बिहार : मेरिकी इतिहासकार वाल्टर हाउजर के निधन पर शोक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 4 जून 2019

बिहार : मेरिकी इतिहासकार वाल्टर हाउजर के निधन पर शोक

bihar-rajy-kisan-sabha
पटना (आर्यावर्त संवाददाता) अमेरिकी इतिहासकार वाल्टर हाउजर के निधन पर बिहार राज्य किसान सभा के महासचिव अशोक प्रसाद सिंह ने गहरा शोक प्रकट किया है। श्री सिंह ने कहा है कि वाल्टर हाउजर की मौत से बिहारवासी सदमे में हैं। वाल्टर हाउजर ने बिहार के किसान आंदोलन पर काफी काम किया था। बिहार राज्य किसान सभा पर उन्होंने शोध किया था। इसी विषय पर 1961 में उन्होंने अपना पी०एच०डी० थीसिस लिखा था। पी०एच०डी० थीसिस आज भी किसान आंदोलन या स्वामी सहजानंद सरस्वती पर शोध करने वालों का रेफरेंस प्वाइंट(संदर्भ-बिन्दु) बनता है। स्वामी सहजानंद पर उन्होंने कई पुस्तकें लिखा। कहा जाता है कि स्वामी जी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित करने में वाल्टर हाउजर का काफी बड़ा योगदान है। श्री सिंह ने कहा की वाल्टर की मौत ने बिहार और यहाँ के किसानों के मित्र एवं शुभचिन्तक को छीन लिया है। वे जीवन भर भारत एवं खास कर बिहार के किसानों का पक्ष हर अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर लेते थे। हम सभी बिहार के किसान उनके मौत से गमगीन है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...