सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 30 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 31 मई 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 30 मई

ईद-उल-फितर के संबंध में शांति समिति की बैठक संपन्न

sehore newsजून माह के प्रथम सप्ताह में आने वाले ईद-उल-फितर त्यौहार के संबंध में गुरुवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय के नवनिर्मित कंट्रोल रूम में शांति समिति की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में समिति सदस्यों द्वारा ईद-उल-फितर त्यौहार को लेकर कुछ आवश्यक व्यवस्थाएं करने की मांग जिला प्रशासन से की गई। विशेष जुम्मा जो कि 31 मई को है के लिए मस्जिदों में पर्याप्त पेयजल, टेंट, साफ-सफाई आदि की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की जाएगी। इसी प्रकार चांद रात को को गांधी रोड़ स्थित बाजार खरीददारी के लिए रात 2 बजे तक खुले रहेंगे। बैठक में अपर कलेक्टर श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव सहित अन्य अधिकारी व शांति समिति सदस्य उपस्थित थे।

राजस्व अधिकारियों की बैठक संपन्न

गुरुवार को कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा द्वारा जिले के समस्त राजस्व अधिकारियों की बैठक ली गई। बैठक में कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया किया सीमांकन, ऋण पुस्तिका, अतिक्रमण, भू अर्जन आदि कार्यों पर विशेष ध्यान दें। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि आगामी वर्षा ऋतु को ध्यान में रखते हुए अपने-अपने क्षेत्र में प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए पुख्ता इंतजाम किये रखें। बाढ़ की समस्या से निपटने के लिए बारिश शुरु होने से पहले बाढ़ प्रभावित हो सकने वाले इलाकों का चिन्हांकन कर लें। सारे संसाधन अभी से व्यवस्थित कर लिये जाएं। किसी भी प्रकार की आपदा से निपटने के लिए होमगार्ड से भी मदद ली जाएगी।

मानसून के पहले विद्युत रखरखाव के चलते सीहोर के विभिन्न क्षेत्रों में 1 जून को होगी बिजली कटौती

विद्युत विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार मानसून के पहले विद्युत विद्युत रखरखाव के कारण 01 जून को सीहोर के विभिन्न क्षेत्रों में बिजली कटौती की जाएगी। सीहोर के खाईखेड़ा क्षेत्र अन्तर्गत छतरी पंप, हिनौती, कासरखेड़ी पंप, खाईखेड़ा, पड़ियाला, पीलूखेड़ी पंप क्षेत्र में प्रात: 9 बजे से शाम 6 बजे तक विद्युत प्रवाह बंद रहेगा।

आज विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर होगा निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन, निकलेगी जनजागरूकता रैली, मरीजों और परिजनों को दी जाएगी जानकारी

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.प्रभाकर तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर 31 मई को जिला चिकित्सालय में निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन जिला चिकित्सालय में किया जाएगा। शिविर का आयोजन प्रातः9 से दोपहर 1 बजे तक किया जाएगा। जिसमें दंतरोग, नाक कान गला एवं मेडिसिन, ब्लॅड प्रेशर, शुगर से संबंधित रोगों की सूक्ष्म जांच कर उपचार किया जाएगा। शिविर में दंत रोग विशेषज्ञ, ईएनटी विशेषज्ञ एवं मेडिसिन विशेषज्ञ अपनी सेवाएं जिला चिकित्सालय में देंगे। विभागीय कर्मचारियों सहित शहरी क्षेत्र में पदस्थ ए.एन.एम., नर्स प्रशिक्षण केन्द्र द्वारा जागरूकता रैली निकाली जाएगी जो शहर के प्रमख मार्गो से होते हुए ट्रामा सेंटर पहुंचेंगी जहां तम्बाकू उत्पादों के दुष्प्रभाव  संबंधी जानकारी जिला चिकित्सालय, ट्रामा सेंटर तथा मातृ-शिशु स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती मरीजों एवं उनके परिजनों को दी जाएगी। विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर ब्लाक स्तर पर जागरूकता कार्यशाला, नुक्कड़ नाटक, जनजागरूकता रैली, किशोर-किशोरियों के लिए सामूहिक चर्चा,हस्ताक्षर अभियान, पेंटिग एवं पोस्टर प्रतियोगिता, ग्राम स्तरीय बैठक कर तम्बाकू उत्पादों के दुषप्रभावों के संबंध में आशा एवं एएनएम के माध्यम से नागरिकों को जागरूक करने, नारे लेखन करने के दिशा निर्देश समस्त ब्लाक मेडिकल ऑफिसर एवं मैदानी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को जारी किए गए है।  

