पूर्णिया : वाहनों से प्रेशर हॉर्न व मॉडिफाइड साइलेंसर को हटाने की शुरू होगी कवायद, - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 12 जुलाई 2019

पूर्णिया : वाहनों से प्रेशर हॉर्न व मॉडिफाइड साइलेंसर को हटाने की शुरू होगी कवायद,

 - परिवहन सचिव व डीएम के सख्त निर्देश के बाद हरकत में आया विभाग - बेवजह हाॅर्न बजाना और वाहनों में मल्टी ट्यून्ड हाॅर्न का उपयोग करना वाहन चालकों को पड़ सकता है महंगा
action-for-vhacle-horn-purnia
कुमार गौरव । पूर्णिया : बुलेट में मॉडिफाइड साइलेंसर लगा कर सड़कों पर लहरिया कट मारने वालों के लिए बुरी खबर है। बाइक या कार पर अगर प्रेशर हॉर्न या मल्टी ट्यून्ड हॉर्न लगा है तो उसे उतार लें। क्योंकि परिवहन विभाग पूरी तैयारी में है। बेवजह हाॅर्न बजाना और वाहनों में मल्टी ट्यून्ड हाॅर्न का उपयोग करना वाहन चालकों को महंगा पड़ सकता है। बेवजह हाॅर्न बजाने वालों पर परिवहन विभाग की गाज गिर सकती है। वाहनों से प्रेशर हॉर्न हटाने के लिए विशेष रुप से जांच अभियान चलाया जाएगा। जांच के दौरान वाहनों में मल्टी ट्यून्ड हाॅर्न और बुलेट में मॉडिफाइड साइलेंसर लगाने वाले वाहन मालिकों पर कार्रवाई की जाएगी। न सिर्फ उनसे जुर्माना वसूला जाएगा बल्कि मल्टी ट्यून्ड हाॅर्न और मॉडिफाइड साइलेंसर को हटाने की भी कार्रवाई की जाएगी। परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल के आदेशों का हवाला देते हुए डीटीओ विकास कुमार ने बताया कि प्रेशर हॉर्न का वाहनों में इस्तेमाल करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि गत दिनों सड़क सुरक्षा समिति के सदस्यों की हुई बैठक में भी जिलाधिकारी प्रदीप कुमार झा ने डीटीओ को प्रेशर हॉर्न को इस्तेमाल में लाने वाले वाहन चालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने का दिशा निर्देश दिया था। जिसके बाद परिवहन विभाग हरकत में है। 

...वाहनों में प्रेशर हॉर्न लगाना स्टेटस सिंबल मानते हैं : 
डीटीओ ने कहा कि ऐसी सूचना मिली है कि लोग दिखावे के लिए अपने बुलेट में मॉडिफाइड साइलेंसर लगवाते हैं। एजेंसी से नई बुलेट निकालते ही युवा सबसे पहले साइलेंसर चेंज करवाते हैं। ताकि बाइक की आवाज को बुलंद किया जा सके। उन्होंने वाहन एजेंसियों को निर्देश दिया है कि बुलेट में वैसे साइलेंसर को नहीं लगाया जाए। जिससे ध्वनि प्रदूषण होता है। डीटीओ ने कहा है कि प्रेशर हाॅर्न या बुलेट में मॉडिफाइड साइलेंसर लगा ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले वाहन मालिकों की शिकायत कोई भी व्यक्ति जिला परिवहन पदाधिकारी के कार्यालय और संबंधित थाना के नंबर पर भी कर सकते हैं। प्रदूषण फैलाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

...मैकेनिक पर भी होगी कार्रवाई : 
बुलेट की एजेंसी के बाहर बैठे मैकेनिकों और मोटर मार्केट में मैकेनिकों को भी सख्त हिदायत दी जाएगी। अगर कोई मैकेनिक बुलेट का साइलेंसर बदलते हुए पकड़े गए तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। ये लोग बुलेट से अधिक ध्वनि निकाल कर दूसरे का ध्यान अपनी ओर खींचते हैं। इस कारण अन्य वाहन चालक, बच्चे और आसपास से गुजरने वाले लोग डर जाते हैं। इस कारण हादसे की भी आशंका रहती हैै। प्रेशर हाॅर्न से न सिर्फ ध्वनि प्रदूषण फैलता है बल्कि चिड़चिड़ापन, विशेष रुप से रोगियों, वृद्धों और गर्भवती महिलाओं को प्रभावित करता है। 

...विभागीय आदेश के बाद बरती जाएगी सख्ती : 
विभागीय आदेश प्राप्त हुआ है। गत दिनों सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में भी प्रेशर हॉर्न को इस्तेमाल में लाने वाले वाहन चालकों पर कार्रवाई करने का निर्देश डीएम ने दिया था। जल्द ही इस दिशा में अभियान चलाकर जिले में चलने वाले वाहनों से प्रेशर हॉर्न व मॉडिफाइड साइलेंसर को हटाने की कवायद शुरू की जाएगी।  : विकास कुमार, डीटीओ, पूर्णिया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...