पूर्णिया : एक सप्ताह के अंदर सभी विक्रेता संघ सर्वेक्षित वेंडरों की सूची निगम को करें समर्पित - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 30 अप्रैल 2019

पूर्णिया : एक सप्ताह के अंदर सभी विक्रेता संघ सर्वेक्षित वेंडरों की सूची निगम को करें समर्पित

purnia-nagar-nigam-meeting
पूर्णिया (आर्यावर्त संवाददाता)  : नगर निगम के सभागार में मेयर सविता देवी की अध्यक्षता व नगर आयुक्त विजय कुमार सिंह की मौजूदगी में फुटपाथी विक्रेता संघ के सदस्यों के साथ बैठक की गई। जिसमें अपर नगर प्रबंधक, नगर मिशन प्रबंधक, पूर्णिया शहर स्तरीय फुटपाथ विक्रेता संघ के अध्यक्ष राजकुमार गुप्ता, फुटपाथ विक्रेता संघ के अधिकारी एवं सदस्यगण भी शामिल हुए और अपनी समस्याएं मेयर व नगर आयुक्त के समक्ष रखी। बैठक में जदयू नेता सह समाजसेवी प्रताप सिंह भी विशेष रूप से मौजूद रहे। मेयर ने सभी वेडर्स को यह आश्वासन दिया कि पूर्व से प्रस्तावित वेंडिंग जोन को जल्द ही शहर में उनकी सुविधा के लिए डेवलप किया जाएगा। जिसके बाद उन्हें विस्थापित होने की समस्या से जूझना नहीं पड़ेगा और अतिक्रमण हटाओ अभियान का खामियाजा भी नहीं भुगतना पड़ेगा। इस दौरान संघ के अध्यक्ष राजकुमार गुप्ता ने वेंडर्स की विभिन्न समस्याओं से उन्हें अवगत कराया और जल्द निष्पादन की मांग की। वहीं नगर आयुक्त ने कहा कि शहर को व्यवस्थित और सुंदर बनाने में वेंडर्स का भी सहयोग अपेक्षित है। उन्होंने कहा कि वेंडर्स के कारण भी शहर में जाम लगने व गंदगी फैलने की समस्या बनी रहती है। इसलिए जरूरी है अनुशासित होकर अपनी दुकानें सड़क किनारे लगाएं। 

...इन मांगों पर हुई चर्चा : 
- टीवीसी की बैठक दो सालों से नहीं हो रही हैं। पूर्व टीवीसी की बैठक के द्वारा सभी वेंडिंग जाेन पारित किया जा चुका है 
- डीपीआर पत्र के माध्यम से विभाग द्वारा बार बार मांगा जा रहा है पर अब तक उपलब्ध नहीं किया गया है 
- सभी यूएलबी में पहचान पत्र वितरण किया जा रहा है पर पूर्णिया नगर निगम में नहीं हो रहा है
- अभी यह पहचान पत्र (नगर निगम) द्वारा प्रिंट कर वितरण कराया जाना है
- अमीन के द्वारा कार्य में लापरवाही बरती जा रही है जबकि पूर्व नगर आयुक्त द्वारा जमीन को पूर्व में पत्र के माध्यम से आदेश निर्गत है
- स्ट्रीट वेंडर एक्ट 2014  में साफ तौर पर निर्देर्शित है कि टीवीसी ही हटा सकती है और बसा सकती है यदि किसी और के द्वारा तोड़ा जाता है तो संविधान के खिलाफ है और उच्च न्यायालय के निर्देश की अवहेलना है 
- बैठक में नगर आयुक्त के द्वारा बैठक के दौरान वेंडरों को व्यवस्थित कराने के लिए सर्वप्रथम लाइन बाजार स्थित मार्केट कमेटी में पाइप के द्वारा घेराबंदी कर उसके अंदर (सर्वेक्षित) वेंडरों को व्यवस्थित करवाया जाएगा फिर उसके अंदर बचे हुए वेंडरों को व्यवस्थित किया जाएगा
- बैठक में यह भी कहा गया कि (एनएचएआई) को एनओसी के लिए पत्र भेजा गया है, वहां से स्वीकृति मिलने पर जल्द ही वेंडिंग जोन निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा 
- तत्काल हर कमेटी से नगर आयुक्त के द्वारा (सर्वेक्षित) वेंडरों की सूची एक सप्ताह के अंदर मांगी गई है जिसमें वेंडरों को तत्काल व्यवस्थित कराया जाएगा, जिसमें आने वाले समय में जाम से मुक्ति संभव हो सकेगी। बैठक में फुटपाथ विक्रेता संघ के अध्यक्ष राजकुमार गुप्ता, मीडिया प्रभारी दीपक हिन्दुस्तानी, रविशंकर चौधरी, गणेश साहनी, मनोज कुमार शर्मा, पंकज भटाचार्य, पप्पू कुमार, शानु रहमान, उमेश गुप्ता, नीलम देवी, सावित्री देवी, देवंती देवी, सुमित्रा देवी के अलावा दर्जनों वेंडर्स मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...