जेट एयरवेज के पायलटों की हड़ताल टली - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 14 अप्रैल 2019

जेट एयरवेज के पायलटों की हड़ताल टली

jet-airways-pilots-defer-strike-as-management-to-meet-sbi-tomorrow
नयी दिल्ली 14 अप्रैल, वित्तीय संकट में फंसी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज के पायलटों की सोमवार को होने वाली हड़ताल टल गयी है। पायलटों के एक संगठन नेशनल एविएटर्स गिल्ड (एनएजी) ने बताया कि फिलहाल हड़ताल स्थगित कर दिया गया है। निजी एयरलाइंस के 1,600 पायलटों में 1,100 एनएजी के सदस्य हैं। इंजीनियरों तथा प्रबंधन के वरिष्ठ सदस्यों के साथ पायलटों को भी जनवरी से वेतन नहीं मिला है। अन्य कर्मचारियों को पहले आंशिक वेतन का भुगतान किया जा रहा था, लेकिन उनका भी मार्च का वेतन अब तक नहीं मिला है। कंपनी ने आश्वासन दिया है कि ऋणदाता बैंकों के कंसोर्टियम द्वारा शुरू की गयी समाधान प्रक्रिया के तहत जैसे ही नकदी आती है कर्मचारियों के वेतन का भुगतान उसकी प्राथमिकता होगी। भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम ने 1,500 करोड़ रुपये की नकदी देने का आश्वासन दिया है। कंसोर्टियम ने एयरलाइंस की 75 प्रतिशत तक हिस्सेदारी बेचने के लिए बोली प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। प्रथम चरण में अभिरुचि पत्र जमा कराने की अंतिम तिथि समाप्त हो चुकी है। योग्य बोली लगाने वालों के लिए वित्तीय निविदा जमा कराने की आखिरी तारीख 30 अप्रैल रखी गयी है। कुछ ही महीने पहले 120 विमानों का परिचालन करने वाली कंपनी के विमानों की संख्या नकदी की किल्लत के कारण 15 से भी कम रह गयी है। किराया नहीं चुकाने के कारण विमान पट्टे पर देने वाली कंपनियों ने बड़ी संख्या में उसके विमान ग्राउंड कर दिये हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...