बिहार : बीडीओ व सीओ ने दस दिनों के अंदर वेतन भुगतान कर देने का दिया आश्वासन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 30 जुलाई 2019

बिहार : बीडीओ व सीओ ने दस दिनों के अंदर वेतन भुगतान कर देने का दिया आश्वासन

बिहार चिकित्सा एवं जन -स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के बैनर तले दानापुर अनुमंडल अस्पताल के परिसर में सोमवार से 'हाजिरी बनाओं व सत्याग्रह पर बैठ जाओ' नामक अहिंसात्मक आंदोलन शुरू हुआ. संपूर्ण अस्पाल सन्नाटा में तब्दील है. गेट पर ताला लटका है. एक गर्भवती महिला टेम्पों पर लेटी है.आशा दीदी साथ में हैं.यहां से उसे अन्यत्र लिया जाएगा. 
bdo-co-promiss-to-pay
दानापुर, 29 जुलाई। दानापुर अनुमंडल के अनुमंडल पदाधिकारी ने बीडीओ देवेंद्र कुमार व सीओ अरूण कुमार ने सत्याग्रहियों को कहा कि दस दिनों के अंदर वेतन भुगतान कर दिया जाएगा. इस पर ध्यान नहीं दिया गया. बिहार चिकित्सा एवं जन -स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के बैनर तले दानापुर अनुमंडल अस्पताल के परिसर में सोमवार से 'हाजिरी बनाओं व सत्याग्रह पर बैठ जाओ' नामक अहिंसात्मक आंदोलन शुरू हुआ. संपूर्ण अस्पाल सन्नाटा में तब्दील है. गेट पर ताला लटका है. एक गर्भवती महिला टेम्पों पर लेटी है.आशा दीदी साथ में हैं.यहां से उसे अन्यत्र लिया जाएगा.  इस धरना में शामिल सत्यागहियों ने हाथों में प्ले कार्ड लेकर पुरजोर ढंग से नारा बुलंद कर रहे थे. छह माह से  शेष वेतन का भुगतान करना होगा.हर माह 2-3 तारीक को नियमित भुगतान करना होगा. आज से वेतन भुगतान की मांग को लेकर कार्य बहिष्कार करने लगे हैं बिहार चिकित्सा एवं जन -स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के महामंत्री रतीन्द्र कुमार यादव ने कहा कि हमलोग हाजिरी बनाकर कार्य बहिष्कार करने का आंदोलन कर रहे हैं. इसके पूर्व सभी संबंध अधिकारियों को चरणबद्ध आंदोलन की सूचना दी गयी है. इस समय फरवरी, अप्रैल,मई व जून माह समेत 6 माह का वेतन नहीं मिला हैं. बीच में मार्च का वेतन मिला है. 6 माह का वेतन व नियमित वेतन की मांग को लेकर चरणबद्ध आंदोलन के क्रम में 24  से  27 जुलाई तक काला बिल्ला लगाएंगे. और 29 जुलाई से हाजिरी बनाकर कार्य बहिष्कार करेंगे. बिहार चिकित्सा एवं जन -स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के जिला सचिव राजकुमार राम ने कहा है कि बिहार सरकार के द्वारा राशि आवंटित नहीं करने के कारण 'हुजूर' के राज्य में वेतन नहीं मिलने से भूखमरी का आलम है.वेतनभोगियों के परिवार में कोहराम मच गया है. आवंटन के अभाव में वेतनादि नहीं से महरूम चिकित्सक (20), जीएनएम(50), एक्स-रे ट्रेक्निशियन(5), ममता(3), सफाईकर्मी(7), पारा मेडिकल(10), फार्मेसिस्ट (5) आदि सैकड़ों की संख्या में कर्मी मिलकर धरना सत्याग्रह  कर रहे हैं.

धरना सत्याग्रह में बैठने वाले बेहाल   
राज्यकर्मियों का कहना है अन्य जगहों की तरह यहां भी बड़ा बाबू एरियर के नाम पर पांच हजार रू.डकार लेते हैं.बहुत जगहों में वेतन ऑन लाइन करने के एवज में प्रति कर्मी एक हजार रू.ले रहे हैं. काम के बदले पैसा लेने वालों पर कानूनी कार्रवाई करने की जरूरत है.नवनियुक्त एक्स-रे ट्रेक्निशियन उपेंद्र कुमार, सुनील कुमार आदि ने कहा कि 9 माह से वेतन नहीं मिल रहा है.

महादलितों के साथ अन्याय
दानापुर अनुमंडल अस्पताल में महादलितों के साथ अन्याय हो रहा है.महादलित अनीता देवी, देव रानी, रतन कुमार आदि सफाईकर्मियों ने कहा कि हमलोग 6 साल से कार्यशील हैं. रामपतिया देवी 7 साल से कार्यरत हैं. मगर स्थायीकरण नहीं किया जा रहा है.इस समय एकमुश्त 6 हजार रू.ही मिलता है. इतने से न वर्तमान और न ही भविष्य सवर रहा है. औरों की तरह ही 6माह से वेतन नहीं मिल रहा है.

यह पहली बार चिकित्सक भी धरना में शामिल
बिहार चिकित्सा एवं जन -स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के राज्य महामंत्री गजेंद्र प्रसाद ने कहा कि  पहली बार चिकित्सक भी धरना में शामिल होकर ' दुनिया के मजदूर हमसब साथ है नारा को सार्थक कर दिखाया है. डाक्टर अविनाश, डाक्टर अजय कुमार, डाक्टर वाई के शर्मा, डाक्टर मंजू नाथ धरना दिए.इनके अलावे कौशल किशोर, नीभा कुमारी, मनोरमा कुमारी, नरेंद्र कुमार सिंह आदि धरना दे रहे हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...