कृषकों, व्यवसायियों, दाल मिल मालिकों हेतु जागरूकता कार्यक्रम संपन्न

sehore news
सीआरडीई कृषि विज्ञान केन्द्र सेवनिया द्वारा वेयर हाउसिंग डेवलपमेंट रेगुलेटरी अथॉरिटी अन्तर्गत एक दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में डॉ. अमित मुदगल, वरिष्ठ संकाय सदस्य, सहकारी प्रबन्ध संस्थान, भोपाल, एस. एल. वासुनिया, शाखा प्रबन्धक, मध्यप्रदेष वेयरहाउसिंग लॉजिस्टिक कार्पोरेशन, इछावर, सीहोर, श्री लखनलाल वर्मा, मध्यप्रदेश वेयरहाउसिंग लाजिस्टिक कार्पोरेशन, इछावर, श्री जे. के. कनौजिया, वैज्ञानिक, कृषि विज्ञान केन्द्र एवं केन्द्र के अन्य वैज्ञानिकों सहित 50 बीज उत्पादक, व्यवसायी एवं कृषक उपस्थित रहे।    कार्यक्रम में वैज्ञानिक जे. के. कनौजिया द्वारा वेयर हाउसिंग डेवलपमेंट रेगुलेटरी एक्ट 2007 पर चर्चा करते हुए कृषकों एवं व्यवसायियों को इसके महत्व को बताया साथ ही विकास एवं विनियमन अधिनियम 2007 को 25 अक्टूबर, 2010 से देश में लागू किया गया एवं भण्डारण की आवश्यकता,  महत्व, अपेक्षित परिणामों की जानकारी दी। डॉ. अमित मुदगल द्वारा उपस्थित कृषकों, व्यवसायियों को वेयर हाउस प्राप्ति रसीद का प्रारूप, भण्डार विकास एवं नियंत्रण प्राधिकरण, भण्डारण सलाहकार समिति, प्राधिकिरण की शक्तियां आदि पर विस्तार से जानकारी दी। कृषि जीन्सों के भण्डारण में ध्यान रखी जाने वाली बातो आदि की विस्तार से जानकारी दी। डॉ.एस.एल. वासुनिया ने कृषकों को भण्डारण के लिए दी जाने वाली सुविधाओं, भण्डारित अनाजों पर बैंक द्वारा दिये जाने वाले लोन प्रक्रिया आदि की विस्तृत जानकारी दी वैज्ञानिक श्री दीपक कुशवाहा् ने भण्डारण की आवश्यकता एवं महत्व पर चर्चा करते हुए भण्डारण में आ रही समस्याओं एवं कीट-व्याधि के नियंत्रण के उपायों की जानकारी दी। डॉ देवेन्द्र पाटिल ने उपस्थित कृषकों व व्यवसायियों को भण्डारण का महत्व व बैंक से प्राप्त होने वाले लाभों पर चर्चा कर अनाजों के सुरक्षित भण्डारण हेतु भण्डारगृहों का लाभ उठाने हेतु प्रेरित किया। कार्यक्रम के अन्त में उपस्थित कृषकों व व्यवसायियों को इछावर के वेयर हाउस एवं भण्डार गृह का भ्रमण कराकर उसके मापदण्डों से अवगत कराया गया। कार्यक्रम का आभार , वैज्ञानिक, कृषि विस्तार, कृषि विज्ञान केन्द्र धर्मेन्द्र पटेल सीहोर द्वारा व्यक्त किया गया।

