बिहार : भाकपा ने भाजपा द्वारा बेगूसराय कार्यालय पर हमले की निंदा की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 23 मई 2019

बिहार : भाकपा ने भाजपा द्वारा बेगूसराय कार्यालय पर हमले की निंदा की

cpi-condemn-attack-on-party-office-begusaray
पटना 23 मई 2019।  बिहार के वामदलों ने बेगूसराय स्थित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला कार्यालय पर भातरीय जनता पार्टी के द्धारा आज किये गये हमले की तीव्र निंदा की है और बेगूसराय सहित सभी जिलों में वामदलों के कार्यालयों और कार्यकर्ताओं की सुरक्षा की मांग बिहार सरकार से की है। आज यहाँ जारी एक संयुक्त विज्ञप्ति में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह, भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माले) के राज्य सचिव कुणाल तथा भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मा.) के राज्य सचिव अवधेश कुमार ने कहा है कि आज लोकसभा चुनावो के परिणाम सामने आते ही भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के उग्र दल ने बेगूसराय स्थित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला कार्यालय पर बम और ईट पत्थर से दिन दहाड़े हमला कर  दिया। इस हमले में कुछ लोग घायल भी हो गये। ज्ञातव्य  है कि बेगूसराय लोकसभा सीट से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के कन्हैया कुमार भी एक प्रत्याशी थे जिन्हे सभी वामदलों का समर्थन प्राप्त था।  वाम नेताओ ने कहा है कि यह उग्र और हिंसक हमला एक राजनितिक हमला है। भारतीय जनता पार्टी हिंसा के सहारे विरोधी राजनीति को कुचलना चाहती है जो लोकतांत्रिक समाज के लिए अत्यंत खतरनाक है। वाम नेताओं ने आरोप लगाया है की भाजपा की उग्र और हिंसक राजनीति इससे ज्यादा बड़ा नंगा रूप और क्या हो सकता है वामदलों के नेताओ ने आशंका व्यक्त की है कि बेगूसराय सहित राज्य के अन्य जिलों में भी वामदलों के कार्यालयों और कार्यकर्ताओं पर हिंसक हमले हो सकते है। क्योकि बेगूसराय की आज की घटना से यही पता चलता है कि चुनाव के जीत के नशे में भारतीय जनता पार्टी अपने विरोधियो को सबक सिखाने की साजिश कर रही है। इन वामदलों के नेताओं ने बिहार सरकार, खासकर मुख्यमंत्री से मांग की है कि वामदलों सहित विपक्षी दलों के कार्यालयों एवं कार्यकर्ताओं की सुरक्षा की गारंटी करें।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...