नोटबंदी से छोटे व्यवसाय और व्यापारी बर्बाद हुए : राहुल गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 10 मई 2019

नोटबंदी से छोटे व्यवसाय और व्यापारी बर्बाद हुए : राहुल गाँधी

small-businesses-and-businessmen-were-ruined-by-the-demonetisation-rahul
नयी दिल्ली 09 मई, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी, सीलिंग और दोषपूर्ण वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर गुरुवार को करारा प्रहार करते हुए कहा कि इनसे छोटे दुकान मालिक, दुकानदार और व्यापारी पूरी तरह बर्बाद हो गये। श्री गांधी ने आरोप लगाया कि नोटबंदी ने न केवल छोटे व्यावसायियों, व्यापारियों तथा दुकान मालिकों की रीढ़ को तोड़कर रख दिया गया बल्कि इसने रोजगार पर भी बड़ा हमला किया। विभिन्न सामानाें का उत्पादन करने वाली कंपनियों तथा कारखानों में काम करने वाले बड़ी संख्या में युवक बेरोजगार हो गये। श्री गांधी ने यहां पूर्वी दिल्ली लोक सभा सीट से पार्टी के उम्मीदवार अरविंदर सिंह लवली के पक्ष में चुनाव प्रचार करते हुए श्री मोदी पर अपने पूंजीवादी मित्रों के हितों में काम करने का आरोप लगाया। उन्होंने जीएसटी लागू करने तथा राष्ट्रीय राजधानी में सीलिंग लगाने पर भी सवालिया निशान लगाये। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि नोटबंदी जैसे अनियोजित कदमों ने अर्थव्यवस्था को प्रभावित किया और चीजों को अस्थिर कर दिया, जिसमें देश भर में बड़ी संख्या में युवाओं ने अपनी नौकरी खो दी। आम आदमी पार्टी पर हमला करते हुए, श्री गांधी ने कहा कि 2014 में यह नौसिखिया पार्टी थी जिसने दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के लिए द्वार खोले थे और यह कभी भी प्रधानमंत्री के खिलाफ खड़ी नहीं हुई। श्री गांधी ने व्यापारी समुदाय को आश्वासन दिया कि यदि उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो उनकी पार्टी छोटे व्यवसाय और व्यापारियों के हितों की रक्षा सुनिश्चित करेगी और उनके खिलाफ कुछ भी नहीं होने देगी। पूर्वी दिल्ली की सीट पर इस बार तीन मजबूत दावेदारों के बीच कड़ी टक्कर होगी, जिसमें भाजपा के गौतम गंभीर, कांग्रेस के श्री लवली और आप की आतिशी मार्लिना शामिल हैं। श्री लवली तीनों में से सबसे अनुभवी उम्मीदवार हैं, जो पहले शीला दीक्षित की सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं।
दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर 12 मई को चुनाव होना है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...