीवाल

2019-is-to-save-democracy-and-constitution-kejriwal
नयी दिल्ली, 25 अप्रैल, आम आद मी पार्टी (आप) के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि 2019 का चुनाव भारत के लोकतंत्र और संविधान को बचाने का चुनाव है। श्री केजरीवाल ने पार्टी का घोषणा पत्र जारी करने के मौके पर यहां संवाददाताओं से कहा, “ ये चुनाव किसी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए नहीं है। दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए है। कुछ भी करेंगे, दिल्ली को पूर्ण राज्य का बनाकर रहेंगे। ” उन्होंने कहा,“ वर्ष 2019 का चुनाव भारत के लोकतंत्र और संविधान को बचाने का चुनाव है।” आप संयोजक ने पूर्ण राज्य के दर्जे के लाभों का उल्लेख करते हुए कहा, “ यदि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिल जाता है ताे पुलिस को जनता के प्रति जवाबदेह बनाया जायेगा। महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त की जायेगी और यहां के 85 प्रतिशत छात्र के कालेजों में दाखिला पायेंगे। ” उन्होंने कहा, “ यदि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिल जाता है तो दिल्ली नगर निगम सरकार के नियंत्रण में होगा और राष्ट्रीय राजधानी साफ-सुथरी होगी। सभी संविदा कर्मचारियों को स्थायी करना सुनिश्चित किया जायेगा।” आप के वरिष्ठ नेता एवं उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस मौके पर संवाददाताओं से कहा,“ हमारे घोषणा पत्र से लोगों को जानकारी मिलेगी कि कैसे दूसरे देशों की राजधानियों को पूर्ण राज्य का दर्जा मिला हुआ है और वहां चुनी हुई सरकार को सभी अधिकार प्राप्त हैं। ” उन्होंने कहा, “ यदि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलेगा तो लोगों की गाढ़ी कमाई को राज्य के विकास के लिए बेहतर तरीके से इस्तेमाल किया जा सकेगा।”

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...