फोनी तूफान से ओड़िशा में तबाही, 160 घायल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 4 मई 2019

फोनी तूफान से ओड़िशा में तबाही, 160 घायल

fani-storm-wreck-havoc-in-odisha-160-wounded
नयी दिल्ली, 03 मई, बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान फोनी के आज ओड़िशा में पुरी के तटवर्ती क्षेत्रों से टकराने से बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है और विभिन्न घटनाओं में 160 लोगों के घायल होने की खबर है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार तूफान के कारण पुरी में कच्चे घरों , पुरानी इमारतों और अस्थायी दुकानों को भारी नुकसान पहुंचा है। अधिकारियों ने बताया है कि अभी तक किसी व्यक्ति की मृत्यु की जानकारी नहीं मिली है लेकिन 160 लोगों के घायल होने की खबर है। क्षेत्र में बिजली और संचार नेटवर्क पूरी तरह ठप पड़ गया है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और राज्य की विभिन्न एजेन्सी सड़कों और अन्य रास्तों से पेड़ों तथा खंभो को उठाने में लगी हैं। ‘फोनी’ लगभग 170 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से शुक्रवार सुबह ओडिशा में पुरी के तटीय इलाकों में पहुंच गया जिसके बाद से पुरी तथा अन्य तटीय इलाकों में बारिश हो रही है तथा तेज हवाएं चल रही हैं। एनडीआरएफ ने राहत बचाव अभियान में अपने सभी संसाधनों को लगा रखा है और वह स्थानीय प्रशासन की हर जरूरत को पूरा करने में जुटा है। ये टीमें तूफान के कारण सड़कों पर बाधाओं को दूर करने में लगी हैं। तूफान के कारण फंसे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर बनाये गये शिविरों में भेजा गया है। अब तक 11 लाख से अधिक लोगों को निकाला जा चुका है। नौसेना , तटरक्षक बल और अन्य एजेन्सियों की टीमें राहत और बचाव अभियान में लगी हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...