मोदी का चुनावी ‘गुरुमंत्र’, कार्यकर्ता जीतें जनता का दिल, हर बूथ विजय करें - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 26 अप्रैल 2019

मोदी का चुनावी ‘गुरुमंत्र’, कार्यकर्ता जीतें जनता का दिल, हर बूथ विजय करें

modi-s-electoral-gurmantra-win-worker-s-heart-win-every-booth
वाराणसी, 26 अप्रैल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यहां नामांकन से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कार्यकर्ताओं को जीत का ‘गुरुमंत्र’ देते हुए कहा कि वे जनता का दिल जीतें और विरोधी दल के प्रत्याशी दोस्ती, प्रेम एवं भाईचारे से पेश आएं तथा बूथ जीतने में जोर लगाएं। श्री मोदी ने सुबह यहां काशी के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि चुनाव एक पर्व होता है। उन्होंने कहा,“ लोकतंत्र में कोई कितना ही विरोधी क्यों न हो, हर उम्मीदवार आदरणीय है वह हमारा दुश्मन नहीं है, वह भी लोकतंत्र को मजबूत बनाता है। हमें हेकड़ी नहीं दिखानी चाहिए। हेकड़ी दिखाने वालों का जनता क्या हाल करती है, यह हमने देखा है। आपने देखा, 400 से 40 पर आए गए हैं। हमें हाथ जोड़कर नम्रता से चुनाव लड़ना है।” प्रधानमंत्री ने कहा कि राजनीतिक भाषणों और टीवी चैनल पर बहसों में झगड़ा हो सकता है लेकिन उसके बाहर राजनीति में दोस्ती प्रेम भाईचारा कम हो रहा है, उसे बनाये रखने की जरूरत है। कोई मोदी को कितनी ही भद्दी गाली दे, उसे मोदी के खाते में डाल दें। उन्होंने कहा,“गंदी से गंदी चीज से खाद बनाता हूं और उसी से कमल खिलाता हूं।”

उन्होंने बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं की हौसला आफजायी करते हुए कहा, “आप सब नरेंद्र मोदी हैं। आप बूथ स्तर के पीएम और एमपी है।” उन्होंने कहा कि कल के रोड शो से साफ हो गया है कि काशी का चुनाव जीत चुके हैं। लेकिन उनकी दिलचस्पी बूथ जीतने में है। कार्यकर्ता हर बूथ पर अधिक अंतर से जीत दर्ज करें। श्री मोदी ने कहा कि वे एक आदर्श कार्यकर्ता के रूप में लोगों के दिल जीतने निकलें। श्री मोदी ने कहा,“ हम दिल जीतने निकले हैं, दल अपने आप जीत जाएगा। कोई ऐसा दिल नहीं बचे, जिसे जीतने का प्रयास न किया गया हो। दल जीतेगा, देश को जिताने के लिए। प्रधानमंत्री का पद मौज के लिए नहीं होता। यह 130 करोड़ लोगों की साधना स्थली है। शरीर का कण-कण और पल पल देश के लिए आहूत करना होता है। मैंने गत पांच वर्षों में ये करके दिखाया है। ” श्री मोदी ने कार्यकर्ताओं को कई मंत्र दिए। उन्होंने बूथ पर हर घर में संपर्क करने का सुझाव दिया। चुनाव कम से कम खर्च में लड़ने के उपाय सोचने की भी बात की। उन्होंने कार्यकर्ताओं से पहली बार वोट देने वालों का मुंह मीठा करने और फूल देकर स्वागत करने का आह्वान किया। उन्होंने ये काम अभी से शुरू करने और चुनाव से पहले पूरा करने को कहा। श्री मोदी ने गुरुवार के भव्य रोड शो को सफल बाने के लिए कार्यकताओं का आधार करते हुए कहा,“आप के परिश्रम एवं पसीने की महक सभी ने महसूस की है।”

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...