मंडियों में उपज विक्रय पर उसी दिन दो लाख तक नगद भुगतान के निर्देश

प्रदेश के किसानों के हित में राज्य शासन ने बड़ा कदम उठाया है। अब किसानों को कृषि उपज मंडियों में उपज विक्रय करने पर उसी दिन अधिकतम दो लाख रुपये का नगद भुगतान तथा इससे अधिक मूल्य होने पर शेष राशि बैंक ट्रांसफर से भुगतान सुनिश्चित कराने के निर्देश जारी कर दिये गये हैं। प्रबंध संचालक-सह-आयुक्त म.प्र. राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्वारा संयुक्त संचालक/उप संचालक, म.प्र. राज्य कृषि विपणन बोर्ड, आंचलिक कार्यालय (समस्त) तथा भारसाधक अधिकारी/सचिव, कृषि उपज मंडी समिति को यह निर्देश जारी किये गये। उल्लेखनीय है कि शासन स्तर पर ऐसी शिकायतें मिल रही थी कि आयकर अधिनियम के सामान्य भुगतान नियम का हवाला देते हुए मात्र 10 हजार रुपये तक ही नगद भुगतान किया जा रहा है। कुछ व्यापारियों द्वारा आयकर अधिनियम की आड़ लेकर नगद भुगतान न कर किसानों से उधारी की जाती है और खरीदी गई उपज आगे बेचकर राशि प्राप्त होने पर ही कृषकों को भुगतान किया जाता है। आयकर नियम-1961 की धाराओं के अंतर्गत किसानों/उत्पादकों द्वारा बेची गई कृषि उपज पर रुपये दो लाख तक अधिकतम 1,99,999/- नगद भुगतान पर पूर्ण छूट है। यह भुगतान प्राप्त करने पर कृषकों को उनका पेनकार्ड अथवा फार्म नम्बर-60 भेजने की कोई आवश्यकता नहीं है।  कृषि उपज मंडी अधिनियम धारा-37 (2) के अनुसार मंडी प्रांगण में खरीदी गई कृषि उपज का भुगतान विक्रेता को उसी दिन मंडी प्रांगण में किया जाना जरूरी है। उसी दिन भुगतान नहीं होने की स्थिति में इसी धारा में विक्रेता को देय राशि के एक प्रतिशत रोजाना की दर से अतिरिक्त भुगतान 5 दिवस में करने का प्रावधान है। साथ ही इस अतिरिक्त अवधि में भुगतान का व्यतिक्रम होने पर मंडी अधिनियम की इसी धारा में क्रेता व्यापारी की अनुज्ञप्ति छठे दिन स्वतरू रद्द मानी जायेगी। मंडी सचिव अनुज्ञा पत्र जारी करने के पूर्व यह सुनिश्चित करेंगे कि किसानों का भुगतान हो चुका है। यदि कोई लाइसेंसी व्यापारी अधिनियम के निर्देशों का पूर्ण परिपालन नहीं करता है तो उसके क्रय-विक्रय को रोके जाने तथा लायसेंस रद्द करने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। जारी निर्देशों में उल्लेख है कि अनुज्ञप्तिधारी प्रोसेसिंग प्लांट, एकल अनुज्ञप्ति/विशिष्ट अनुज्ञप्ति क्रय केन्द्र, जहाँ पर कृषि उपज क्रय मात्रा एवं दैनिक भुगतान की मात्रा अत्यधिक रहती है और इस वजह से 2 लाख रुपये नगद भुगतान व्यवस्था संभव नहीं है, क्रय दिवस में अधिकतम संभव नगद भुगतान किया जायेगा। शेष भुगतान उसी दिन आरटीजीएस/एनईएफटी आदि से कराया जाना सुनिश्चित किया जायेगा। इन निर्देशों का व्यापक प्रचार-प्रसार तथा ध्वनि विस्तारक यंत्रों से उद्घोषणा के निर्देश भी दिये गये हैं। किसानों की भुगतान संबंधी शिकायत दर्ज कराने के लिये मंडी सचिव एवं प्रांगण प्रभारी, भुगतान प्रभारी के नाम और मोबाइल नम्बर भी सहज रूप से दिख जाने वाले स्थान पर प्रदर्शित करने को कहा गया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ आज सीहोर जिले के ग्राम जैत आएंगे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ 31 मई को सीहोर जिले की बुदनी तहसील के ग्राम जैत आएंगे। जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ 31 मई को प्रात: 11 बजे लखनउ से राजकीय वायुयान द्वारा प्रस्थान कर दोपहर 12:10 बजे भोपाल पहुंचेंगे। भोपाल से दोपहर 12:15 बजे हेलीकाप्टर द्वारा प्रस्थान कर दोपहर 12:40 बजे सीहोर जिले के ग्राम जैत के हेलीपैड पहुंचेंगे। वहां से कार द्वारा प्रस्थान कर दोपहर 12:50 बजे पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के आवास पर पहुंचकर उनके पिताजी के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करेंगे। तत्पश्चात दोपहर 1:10 बजे पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के आवास से कार द्वारा प्रस्थान कर 1:15 बजे जैत हेलीपैड तथा 1:20 बजे हेलीपैड से भोपाल एयरपोर्ट के लिए प्रस्थान करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...